आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x
प्रश्नों पर प्रतिक्रिया दीजिये

Pure Bharat ko hame apna Ghar samjhna padega Tabhi Sachhta aayegi..

  •   Haa (0 वोट )
  •   Nhi (0 वोट )
  •   Pata Nhi (0 वोट )

लिखने के लिए सोच ते कैसे हैं

राकेश   |   13 अक्तूबर 2017

अनुसूचित एंव अनुसूचित जन जाति के सदस्यों को जाति प्रमाण पत्र वन वाने के लिये भारत के संविधान नुसार आवेदक केा कम से कम 1950 की पूर्व की स्थित दर्शान पडती है उदाहरण के लिये यदि केाई व्यक्ति किसी गंवा मे 20 साल से रहरहा है तो उसका जाति प्रमाणपत्र उस गंवा से नही वनेगा क्या संविधान मे ऐसा उपाय है जिससे उसे व्यकित का प्रमाणपत्र उसी गंवा से वन सके जंहा वो 20 साल से रहे रहा है

avanish   |   08 अक्तूबर 2017

manushy ke lanchhan kya hai.

हिंदी दिवस के अवसर पर मेरे उद्गार इन दोहों के माध्यम से प्रेषित हैं। डॉ महेन्द्र जैन हिन्दी हिन्दुस्तान की , भाषा एक महान काम काज इसमें करें देश चढ़े परवान। भाषण से हिन्दी नहीं कार्यालय में आज उन्नति का यह मंत्र है हिन्दी हो सरताज। भाषा बड़ी जहान में दिल के जोड़े तार हिंदी तो रग रग बसे स्वीकारें सब यार। राजकाज अरु नौकरी सब की भाषा एक हिंदी तो दिल से जुड़े समझ सके प्रत्येक। सरकारें गंभीर हों हिंदी के हित काज रोजगार शिक्षा मिले संकल्पित हों आज । विश्व शांति साहित्य की भाषा हिंदी जान विश्व पटल पर छायगी हिंदी सकल जहान । हिंदी दिवस की शुभकामनाओं सहित

  •   (1 वोट )
  •   (0 वोट )
  •   (0 वोट )
Vinay   |   06 अक्तूबर 2017

कैसे पियें हम शराब जैसे ही मैने शराब को हाथ लगाया जनाब शराब रोने लगा हमने पुछा क्या हुवा वो बोला लोग अपनी खुशियों मे अपने गम मे मुझे पिते हैं गलतियाँ वो करते हैं और बदनामी मे हम जीते हैं।

बिन तेरे हर शाम अधूरी लगती है, अब तो तू अरमान जरूरी लगती है, तेरे लिए फरियाद किया था रब से मैंने, तू मिली मेरी हर इबादत पूरी लगती है, बिन तेरे हर शाम अधूरी लगती है।।

जीवन जिनके लिए हैं। हर एक पल आनंद प्यार से जिए।

  •   (0 वोट )
  •   (0 वोट )
  •   (0 वोट )
वीरेंदर कुमार जैन


किसी की मुस्कुराहटों पे हो निसारकिसीका दर्द मिल सके तो ले उधारकिसीके वास्ते हो तेरे दिल में प्यारजीना इसी का नाम है