आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]
x
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
प्रश्नों पर प्रतिक्रिया दीजिये

में यह जनना चाहता हूँ के लोग इस्लाम को आतंखवाद का धर्म क्यों मानते हैं जबके इस्लाम ने कही भी आतंकवाद की शिक्षा नहीं दी गयी है, और बुरे लोग तो हर मज़हब में होते हैं सिर्फ लोगों को देख कर किसी मज़हब को बदनाम करना क्या सही है, कुछ सालों पहली दिल्ली में जो बलात्कार हुआ था उस बलात्कार को करने वाले सब हिन्दू थे तो किया इस का मतलब ये हुआ के हिन्दू धर्म बलात्कार की शिक्षा देता है कभी नहीं, ऐसे ही 8- 9 साल पहले नॉएडा में निठारी कांड हुआ था गरीब बच्चों को काट कर खाया जाता था जो ये घिनोना काम करता था वो हिन्दू था तो क्या इस का मतलब ये है के हिन्दू धर्म में गरीब बच्चों का मांस खाया जाता है नहीं ऐसा बिलकुल नहीं है हिन्दू धर्म इस की शिक्षा नहीं देता तो फिर कुछ आतंकवादियों की वजह से इस्लाम को आतंकवादी मज़हब क्यों मन जाता है, हिन्दू धर्म में भी महाभारत और रामायण में युद्ध की कहानिया मौजूद हैं, युद्ध तो हर काल में हुआ है और अगर कोई आज भी हमारे ऊपर हमला करेगा तो हमें भी उस का मुक़ाबला करना पड़ेगा तो किया ऐसी इस्तिथी में हम भी आतंकवादी होंगे

रवि कुमार गुप्ता
बुरा ना मानों दोस्त पर अभी तक के आंकड़े बताते हैं की अभी तक ज्यादा आतंकवादी मुसलमान हैं तो आरोप लगाने वाले कहते हैं 

'दंगल' की 'गीता' जायरा वसीम ने माफी मांगी, लिखा, 'खुद पर गर्व नहीं'। एक 16 साल की बच्ची ने अगर ऐसा लिखा है तो ये उसकी किस मनोदशा को दर्शाते हैं और क्या ये सही है ?

रवि कुमार गुप्ता
ऐसा उसने क्यूँ लिखा ये उसकी मानसिकता पर डिपेंड करता हैं 

अब तक इतने विडियो सामने आ चुके है की इस बारे मे ज़्यादा कुछ कहने की आवश्यकता नहीं , लेकिन जिन देश के जवानो पर हमारी सुरक्षा की ज़िम्मेदारी है , जिनके सम्मान मे हम सब बड़ी बड़ी बाते करते है आखिर उनके साथ ऐसा कब तक होता रहेगा और उनके हित मे कड़े कदम नहीं उठाए गए ?

रवि कुमार गुप्ता
हाँ, कुछ जगहों पर इस तरह की लापरवाही है.
  •   सुख पाने के लिये (2 वोट )
  •   अपना सम्मान बढ़ने के लिये (2 वोट )

प्रश्न १. मनुष्य जीवन का अंतिम लक्ष्य क्या है ?

  •   मोक्ष (3 वोट )
  •   मुक्ति (2 वोट )
प्रियंका शर्मा
मुक्ति हर बंधन से 

प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले दिनों काले धन व् जाली नोटों पर नियंत्रण करने के लिए नोटबंदी को लागू किया

जिसका सेक्युलर नेता जमकर विरोध कर रहे है, व् संसद की कारवाही को भी बाधित कर रहे है?

क्या नोटबंदी पर आप प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का समर्थन करते हैं ?

स्नेहा
हाँ.  बहुत ही सही कदम है.  देश की इतनी जनसँख्या को संभालना या किसी भी नीति को कार्यान्वित करना आसान नहीं है,  दिक्कते तो आएँगी परंतु एक बार की व्यवस्था हमेशा के लिए आसानी और देश की तरक्की का रास्ता बन ने की पूरी उम्मीद है मुझे.  आखिर मेट्रो स्टेशन बन ने पर सभी को 8 - 10 साल तक कष्ट हुआ अब सभी को लाभ है उस से.  देश को रिपेयर करना आसान नहीं.  हम सबको साथ देना चाहिए. 
सुनील अनुरागी

हाँ,जब सिनेमा घरों में राष्ट्रगान अनिवार्य हो ही गया है तो वहां सीसी कैमरे भी जरूर लगने चाहिए। ताकि पता चलता रहे कि कोई राष्ट्रगान का सम्मान करने में हिचक तो नहीं रहा है।


 अब हम ये भी देखेंगे कि खान बंधुओं की फिल्मों को मुस्लिम कैसे हिट करते हैं?

आप अपने विचार दें किसी से प्रभावीत हो कर जवाब ना दें. यह निवेदन है.

रवि कुमार
मेरे हिसाब से तो नही 
बिनय कुमार शुक्ल
इसके लिए खुद हिन्दी वाले ही जिम्मेदार  हैं