स्वतंत्रता

2019 के आम चुनाव के मुद्दे, क्या ‘‘स्थापित चुनावी मुद्दों से’’ हटकर हैं।

स्वतंत्रता प्राप्ति के पश्चात् वर्ष 2019 में देश का यह 17 वाँ आम चुनाव हो रहा है। प्रारंभ में स्वतंत्रता संग्राम में बढ़ चढ़ कर भाग लेने वाली पार्टी (सत्य से परे) एक मात्र कांग्रेस ही मानी जाती रही। वर्ष



1857 की क्रान्ति में दलित वीरांगना रणबीरी वाल्मीकि का योगदान

भारत देश के नागरिकों को अपने वीर सपूतों पर गर्व है, जिन्हों2ने देश की मर्यादा की रक्षा करते हुए अपना सर्वस्व लूटा दिया। इतिहास में ऐसे कई लाल हुए हैं, जिन्होंने अपनी जान से



आज भी सड़कों पर भीख मांगता है सुभाष चंद्र बोस के साथ देश की आजादी के लिए लड़ना वाला ये सिपाही

आज हम आज़ादी का मजा लेते हुए अपने घरों में बड़े-बड़े मुद्दों को बड़ी आसानी से बहस में उड़ा देते है, लेकिन कभी सोचा है कि जिन्होंने अपनी जान की परवाह ना करते हुए देश को आज़ाद कराया, उनमें से जो जिंदा हैं, वो किस हाल में हैं ?ये हैं झाँसी के रहने वाले श्रीपत जी, 93 साल से भी ज्यादा की उम्र पार कर चुके श्रीप



उल्टा सीधा

शीर्षक - उल्टा सीधा प्रस्तुत है उल्टा पर सीधा करके। जीवन में पूरी पूरी स्वतंत्रता है;जीवन में पूरी पूरी छूट है।हम स्वयं की ऐसी तैसी करते रहें; स्वयं की ऐसी की तैसी करते रहें;स्वयं की पूरी दुर्दशा करते रहें;इसकी भी पूरी पूरी छूट है;हम इसका उल्टा भी कर सकते हैं, यहां इ



कहां से आता हैं लाल किले पर फहराए जाने वाला तिरंगा? जानिए इससे जुड़े कुछ खास तथ्य !!!

भारत के 72वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पूरा देश आजादी के जश्न में डूबा हुआ है. कश्मीर से लेकर कन्या कुमारी तक देश के हर एक कोने में आजादी के जश्न की तैयारियां की जा रही हैं. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सबसे खास होता है देश की राजधानी लाल किले पर मनाए जाने वाला जश्न और प्



स्वतंत्र भारत मेरा भारत

वीरों को शत्-शत् नमन करते हुए समस्त देशवासियों को 72वें स्वाधीनता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ ! ***स्वतंत्र भारत… मेरा भारत*** लेख स्वतंत्र है भारत देश हमारा इस मिट्टी के हम वासी हैं । भारत देश की शान की खातिर हर राही के हम साथी हैं । सीमा की रक्षा पर जो वीर तैनात हैं भारतवासी हैं । उनके हर कतरे



स्वतंत्रता दिवसः देखिए देश में एक रेलवे स्टेशन, जहां जाने के लिए चाहिए वीजा और पासपोर्ट

72वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हम आपको बता रहे हैं, देश में मौजूद एक ऐसे रेलवे स्टेशन के बारे में जिसके अंदर जाने के लिए पासपोर्ट और वीजा की जरूरत होती है।सुनने में बड़ा अजीब लगता है न, कि विदेश जाने के लिए पासपोर्ट और वीजा चाहिए और यहां रेलवे स्टेशन में जाने के लिए, पर



स्‍वतंत्रता दिवस: जानिए उन दो शख्सियतों को, जिन्होंने किया था भारत-पाक के बीच संपत्तियों का बंटवारा

नई दिल्ली : भारत को लंबे संघर्ष के बाद अंग्रेजों की गुलामी से मुक्ति मिलने जा रही थी. स्वतंत्रता की तारीख (Independence Day) मुकर्रर हो गई थी. देश में हर तरफ जश्न का माहौल था, लेकिन जैसे-जैसे यह तारीख (15 अगस्त) नजदीक आती जा रही थी दिल्ली के वायसराय हाउस में माउंटबेटेन क



जानिए, उस शख्स के बारे में जो पाकिस्तान से लाया था कटी लाशों से भरी ट्रेन

1947 का गदर वो खौफनाक मंजर था, जिसे भूलना भी चाहो तो मुमकिन नहीं। 72वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जानिए उस शख्स के बारे में जो पाकिस्तान से कटी लाशों से भरी ट्रेन लेकर आया था।स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बुजुर्ग बाल कृष्ण गुप्ता व सोहन सिंह



व्हाइट हाउस जुलाई 4 वें कॉन्सर्ट में शामिल है ... कौन?

4 जुलाई, 2013 फ़ाइल फोटो में, व्हाइट हाउस वाशिंगटन में व्हाइट हाउस के दक्षिण लॉन पर जुलाई के उत्सव के चौथे भाग की तैयारी में सजाया गया है। (एपी फोटो / मैनुअल बाल्स सेनेटा)4 जुलाई, 2013 फ़ाइल फोटो में, व्हाइट हाउस वाशिंगटन में व्हाइट हाउस के दक्षिण लॉन पर जुलाई के उत्सव के चौथे भाग की तैयारी में सजाय



व्हाइट हाउस जुलाई 4 वें कॉन्सर्ट में शामिल है ... कौन?

4 जुलाई, 2013 फ़ाइल फोटो में, व्हाइट हाउस वाशिंगटन में व्हाइट हाउस के दक्षिण लॉन पर जुलाई के उत्सव के चौथे भाग की तैयारी में सजाया गया है। (एपी फोटो / मैनुअल बाल्स सेनेटा)4 जुलाई, 2013 फ़ाइल फोटो में, व्हाइट हाउस वाशिंगटन में व्हाइट हाउस के दक्षिण लॉन पर जुलाई के उत्सव के चौथे भाग की तैयारी में सजाय



वो आखिरी लोकल ट्रैन - भाग 2

पिछले भाग में एक साधारण सा व्यक्ति नरेंद्र अपने घर जाने के लिए ट्रैन पकड़ता है लेकिन जब वो उठता है तब वह अतीत के नरसंहार को सामने पाता है जो अंग्रेज कर रहे थे| वो चार अंग्रेजों को मार कर नरसंहार को रोक देता है लेकिन बेहोश होते-होते बागियों के हाथ लग ज



वन्दे मातरम्

स्वतंत्रता दिवस पर आप सभी को हार्दिक शुभकामनाये |



"अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता कहाँ तक है?"

"अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता कहाँ तक है?" अति उत्तम, अति गंभीर व चिंतनशील विषय है "अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता कहाँ तक"। वाणी, प्रकृतिप्रदत्त एक ऐसा अनमोल खजाना है जिससे मानव सहित हर प्राणी अपने मन की भवनाओं को व्यक्त करता है। जन्म से ही इसका प्रादुर्भाव रोने से शुरू होता है औ



"आजाद" की शहादत के बाद उनके परिवार का हुआ ये हश्र

चंद्रशेखर " आजाद " की शहादत के बाद उनके परिवार का क्या हश्र हुआ उसे सुनकर आपकी आँखे नम हो जाऐंगीभारत माता के अमर बलिदानी सपूत चंद्रशेखर आज़ाद और उनकी माता की पुण्य स्मृतियों के साथ इस कहानी  का जन्म हुआ ! यह कहानी आजाद की शहादत के बाद जन्मी ! यह कहानी हम भारतीयों की कहानी कहती है ! सच की पृष्ठभूमि



कामागाटा मारू घटना

पिछले दिनों 18 मई 2016 को कनाडा के प्रधान मंत्री ने 1914 की कामागाटा मारू घटना के लिए अपनी सरकार की ओर से माफ़ी मांगीकोमागटा मारू,बाबा गुरदित्त सिंह,जहाज, वैनकूवर,कनाडा, Sketches from Life: कामागाटा मारू घटना



हां ! हमनें गांधी को मार दिया—कविता

हां ! हमनें गांधी को मारा दियाक्‍योंकि वह करता था आदर्श की बातें?क्‍योंकि वह चलता था सचाई-नैतिकता की राह परउसकी दी हुई आजादी हमें नहीं भाई,हम आजादी नहीं चाहते थेहम चाहते थे स्वतंत्रता के नाम परअराजकता एक अव्‍यवस्‍थाजो आजादी आज हम ढो रहे हैवो नहीं है गांधी के सपनों की आजादीबदला इस इस आजादी से कुछ भी



Arsh

अखंडता को खंडित कर रहे,हैं जाति,धर्म का द्वेष दिलों में भर रहे|ये पाखंडी देशद्रोही हैं,सत्ता की लालच में लड़ रहे|मिल रहा है मौन समर्थन देश के नेताओं का कुछ,हा ! हो रही है हत्या देश के अरमानों की, है दुःख।अभी हुआ है उजाला सूरज को चढ़ लेने दो,भारत को मत बांटो विश्व गुरु तो बन लेने दो |खुदगर्जी में जो म



20 मार्च 2015

कलाकार की स्वतंत्रता

ये सच है कि कलाकार स्वतंत्रता की ज़मीन परही काम करता है उसके विचारों कि स्वतंत्रता ही उसकी वोजादुई तूलिका होती है जिसके माध्यम से वो अनेकानेक रचनाओं में रंग भरता है. कलाकार स्वतंत्र नहीं होगा तोकिसी भी नयी रचना की सम्भावना भी नहीं रहेगी. विचारों कि जितनी स्वतंत्रता होती है, कल्पना कि उड़ान भी उतनी ही



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x