आजादी



आजादी

आजादी दशक पर दशक बीत गये विकसित कितना हो पाये? लोकतंत्रीय गणराज्य में गण कितना स्वाधीन हो पाये? कागजों में अंकित वृद्धोत्तरी कितनी आह्लाद या खुशी देती? फन फैलाये बैठी सत्ता लोलुपता क्षुद्र स्वार्थों में वशीभूत हो अखंड देश को खंडित करने गौण मानसिकता उत्तरदायी नहीं? प्रतिवर्ष राष्ट्र पर्व पर परंपराग



हक न सही जीने की आजादी दो।

हक न सही जीने की आजादी दो।देश की कोहनूर है बेटियाँ, इन्हें चुराया नही जाता।घर की शान है बेटियाँ बचाया और पढ़ाया जाता।वक्त आने पर बेटी किसी और के लिए सजाई जाती।एक और दुनियाँ बसाने के लिए दुल्हन बनाई जाती ।चीख़-चित्कार के झमेलों में क्यो फसाई जाती है बेटीयाँ?नूर और हूर होने के बावजूद क्यो छेड़ी जाती है ब



Chandrashekhar "ajad"

आध्यात्मिक जीवनसामाजिक जीवनजीवन शैलीGamesTechnologyDownloadSelect Here Home आध्यात्मिक जीवन- सामाजिक जीवन - सामाजिक जीवन1 - सामाजिक जीवन2



आजादी आजादी किससे आजादी कैसी आजादी

आजादी आजादी किससे आजादी कैसी आजादी ?डॉ शोभा भारद्वाज 15 अगस्त 1947 को आजाद भारत मेंतिरंगा फहराया गया था वतन आजाद हुआ था फिर आजादी के नारे क्यों ? इंकलाब ज़िंदाबादक्यों? कैसी आजादी चाहिए? क्या पड़ोसी देश चीन या पाकिस्तान जैसी? या 56 मुस्लिमदेशों जैसी वहाँ किसी को नागरि



अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता? दंगा धरना प्रदर्शन ,सड़क बंद मैनेजमेंट गुरुओं की कारस्तानी का एक नमूना शाहीन बाग़

अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता ? दंगा ,धरना प्रदर्शन सड़क बंद मैनेजमेंट गुरुओं की कारस्तानी काएक नमूना शाहीन बाग़ डॉ शोभा भारद्वाज देश विरोधी नारे , गांधी जी,अम्बेडकर के चित्र संविधान की कापी दिखाते,कभी -कभी राष्ट्रीय गान का ड्रामा सब भारत के गौरव तिरंगे की आड़ में ?



स्वर्गीय सुभाष चन्द्र बोस ,युवा शक्ति के प्रेरणादायक नेता जी

स्वर्गीयसुभाष चन्द्र बोस युवा शक्ति के प्रेरणा दायक नेता जी डॉ शोभाभारद्वाज सिंघापुर में मेरी बेटी का घर टाउन हाल के पास हैमैं टाउन हाल जाने के लिए उत्सुक थी बेटी मुझे दिखाने के लिये नन्हीं बेटी को लपेट कर हम टाउन हाल पहुंचेवहाँ वृद्ध चीनी इंचार्ज ने चश्में से हमें घूरते हुए क्लास ले ली बच्ची कित



अभिव्यक्ति की आजादी का अर्थ ये तो नहीं......

<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:SaveIfXMLInvalid>false</w:SaveIfXMLInvalid> <w:IgnoreMixedContent>false</w:IgnoreMixedC



15 August: भारत के अलावा ये 4 देश भी मनाते हैं आजादी का जश्न

आजादी कौन नहीं चाहता....एक पक्षी भी पिंजड़े में फड़फड़ाता है क्योंकि उसे आजादी चाहिए होती है। जब बकरे को काटने के लिए ले जाते हैं तब भी आजादी की चाहत लिए बकरा चिल्लाता रहता है क्योंकि हम सभी जानते हैं कि आजादी है तो जीवन है वरना इंसान घुटने लगता है। मगर आज से करीब 73 साल पहले भारत देश गुलाम था अंग्र



पीएम मोदी ने कहा, हम मक्खन पर लकीर नहीं, पत्थर पर लकीर खींचने वाले हैं, पढ़ें भाषण की 10 खास बातें

देश के 72वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आज लालकिले पर आयोजित मुख्य समारोह में राजनीतिक दलों के प्रमुख नेताओं, सरकार के मंत्रियों, सेना के शीर्ष अधिकारियों, राजनयिकों और दूसरे क्षेत्रों के प्रमुख लोगों ने शिकरत की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लालकिले की प्राचीर से संबोधन



आजादी: राम प्रसाद बिस्मिल

आजादी: राम प्रसाद बिस्मिलइलाही ख़ैर! वो हरदम नई बेदाद करते हैं,हमें तोहमत लगाते हैं, जो हम फ़रियाद करते हैंकभी आज़ाद करते हैं, कभी बेदाद करते हैंमगर इस पर भी हम सौ जी से उनको याद करते हैंअसीराने-क़फ़स से काश, यह सैयाद कह देतारहो आज़ाद होकर, हम तुम्हें आज़ाद करते हैंरहा करता है अहले-ग़म को क्या-क्या



आजादी: राम प्रसाद बिस्मिल

आजादी: राम प्रसाद बिस्मिलइलाही ख़ैर! वो हरदम नई बेदाद करते हैं,हमें तोहमत लगाते हैं, जो हम फ़रियाद करते हैंकभी आज़ाद करते हैं, कभी बेदाद करते हैंमगर इस पर भी हम सौ जी से उनको याद करते हैंअसीराने-क़फ़स से काश, यह सैयाद कह देतारहो आज़ाद होकर, हम तुम्हें आज़ाद करते हैंरहा करता है अहले-ग़म को क्या-क्या



ये हैं भारत की 26 ऐसी दुर्लभ तस्वीरें, जो आपको इतिहास की सुनहरी राह पर ले जाएंगी

तस्वीरें इतिहास का आईना होती हैं. इन पर नज़र पड़ते ही यादों का एक ऐसा झरोखा सामने आता है, जो हमें किसी न किसी की यादों में ले ही जाता है. आज़ादी के पहले की भारत की कई तस्वीरें हम सब ने देखी हैं, लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसी तस्वीरों से रू-ब-रू करवाते हैं, जो आपने इससे पहले क



YouTube पर ‘जन गण मन’ के इस वीडियो को सबसे ज़्यादा बार देखा गया है, और देखने की वजह ख़ूबसूरत है

किसी भी देश के लिए राष्ट्रगान ही उसकी असली पहचान है. हर भारतीय के दिल में जितना सम्मान अपने तिरंगे के लिए है, उतना ही राष्ट्रगान के लिए भी है. आज से 71 साल पहले देश को अंग्रेज़ों की गुलामी से आजादी मिली थी और 15 अगस्त 1947 को पहली बार हमने आज़ाद भारत में अपना राष्ट्रगान, 'ज



क्या भारत सच में आजाद देश है

नमस्कार मित्रों मैं जानना चाहता हूं की अंग्रेजो ने सच में आजादी दी है । या सिर्फ हमें धोखा दिया गया है । क्योंकि आज जो भी हमारा कानून है वह सब अंग्रेजों का बनाया हुआ है भारत सरकार में हू बहू उसी को अपना कानून बना दिया है । आज भी ब्रिटेन पार्लियामेंट के द्वारा भारत सरकार को



वो आखिरी लोकल ट्रैन - भाग 2

पिछले भाग में एक साधारण सा व्यक्ति नरेंद्र अपने घर जाने के लिए ट्रैन पकड़ता है लेकिन जब वो उठता है तब वह अतीत के नरसंहार को सामने पाता है जो अंग्रेज कर रहे थे| वो चार अंग्रेजों को मार कर नरसंहार को रोक देता है लेकिन बेहोश होते-होते बागियों के हाथ लग ज



आजादी के 70 वर्ष

[ ...भूतकाल को कोसने के बदले भविष्य सुधारें... ]“बीत गई, वह बात गई ।" भूतकाल को कोसना और दोष देना बंद करके, उससे सबक लेकर भविष्य के निर्माण हेतु ध्य



आजादी आन्दोलन के विप्लवी योद्धा :भगतसिंह

" आजादी आन्दोलन के विप्लवी योद्धा :भगतसिंह " शहीद -ए -आजम भगतसिंह का जीवन संघर्ष एक मिसाल है। सिर्फ 23 वर्ष की अवस्था में शहीद हुए भगतसिंह ने शोषण पर टिकी व्यवस्था को बदलने के लिए स्वयं को अर्पित कर



मैं वापिस आऊंगा - सूरज बड़त्या

मैं वापिस आऊंगा - सूरज बड़त्या जब समूची कायनातऔर पूरी सयानात की फ़ौजखाकी निक्कर बदल पेंट पहन आपकी खिलाफत को उठ-बैठ करती-फिरती होअफगानी-फ़रमानी फिजाओं के जंगल मेंभेडिये मनु-माफिक दहाड़ी-हुंकार भरे....आदमखोर आत्माएं, इंसानी शक्लों में सरे-राह, क़त्ल-गाह खोद रहे होंसुनहले सपनों की केसरिया-दरियाबाजू खोल बुला



70 साल आजादी, जरा याद करो कुर्बानी

प्रश्न-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मध्य प्रदेश राज्य के किस स्थान पर ‘70 साल आजादी, जरा याद करो कुर्बानी’ अभियान का शुभारंभ किया गया?प्रश्न-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मध्य प्रदेश राज्य के किस स्थान पर ‘70 साल आजादी, जरा याद करो कुर्बानी’ अभियान का शुभारंभ किया गया?(a) भाबरा(b) गौरैया(c) ज



आजादी के 71 साल

हमारा स्वतंत्रता दिवस आने वाला है हमारे मुल्क को आजाद हुए 71 वर्ष हो जाएंगे। इन 71 सालों में आज हम कहाँ है आइए जरा इंडिया भारत और हिंदूस्तान के नजरिए से समझने का प्रयास करते हैं।इन 71 सालों में इंडिया ने उच्च वर्ग के समान खुब तरक्की की



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x