आर्य

1


महिलाओं के प्रति सम्मान मुझे बहुत बोल्ड वेब सीरीज़ करने को रोकता है: मानित जौरा | आई डब्लयू एम बज

सुपर हिट ज़ी टीवी के शो कुंडली भाग्य के ऋषभ लूथरा के नाम से मशहूर मानित जौरा फेमिनिस्ट को मानते हैं। “मैं महिलाओं से प्यार और उनका सम्मान करता हूं। और मैं सही मायने में इसका मतलब जानता हूंऔर सिर्फ ब्राउनी अंक जुटाने के लिए ऐसा नहीं कह रहा हूं। ” “महिलाएं केवल प्यार और सम्



मुझे शर्लिन का किरदार निभाने का कोई अफसोस नहीं है: रूही चतुर्वेदी | आई डब्लयू एम बज

रूही चतुर्वेदी ने ज़ी टीवी के लोकप्रिय शो कुंडली भाग्य में शर्लिन के नकारात्मक व्यक्तित्व के लिए उनके द्वारा लिए गए नफरत भरे संदेशों को जोरदार तरीके से लिया है। शर्लिन के लूथरा बहू बनने के सफर के बारे में रूही कहती है, “अब वह लूथरा के घर में बहू है, अब शर्लिन के लिए लूथरा



कुंडली भाग्य या ये रिश्ते हैं प्यार के: बेस्ट स्पिन ऑफ शो | आई डब्लयू एम बज

आप उन सभी सोप ओपेरा प्रेमियों से पूछ सकते हैं जो एक दर्जन से अधिक शो देखते हैं और यदि उनका कोई पसंदीदा शो है, तो वे हर रोज उनका अनुसरण करते हैं, और अगर यह बताने के लिए पूरी तरह से कठिन विकल्प है, तो निश्चित रूप से उनके मन में एक जवाब होगा।हमेशा ऐसा होता है कि एक दैनिक शो



कुंडली भाग्य: करण और प्रीता का लव कन्फेशन | आई डब्लयू एम बज

बालाजी टेलीफिल्म्स द्वारा निर्मित लोकप्रिय ज़ी टीवी शो कुंडली भाग्य उन समस्याओं को देख रहा है, जो प्रीता (श्रद्धा आर्य) को मिल रही हैं, जिसमें शर्लिन (रूही चतुर्वेदी) को बेनकाब करने के उनके प्रयासों के साथ। शर्लिन ने करण (धीरज धूपर) के नज़रों में प्रीता बुरा बनाने के लिए



यह चीजे खायेगें तो उतर जाएगा आंखो का चश्मा, जाने कैसे

Third party image referenceआजकल हर व्यक्ति आंखो की रोशनी को लेकर चिंतित है । आवश्यकता से अधिक दिमाग की मेहनत, तेज रोशनी वाली वस्तुओं को ज्यादा निकट से देखना, जरूरत से अधिक मोबाइल का प्रयोग और मस्तिष्क व स्नायु की कमजोरी से भी आंखों की रोशनी जल्दी कम हो जाती है । लेकिन प्रकृति में अपने आप से बहुत सी



ऐसी बूटी जिसको लोग हाथ लगाने से घबराते हैं, जाने इसके औषधीय फायदे एवं अन्य उपयोग

Third party image referenceसर्दियों के दिनों में ठंड से बचने के लिए हर कोई प्रयास करता है । ठंड से बचाव के लिए लोग गर्म कपड़े और गर्म खाने का अधिक उपयोग करते है, लेकिन ठंड नही मिटती । लेकिन क्या आपने कभी ऐसी बूटी देखी है, जो आपको सर्दी में भी गर्मी का अहसास कराती हो । और साथ ही कई प्रकार के रोगों को



सैफ की लाडली कर रहीं हैं इस बॉलीवुड अभिनेता को डेट

आजकल बॉलीवुड में स्टार किड्स की बहार छायी हुई हैं। बहुत सारे स्टार किड्स पर्दे पर अपने दमदार डेब्यू के लिए तैयार है। सैफ की लाडली सारा अली खान अपनी दो फिल्मों के साथ पर्दे पर धमाल मचाने के लिए तैयार हैं। आपको बता दें पहले इस बात को लेकर कन्फ्यूजन थी की सारा की पहली फिल्म केदारनाथ होगी या फिर सिंबा,



छूना है आसमान को - आर्यन

Chhoona Hai Aasman Ko Lyrics of Aryan (2006) is composed and written by Anand Raj Anand, its is sung by Anand Raj Anand and Pamela Jain.आर्यन (Aryan )तेरी टे मैं!छूना है आसमान कोछूना है आसमान कोहो.. दिखाना है इस जहाँ कोहे मुड़ के न ताकनापीछे न हटनामंज़िल को पा के रहेंगे झुका केतेवर हैं अब जुदा सेछूना



एक लुक एक लुक - आर्यन (२००६)

आर्यन (2006) का एक लुक एक लुक गीत आनंद राज आनंद द्वारा लिखा गया है, यह आनंद राज आनंद द्वारा रचित है और आनंद राज आनंद और पूनम खुबानी द्वारा गाया गया है।आर्यन (Aryan )एक लुकहाय एक लुकतू मेरा सुरूर हैो चक दे..हो सोनिया वे महिया मेरा दिल ले लेकुछ न माँगूँ दिल दे बदले दिल दे देहो सोनिया वे महिया मेरा दिल



जानेमन - आर्यन

आर्यन से जानमान गीत: गीत सोनू निगम और श्रेया घोषाल ने गाया है, जिन्होंने संगीतकार आनंद राज आनंद द्वारा एक अच्छी रचना की खूबसूरती से गाया। जानमैन के गीत शानदार हैं।आर्यन (Aryan )सजन घर आना थासजन घर आये हैंसजन घर आना थासजन घर आये हैंपिया मन भाना थापिया मन भाये हैहर ख़ुशी है अब तुम्हारीमुझे दे दो ग़मजाने



आर्यन (Aryan )

'आर्यन' 2006 की एक हिंदी फिल्म है जिसमें स्नेहा उल्लाल, पुनीत इस्सार, इंदर कुमार, फरीदा जलाल, सतीश शाह, सुप्रिया कर्णिक, कपिल देव, गुलशन ग्रोवर, सुवेद लोहिया, अहसास चन्ना, फरीदीन खान और सोहेल खान प्रमुख भूमिका निभाते हैं। हमारे पास आर्यन के 3 गाने हैं आनंद राज आनंद ने अपना संगीत बना लिया है आनंद राज



भारत में ईसाई और मुसलमानों की हो रही हिंसा रोकने के लिए अमेरिका देगा पांच लाख डॉलर : आजाद भारत

क्या हिंदुत्व खतरे में है?#सनातन धर्म के हिन्दू समाज ने #विश्व को #शांति का पाठ पढ़ाया आज उनको ही हिंसक घोषित किया जा रहा है और #हिदुत्व को #मिटाने का #षडयंत्र चल रहा है ।हिन्दुस्तान में ही हिन्दू पराये होते जा रहे हैं, उनकी कहीं भी सुनवाई



पण्डित महेंद्र पाल जी के यथायोग्य वर्ताव का विचित्र तर्क गालियों की बारिश से - Aryamantavya

यथायोग्य वर्ताव का विचित्र तर्क: पण्डित महेंद्र पाल जी ने स्वयं रचित निरर्थक विवाद और अपशब्दों की श्रंखला को आगे बढ़ाते हुए एक विचित्र तर्क दिया है कि अपशब्द उन्होंने इसलिए प्रयोग किये और वो निरंतर कर रहे हैं क्योंकि वो शिष्य ऋषि दयानन्द के



गाय पालिये कुत्ते नही : ठलुआ क्लब

मित्रो गाय आवारा नहीं है ,आवारा वो होता है जिसका खुद का घर होफिर भी बाहर घूमता हो , गायों के हिस्से की 3 करोड़ 32 लाख 50 हजार एकड़ ज़मीन गोचर भूमि भूमि पिछले कुछ वर्षो मे भ्रष्ट नेताओ और अधिकारियों ,ग्राम पंचायतों द्वारा हड़प ली गई उस पर नाजा



ऐसा था हमारा प्राचीन भारत, इन देशों तक फैली थी हमारी संस्कृति, हर सच्चा भारतवासी जरूर शेयर करें...

भारत बहुत प्राचीन देश है। विविधताओं से भरे इस देश में आज बहुत से धर्म, संस्कृतियां और लोग हैं। आज हम जैसा भारत देखते हैं अतीत में भारत ऐसा नहीं था भारत बहुत विशाल देश हुआ करता था। ईरान से इंडोनेशिया तक सारा हिन्दुस्थान ही था। समय के साथ-साथ भारत के टुकड़े होते चले गये जिस





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x