आसान

चुनाव जीतने के हथकंडे

चुनाव जीतने के हथकंडे डॉ शोभा भारद्वाज लोकसभा केचुनावो का सीजन चल रहा है पहला चरण समाप्त हो गया अब दूसरे चरण का चुनाव हो रहा है| चुनाव जीतने केतरीके अब पहले जैसे नहीं रहे चुनाव आयोग की कोशिश रही है निष्पक्ष रूप सेचुनाव कराये जा सकें ,चुनावों में धन का अपव्यय न हो योग्य व्यक्तिचुनाव लड़ने



वजन कम करने के 5 सबसे आसान उपाय || Vajan Kam Karne Ke Upay

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग अपनी सेहत का ख्याल नहीं रख पा रहे हैं और ऐसे में लोगों को बीमारियां या वजन बढ़ने की शिकायत होती है. जो लोग घर से दूर अकेले रहते हैं या फिर जिनका दिनभर बैठने का काम है उनमें वजन बढ़ने और पेट निकलने की शिकायत अक्सर हो जाती है. ऐसा इसलिए



घर बैठे इन फैट कटर ड्रिंक की मदद से कम करें मोटापा

महामारी की तरह फैलता मोटापा आज हर घर को अपनी चपेट में ले चुका है। आमतौर पर लोग इसे शिकस्त देने के लिए कई तरीके अपनाते हैं लेकिन अधिकतर उनके हाथ निराशा ही लगती है। ऐसे में अगर आप घर पर रहकर ही वजन कम weight loss करने की चाह रखते हैं तो एक्सरसाइज के साथ-साथ भोजन पर भी ध



गर्मी के दौरान गर्भावस्था में देखभाल के लिए १० आसान टिप्स

गर्मियों के मौसम के दौरान गर्भावस्था में देखभाल कैसे करें? बधाई हो ... आप सही जगह पर हैं !!! इस पोस्ट के द्वारा आप जान पाएंगे गर्मी में अपनी और बेबी बम्प की द



डाॅक्टर बनने की राह आसान बनाने हेतु एक सार्वजनिक अपील

माउंटेन मैन के नाम से विख्यात दशरथ मांझी को आज दुनिया भर के लोग जानते हैं। वे बिहार जिले के गहलौर गांव के एक गरीब मजदूर थे, जिन्होंने अकेले अपनी दृ़ढ़ इच्छा शक्ति के बूते अत्री व वजीरगंज की 55 किलोमीटर की लम्बी दूरी को 22 वर्ष के कठोर परिश्



3 - Click करके कैसे आप या आपके बच्चे FREE Trial Classes ले सकते हैं - TutStu पे

FREE Online Tutoring Sessions, also called Trial Classes, is just what it literally means. A New student on TutStu, who is looking for tutors, can take a trial class with any tutor of their choice.Almost every Tutor offer Trial Classes. It’s an opportunity for new student



मैने सिगरेट कैसे छोडी

मैने सिगरेट कैसे छोडी मैं सिगरेट का आदि था ओर एक दिन मे तीस सिगरेट पीता था| तकरबिन 40 साल पुरानी मेरी ये आदत थी| मेरी पत्नी ओर बेटा बेटियाँ सभी को नेरी इस आदत से परेशानी थी ओर वो सभी मुझे इस व्यसन को छोड़ने का आग्रह करते थे परुन्तु मैं एक कान से सुन कर दूसरे कान से निकाल देता था|यहाँ तक की मेरी पत्



सफ़र आसान हो जाए

गुमनाम राहो पर एक नयी पहचान हो जाए चलो कुछ दूर साथ तो, सफ़र आसान हो जाए|| होड़ मची है मिटाने को इंसानियत के निशान रुक जाओ इससे पहले, ज़हां शमशान हो जाए|| वक़्त है, थाम लो, रिश्तो की बागडोर आज ऐसा ना हो कि कल, भाई मेहमान हो जाए|| इंसान हो इंसानियत के हक अदा कर दो



अनजान लगता है

कवि:- शिवदत्त श्रोत्रियअब इन राहो पर सफ़र आसान लगता हैजो गुमनाम है कही वही पहचान लगता है||जिस शहर मे तुम्हारे साथ उम्रे गुज़ारी थीकुछ दिन से मुझको ये अनजान लगता है||कपड़ो से दूर से उसकी अमीरी झलकती हैमगर चेहरे से वो भी बड़ा परेशान लगता है||मुझको देख कर भी तू अनदेखा मत करतेरा मुस्करा देना भी अब एहसान



अब शृंगार रहने दो|

कवि:- शिवदत्त श्रोत्रियजैसी हो वैसी चली आओअब शृंगार रहने दो|अगर  माँग हे सीधीया फिर जुल्फे है उल्झीना करो जतन इतनासमय जाए लगे सुलझीदौड़ी चली आओ तुम,ज़ुल्फो को बिखरा रहने दोजैसी हो वैसी चली आओअब शृंगार रहने दो|कुछ सोई नही तुमआधी जागी चली आओसुनकर मेरी आवाज़ऐसे भागी चली आओजल्दी मे अगर छूटे कोई गहना,या



शिक्षकों का ‘अकाल’ फिर भी शिक्षा का अधिकार

गिरिजा नंद झासबके लिए जरूरी होनी चाहिए शिक्षा। समझने में लगे साठ साल से ज़्यादा का वक़्त। मगर, मुसीबत अब भी अपनी जगह बरकरार। वज़ह, इन साठ सालों में हमने लोगों को पढ़ाया ही कितना कि पढ़ाने वाले को तैयार कर पाते। एक तो सबको शिक्षा मिली नहीं। जिन्हें मिली, उसमें से ज़्यादातर नाम पता लिखने के काबिल मात्





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x