"चिन्तन"

एक बेटी इतनी बड़ी हो सकती है की वह आपकी गोद में ना समाये, पर वह इतनी बड़ी कभी नहीं होती की आपके दिल में ना समा सके । एक बेटी, अतीत की खुशनुमा यादें होती है, वर्तमान पलों का आनंद और भविष्य की आशा और उम्मीद होती है । “अज्ञात” एक बेटी को जन्



अदालत बलात्कार लीड सजा

16:22 HRS ISTबलात्कार, हत्या के मामले में दोषी को मृत्युदंड की सजा पर उच्च न्यायालय की भी मुहर जबलपुर, नौ अगस्त (भाषा) मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने चार वर्षीय एक बालिका से बलात्कार और उसकी हत्या के लिए एक व्यक्ति को सुनाई गई मौत की सजा को बरकरार रखते हुए कहा है, ‘‘दोषी जैसे व्यक्तियों से मानवता



हरियाणा में गर्भवती बकरी से 8 लोगों ने किया गैंगरेप! एक दिन बाद मौत

हरियाणा: मेवाट में 8 लोगों ने कथित तौर पर बलात्कार के बाद गर्भवती बकरी की मृत्यु हो गई। बकरी के मालिक (तस्वीर में) ने 26 जुलाई को पुलिस शिकायत दर्ज कराई। पुलिस कहती है, 'सभी आरोपी फरार हैं। मृत बकरी का मेडिकल आयोजित किया जाएगा। जांच चल रही है 'pic.twitter.com/Ejyc6u56WTएक व्यक्ति, असलू ने 26 जुलाई क



एससी ने दिल्ली गिरोह बलात्कार के दोषी मौत की सजा के खिलाफ याचिका की समीक्षा को खारिज कर दिया

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को 2012 के दिल्ली गिरोह बलात्कार के अभियुक्तों द्वारा दायर याचिकाओं को खारिज कर दिया, ताकि उन्हें दिए गए मौत की सजा की समीक्षा की जा सके।भारत के मुख्य न्यायाधीश डीपक मिश्रा और जस्टिस आर। बनुमाथी और अशोक भूषण के एक विशेष खंडपीठ ने इस मामले पर अपने मामले में एक रिलायंस के लिए अ



लेख-- बाबा न राम के हुए , न रहीम के

आज की नजाकत में धर्म पर हावी विज्ञान है। फ़िर भी धर्मांधता का चश्मा समाज पर चढ़ा है। सत्ता का तख़्त सजाती जनमानस है। जनमानस और सियासी रणबाकुरों की फ़ौज लिपटी एक बाबा के चरणों में है। आज देश में न्यू इंडिया का तासा पीटा जा रहा है, क्या न्यू इंडिया में जनमानस धर्मांधता का दामन ओढ़कर और सत्ता बाबाओं की जूती



निर्भया उर्फ़ ज्योति

16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में निर्भया के साथ हुए गैंगरेप के चारों आरोपियों की फांसी की सजा को बरकरार में सुप्रीम कोर्ट ने वो 10आधार बताए जिसकी वजह से चारो दोषियों को फांसी की सजा दी गई। 1. सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि चारों आरोपियों ने निर्भया के साथ जिस तरह का बर



जाने क्या हैं वैवाहिक बलात्कार !

सुजीत कुमार--महिलाओं के जिस्म के साथ किया जाने वाला सबसे जघन्य अपराध बलात्कार कहलता है। ये पीड़ित को न केवल शारीरिक रुप से बल्कि मानसिक रुप से भी उसे नष्ट कर देता है। एक महिला के शरीर के साथ बिना उसकी मर्जी के यौन सुख के लिये दुराचार करना या लगातार ये घिनौना कार्य करना न केवल वैयक्तिक गरिमा का बल्कि



एक परिचय - आज की महिला

मित्रो मै एक छोटा प्रयास कर रहा हूँ , शायद कोई त्रुटि या भरी शब्द मिले तो .....माफ करना । इसी आशा और विश्वास के साथ मै अपनी बात शुरू करता हूँ। महिला , स्त्री , नारी और अंग्रेजी में " woman " मानव संस्कृति की एक महत्वपूर्ण अंग है ।



हाईवे रेप-मामले में अखिलेश-प्रशासन का नाकारापन एवं समाज की चुप्पी! Crime in Uttar Pradesh

कई बार एक सीधा प्रश्न मन में उठता है कि अपराध की रोकथाम के लिए गंभीरता से प्रयास हमारे भारत भर में आखिर कौन करता है? आपको इसका जवाब सौ फीसदी नकारात्मक ही मिलेगा. 16 दिसंबर 2012 को पूरे देश को हिला देने वाला 'निर्भया रेप-काण्ड' घटित हुआ और इसके लिए सड़क से संसद तक खूब हो-हल्ला मचा, कानून भी बना, महिला



बुलंदशहरों की बुलंदियों को कब तक लगता रहेगा ग्रहण?? | आपकी सहेली ज्योति देहलीवाल

जिसने एक बार हलाहल पान किया, वो सदियों से निलकंठ बन पूजा गया! बलात्कार पीड़िता हर रोज थोड़ा-थोड़ा विषपान करती है, है कोई उपाय जो पीड़िता का ताप कम कर सकेगा???



एक और 'निर्भया' हार गई अपनी जिंदगी, रेप के बाद पिलाया था एसिड

दिल्ली : देश की राजधानी दिल्‍ली में गैंगरेप की शिकार 14 वर्षीय दलित लड़की की रविवार को मौत हो गई. लाइफ सपोर्ट पर चल रही लड़की का दो महीने पहले दूसरी बार रेप हुआ था. आरोपी ने उसे एसिड पीने तक को मजबूर किया था. इस मामले को 2012 में राजधानी में हुए निर्भया रेपकांड जैसा बताया जा रहा है कि जहां पीड़िता क



बलात्कार एक बङी समस्या

 ! एक लङकी थी रात को आँफिस से वापस लोट रही थी तो देर भी हो गई थी पहली बार ऐसा हुआ ओर काम भी ज्यादा था तो टाइम का पता ही नही चला वो सीधे बस स्टेशन पहुँची वहाँ एक लङका खङा था वो लङकी उसे देखकर डर गई की कही उल्टा सीधा ना हो जाए तभी वो लङका पास आया ओर कहा बहन तू मौका नही जिम्मेदारी हे मेरी ओर जब तक तुझ



18 मार्च 2015

जिस दिन ये तीन लोग मिल जाएगे उस दिन मेरे भारत मेँ रेप होना बंद हो जाएंगे

एक लङकी थी रात को आँफिस से वापस लोट रही थी तो देर भी हो गई थी... पहली बार ऐसा हुआ ओर काम भी ज्यादा था तो टाइम का पता ही नही चला वो सीधे auto stand पहुँची.  वहाँ एक लङका खङा था वो लङकी उसे देखकर डर गई की कही उल्टा सीधा ना हो जाए तभी वो लङका पास आया ओर कहा बहन तू मौका नही जिम्मेदारी हे मेरी ओर जब तक त





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x