भी

छोड़ेंगे न साथ।

छोड़ेंगे न साथ।परछाई ही हैं जो स्वयम के वजूद को और मजबूत करती हैं। बाकी तो सभी साथ छोड़ देते हैं। परछाई हर वक्त साथ रहती हैं। दिन हो तो आगे-पीछे अगल-बगल और जैसे ही ज़िंदगी मे अंधेरा होता हैं वह खुद मे समा जाती हैं पर साथ नहीं छोडती हैं। कभी आपसे आगे निकलती हैं और तो और वह आपसे बड़ी और मोटी भी हो जाती है



"गीतिका" अभी है आँधियों की ऋतु रुको बाहार हो जाना घुमाओ मत हवाओं को अजी किरदार हो जाना

मापनी-1222 1222 1222 1222, समान्त- आर का स्वर, पदांत- हो जाना"गीतिका"अभी है आँधियों की ऋतु रुको बाहार हो जानाघुमाओ मत हवाओं को अजी किरदार हो जानावहाँ देखों गिरे हैं ढ़ेर पर ले पर कई पंछीउठाओ तो तनिक उनको सनम खुद्दार हो जाना।।कवायत से बने है जो महल अब जा उन्हें देखोभिगाकर कौन रह पाया नजर इकरार हो जाना



कसैले पन का कसाव

(कसैलेपन का कसाव) मेड़मफोटो खीचेंगी यह लाईन अभद्रता भरी लाईन या अभद्रता की प्रतीक थी। एक चाटा भरी आवाजके साथ प्रतीक वर्दियों से घिर गया। किसी के कमर मे काली बेल्ट पैरो मे काले जूतेजिसमे चेरी की पोलिस ही चमक रही थी। किसी के कमर मे बंधी लाल बेल्ट पैरो मे लालजूता वह दरोगा या कह लो सब इंस्पेक्टर यह ला



मुक्तक

वो हमारे पास जब भी आते हैं हमारे खास हैं अहसास ये करते हैसौ -सौ दुआएं सामने सलामती की,पीछें बर्बादी की योजना बनाते हैं



हाइजेेनिक आदतें

हाईजेनिक आदतें आजकल कई तरह की बीमारियों ने लोगों को घेरा हुआ है जो गंभीर समस्या की तरह है । पुराने जमाने में लोग बहुत सी हाईजेनिक आदतें अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में अपनाते थे जिससे उन्हे बीमारियां कम लगती थी, लोग स्वस्थ रहते थे। आज कल के लोगों की तरह बहुत सी बीमारी उन्हे नहीं घेरे रहती थी। हमारे गांव



"गज़ल" निकला था सीप से कहीं मोती उठा लिया मैने भी आज दीप से ज्योती उठा लिया

बह्र- 221 2121 1221 212 यूँ जिंदगी की राह में मजबूर हो गए , काफ़िया- मोती, ओती स्वर, रदीफ़- उठा लिया"गज़ल" निकला था सीप से कहीं मोती उठा लियामैने भी आज दीप से ज्योती उठा लियाखोया हुआ था दिल ये किसी की तलाश मेंमहफिल थी द्वंद की तो चुनौती उठा लिया।।जलने लगी थीं बातियाँ लेकर मशाल कोमगरूर शाम जान सझौती उठा



क्या आपको पता है खंडवा रेलवे स्टेशन पर भीख मांगने वाला ये बच्चा आज ऑस्ट्रेलियाई बिज़नेसमैन बन चुका है?

दुनिया में कुछ लोग तो ऐसे होते हैं जिनके पास सारी सुविधाएं होते हुए भी वो अपने जीवन में कुछ हासिल नहीं कर पाते। वहीं कुछ ऐसे भी होते हैं जो बिना किसी सुविधा के कामयाबी की बुलंदियों तक पहुंच जाते हैं। ऐसा ही एक बच्चा है मध्यप्रदेश के खंडवा जिले का। कभी ट्रेन में भीख मांगन



जातियां और आज का भारत

आज के भारत में जातियां अस्तित्वहीन हो चुकी है। परन्तु राजनीति बांटने और वोट बैंक बनाने के लिये आज भी इसका भरपूर प्रचार कर रही हैं। इसे रोका जाना चाहिये। भारत सरकार को अब सरकारी फार्मों आदी से जाति का कॉलम हटा देना चाहिये। इसके स्थान पर केवल वर्ग जैसे - साम



कृष्ण: योगी भी भोगी भी:अजय अमिताभ सुमन

मेरे एक मित्र ने कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर सोशल मीडिया पे वायरल हो रहे एक मैसेज दिखाया। इसमें भगवान श्रीकृष्ण को काफी नकारात्मक रूप से दर्



शिक्षा के आँसू

अपनों से दो शब्द“जब अनैतिक शक्ति संस्था-प्रधान के सिंहासन में पदास्थापित हो जाती है तोव्यवस्थाएँ तो चरमराती ही हैं, नैतिक शक्ति को अवसर भी नहीं मिलता और इसकानंगा-नृत्य स



सड़क हादसे में दो की मौत, 13 घायल

17:11 HRS IST पीलीभीत :उप्र:, 21 अगस्त (भाषा) बिलसंडा थानाक्षेत्र में हाइवे पर सड़क हादसे में दो लोगों की मौत हो गई जबकि 13 अन्य बुरी तरह घायल हो गए।पुलिस ने आज बताया कि घटना सोमवार मध्यरात्रि के बाद की है । बरेली से कुछ मजदूर डग्गामार वाहन से आ रहे थे । विलसंडा के निकट वाहन जांच के दौरान गाड़ी नही



प्रेम प्रसंग के कारण एक व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या

19:20 HRS IST पीलीभीत (उ.प्र.), 19 अगस्त (भाषा) पीलीभीत जिले के बिलसंडा क्षेत्र में प्रेम प्रसंग को लेकर हुए विवाद में गांव के कुछ दबंगों द्वारा एक दलित व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या किये जाने का मामला सामने आया है। पुलिस अधीक्षक बालेन्दु भूषण सिंह ने आज यहां बताया कि बिलसंडा थाना क्षेत्र के भगवंतापु



नहाने गए चार बच्चों की डूबने से मौत

11:28 HRS IST पीलीभीत (उत्तर प्रदेश), 16 अगस्त (भाषा) जिले के बरहा गांव में ईंट भट्टे की खाली जगह में भरे पानी में नहाने गए चार बच्चों की मौत डूबने से हो गई। पुलिस ने बताया कि थाना सुनगढ़ी एरिया के ग्राम बरहा निवासी मनोज (12), अजय (12), जीतू (10) और प्रदीप (8) कल दोपहर तीन बजे गाँव में ही स्थित एक भ



मज़हब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना हिंदी हैं हम वतन हैं हिन्दुस्तान हमारा.सभी को हिदुस्तान की आज़ादी की बहुत बहुत बधाई.( आलिम)

मज़हब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना हिंदी हैं हम वतन हैं हिन्दुस्तान हमारा.सभी को हिदुस्तान की आज़ादी की बहुत बहुत बधाई.( आलिम)



दिल और दिमाग

दिल और दिमाग की जंग में दिल का साथ देना चाहिए, शायद ज्यादातर लोग इससे सहमत होंगे, किन्तु गीता में इसके विपरीत ही कहा गया है. जब व्यक्ति दिल से सोचता है तो उसमे मोह होता है, अपने और अपनों के प्रति , वो मोह ही मनुष्य को धर्म के



खबर उत्तरप्रदेश लड़कियां दो

12:50 HRS IST 18 लड़कियां अभी भी लापता, आश्रयगृह सील: देवरिया पुलिस अधीक्षक ।



तुम आये तो हवाओं में (Tum Aaye To Hawaon Mein )- फिर भी दिल है हिंदुस्तानी

Lyrics of Tum Aaye To Hawaon Mein from movie Phir Bhi Dil Hai Hindustani: The song is in the voice of Alka Yagnik and Abhijeet. Tum Aaye To Hawaon Mein Lyrics are penned by Javed Akhtar while it is composed by Jatin and Lalit.फिर भी दिल है हिंदुस्तानी (Phir Bhi Dil Hai Hindustani )तुम आये तो हवाओं म



तू यार तू ही दिलदार (बन के तेरा जोगी) (Tu Yaar Tu Hi Dildar (Ban Ke Tera Jogi) )- फिर भी दिल है हिंदुस्तानी

तु यार तू है हिंदुस्तानी से तु यार तु हाय दील्डर गीत: यह जकाइन और ललित द्वारा अच्छी तरह से तैयार संगीत के साथ अल्का याज्ञिक और सोनू निगम द्वारा एक बहुत अच्छा गाया गया गीत है। तु यार तू हाय डिल्डर के गीतों को जावेद अख्तर द्वारा खूबसूरती से लिखा गया है।फिर भी दिल है हिंदुस्तानी (Phir Bhi Dil Hai Hindu



फिर भी दिल है हिंदुस्तानी (Phir Bhi Dil Hai Hindustani )

"Phir Bhi Dil Hai Hindustani" is a 2000 hindi film which has Shahrukh Khan, Juhi Chawla, Paresh Rawal, Satish Shah, Dalip Tahil, Shakti Kapoor, Govind Namdev, Anjan Srivastava, Smita Jaykar, Bharti Achrekar, Vishwajeet Pradhan, Johny Lever, Suresh Bhagwat, Bharat Kapoor, Neena Kulkarni, Sharat Saxe



“मुक्तक”तर्क तौलते हैं सभी लिए तराजू हाथ।

“मुक्तक”तर्क तौलते हैं सभी लिए तराजू हाथ। उचित नीति कहती सदा मिलों गले प्रिय साथ। माँ शारद कहती नहीं रख जिह्वा पर झूठ- ज्ञान-ध्यान गुरुदेव चित अर्चन दीनानाथ॥-१ प्रथम न्याय सम्मान घर दूजा सकल समाज। तीजा अपने आप का चौथा हर्षित आज। धन-निर्धन सूरज धरा हो सबका बहुमान- गाय भाय बेटी-बहन माँ- ममता अधिराज॥-२



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x