गरीब

आज भी सड़कों पर भीख मांगता है सुभाष चंद्र बोस के साथ देश की आजादी के लिए लड़ना वाला ये सिपाही

आज हम आज़ादी का मजा लेते हुए अपने घरों में बड़े-बड़े मुद्दों को बड़ी आसानी से बहस में उड़ा देते है, लेकिन कभी सोचा है कि जिन्होंने अपनी जान की परवाह ना करते हुए देश को आज़ाद कराया, उनमें से जो जिंदा हैं, वो किस हाल में हैं ?ये हैं झाँसी के रहने वाले श्रीपत जी, 93 साल से भी ज्यादा की उम्र पार कर चुके श्रीप



यूपी के इस गांव में मां- बाप अपने बच्चों को डॉक्टर -इंजीनियर नहीं बल्कि भिखारी बनाना चाहते हैं

हर माँ-बाप अपने बच्चों के लिए कोई न कोई सपना ज़रूर देखते हैं कोई चाहता हैं उनका बच्चा डॉक्टर बने तो किसी का ख्वाब होता है कि उनका बच्चा इंजीनियर बने लेकिन आपको ये बात सुनकर थोड़ी हैरानी होगी कि उत्तर प्रदेश के मैनपुरी ज़िले में नगला दरबारी नाम का एक गांव है, जहां माता-पिता बच्चों को इंजीनियर या डॉक्टर



गरीबों की बस्ती

कहते है कि.... गरीबों की बस्ती मे... भूक और प्यास बस्ती है... आँखों में नींद मगर आँखें सोने को तरसती है... गरीबों की बस्ती मे... बीमारी पलती है... बीमारी से कम यहा भूक से ज्यादा जान जलती है... गरीबों की बस्ती मे... लाचारी बस्ती है... पैसे की लेनदेन मे ही जिंदगी यहा कटती है... गरीबों की बस्ती मे... श



सरदार पटेल की मूर्ति ‘‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’’ का अनावरण। भारत देश गरीब या अमीर?

लगता है, भारत एक अमीर व विकसित देश हो गया है? आज का ही (31 अक्टूबर) दिन पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के कारण ‘‘बलिदान दिवस’’ व भारत की एकता व अखंडता बनाए रखने में अति विशिष्ट महत्वपूर्ण व एकमात्र योगदान देने के कारण पूर्व गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल के जन्म दिवस को राष्ट्र एकता दिवस



गरीब रथ ट्रेन को सरकार खत्म कर रही है !!

किस्साःमेरी पढ़ाई हुई है जामिया से. वहां की कैंटीन में एक वक्त 18 रुपए में थाली मिलती थी. कायदा था कि उसमें 2 रोटियां मिलें. लेकिन मिलती थीं 2 पूरियां. वो भी तब तक, जब तक होती थीं. एक बार खत्म तो खत्म. फिर एक दिन हम कैंटीन पहुंचे तो देखा कि थाली में रोटी भी है और सलाद भी.



खबर मोदी दिवस सात

7:52 HRS IST गरीबों को न्याय मिले, जन जन को आगे बढ़ने का मौका मिले, मध्यम वर्ग को आगे बढ़ने में कोई समस्या न आये, यह हमारा प्रयास है : प्रधानमंत्री मोदी



बाबुल भी रोये बेटी भी रोये - अमीरी गरीबी

Babul Bhi Roye Beti Bhi Roye Lyrics of Amiri Garibi (1990): This is a lovely song from Amiri Garibi starring Jeetendra, Rekha, Rishi Kapoor and Urmila Bhatt. It is sung by Kavita Krishnamurthy and composed by Laxmikant and Pyarelal.अमीरी गरीबी (Amiri Garibi )बाबुल भी रोये बेटी भी रोयेबाबुल भी रोये ब



बूढ़ी घोड़ी लाल लगाम - अमीरी गरीबी

Budhi Ghodi Lal Lagaam Lyrics of Amiri Garibi (1990): This is a lovely song from Amiri Garibi starring Jeetendra, Rekha, Rishi Kapoor and Urmila Bhatt. It is sung by Alka Yagnik and composed by Laxmikant and Pyarelal.अमीरी गरीबी (Amiri Garibi )कान में झुमके हे हे हेचाल में ठुमके हे हेकान में झुमकेयह



ओ मेरी सासु ो मेरे सेल - अमीरी गरीबी

ओ मेरी ससु ओ मेरे बिक्री अमिरी गारिबी (1 99 0) के गीत: यह जीतेन्द्र, रेखा, ऋषि कपूर और उर्मिला भट्ट अभिनीत अमिरी गारिबी का एक सुंदर गीत है। इसे शैलेंद्र सिंह और सुखविंदर सिंह द्वारा गाया जाता है और लक्ष्मीकांत और प्यारेलाल द्वारा रचित किया जाता है।अमीरी गरीबी (Amiri Garibi )ओ मेरी सासु ो मेरे सेलबीव



तवाइफ़ कहाँ किसी के साथ - अमीरी गरीबी

Tawaif Kahan Kisi Ke Sath Lyrics of Amiri Garibi (1990): This is a lovely song from Amiri Garibi starring Jeetendra, Rekha, Rishi Kapoor and Urmila Bhatt. It is sung by Alka Yagnik and composed by Laxmikant and Pyarelal.अमीरी गरीबी (Amiri Garibi )बजा बेरुखी है यह सर्कार की क्ष २के मैं चीज़ हूँ एक बाज



अमीरी गरीबी (Amiri Garibi )

"Amiri Garibi" is a 1990 hindi film which has Jeetendra, Rekha, Rishi Kapoor, Urmila Bhatt, Poonam Dhillon, Raj Babbar, Neelam Kothari, Dan Dhanoa, Rajesh Puri, Chand Usmani, Yunus Parvez, Lalita Kumari, Guddi Maruti, Rohini Hattangadi, Sushma Seth, Shakti Kapoor, Pran, Tiku Talsania, Gurubachan Si



मैं आया हूँ - अमीर गरीब

मुख्य आया हुन अमीर गरीब के गीत (1 9 74): यह देव आनंद, हेमा मालिनी, प्रेम नाथ और रणजीत अभिनीत अमीर गरीब का एक प्यारा गीत है। इसे किशोर कुमार द्वारा गाया जाता है और आरडी बर्मन द्वारा रचित किया जाता है।अमीर गरीब (Amir Garib )मैं आया हूँ लेके साज़ हाथों मेंमहफ़िल की मस्तानीशोख हसीनों कोमैं आवाज़ दे रहा हूँ



सोनी और मोनी की है जोड़ी अजीब - अमीर गरीब

Soni Aur Moni Ki Hai Jodi Ajeeb Lyrics of Amir Garib (1974): This is a lovely song from Amir Garib starring Dev Anand, Hema Malini, Prem Nath and Ranjeet. It is sung by Lata Mangeshkar and composed by Laxmikant and Pyarelal.अमीर गरीब (Amir Garib )हो मोनीसोनी और मोनी की है जोड़ी अजीबसाजन आमिरसोनी और म



अमीर गरीब (Amir Garib )

'अमीर गरीब' 1 9 74 की हिंदी फिल्म है जिसमें देव आनंद, हेमा मालिनी, प्रेम नाथ, रणजीत, सुजीत कुमार, राज मेहरा, सुलोचाना लातकर, मेहमूद जूनियर और मास्टर रवि प्रमुख भूमिका निभाते हैं। हमारे पास 2 गाने के गीत और अमीर गरीब के एक वीडियो गीत हैं। लक्ष्मीकांत, प्यारेलाल और आरडी बर्मन ने अपना संगीत बना लिया है



डाॅक्टर बनने की राह आसान बनाने हेतु एक सार्वजनिक अपील

माउंटेन मैन के नाम से विख्यात दशरथ मांझी को आज दुनिया भर के लोग जानते हैं। वे बिहार जिले के गहलौर गांव के एक गरीब मजदूर थे, जिन्होंने अकेले अपनी दृ़ढ़ इच्छा शक्ति के बूते अत्री व वजीरगंज की 55 किलोमीटर की लम्बी दूरी को 22 वर्ष के कठोर परिश्



ई -रिक्शा चालकों के लिए खुशखबरी

आज इलेक्ट्रॉनिक दुनिया है ,सब कुछ ''ई '' होता जा रहा है ,मतलब ई -गवर्नेंस ,ई -कार्ट ,ई -रिक्शा इत्यादि ,ऐसे ही आज आपको जहाँ भी जाना हो अपने स्कूटी ,स्कूटर ,मोटर साइकिल आदि की कोई आवश्यकता नहीं , हर जगह ई -रिक्शा उपलब्ध है और अच्छी बात यह है कि इसे खींचने का काम आदमी



चमकदार इंडिया की ग़रीब दास्ताँ

राजनीति और जनता का प्रत्यक्ष मिलन अब मात्र चुनावी हल-चल के वक़्त दिखता है, जब उसके प्रत्याशी जनता रूपी मत को अपना भगवान और उसके साथ तमाम वे रिश्ते- नाते रचने की कोशिश करती है, जिसके जोड़ का धागा बहुत ही नाज़ुक होता है, और उसको बनाया भी इसलिए जाता है, कि क्षणिक उपयोग ह



मासूमीयत

शर्मा जी अभी-अभी रेलवे स्टेशन पर पहुँचे ही थे। शर्मा जी पेशे से मुंबई मे रेलवे मे ही स्टेशन मास्टर थे। गर्मी की छुट्टी चल रही थी इसलिए वह शिमला घूमने जा रहे थे, उनके साथ उनकी धर्मपत्नी मंजू और बेटी प्रतीक्षा भी थी। ट्रेन के आने मे अभी समय था।तभी सामने एक महिला अपने पाँच स



झूठी शान : जो है उसी में खुश रहना सीखे |

एक दिन विध्यालय के कुछ छात्रों ने पिकनिक पर जाने की योजना बनाई | और तय किया की सभी अपने-अपने घर से खाने का सामान लेकर आएंगे |इनमें से जीतू बहुत गरीब था,जब जीतू घर पहुंचा तो उसने अपनी माँ को सब कुछ बता दिया |की मुझे पिकनिक पर जाना है और सभी दोस्त अपने घर से कुछ न कुछ खाने के सामान साथ लेकर आएंगे |बच्



“गरीबी”

“गरीबी” गरीबी एक शूल की तरह पली बढ़ी चढ़ती गई व प्राण हरती गई उतरी तो धमनियों से रक्त निचोड़ गई जब सुस्त हुई तो तगड़े व स्वस्थ नौजवान को भी पस्त कर गई गरीबी गरीब कर गई॥ गरीबी लता की तरह बढ़ी उपजाऊँ जमीन पर उगी पर किसी दरख्त तक न पहुँच पाई जमीन प



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x