घरेलू

पीरियड्स रोकने के अचूक उपाय -Period Rokne ke Upay

Period Rokne ke Upay- महिलाओं में पीरियड्स को लेकर बहुत सी बातें होती हैं और जब इन्हें इसमें कोई समस्या आती है तो किसी से शेयर करने में भी इन्हें कुछ शर्म सी आती है. 13 से 14 साल की उम्र में इनके शरीर में कुछ बदलाव आते हैं और पीरियड्स उन्हीं में से एक होता है. पीरियड्स के 3-7 दिनों तक चलता है और फिर



पीरियड्स जल्दी आने के घरेलू नुस्खे - Periods Aane ke Gharelu Nuskhe

Periods Aane ke Gharelu Nuskhe- महिलाओं के जीवन में कई बदलाव आते रहते हैं जैसे पीरियड्स आना, फिर शादी के बाद घर का बदल जाना, फिर प्रेग्नेंसी होती है और वे एक बच्चे को जन्म देकर दूसरा जन्म लेती हैं. इसके बाद एक मां के रूप में उनका जीवन बीत जाता है और एक महिला के जीवन की यही सच्चाई है जिसे भारतीय महि



रंग गोरा करने के लाजवाब उपाय - Rang Gora Karne ka Tarika

Rang Gora Karne ka Tarika- बहुत से लोगों में अपने रंग को लेकर अलग ही विडंबना होती है और सभी गोरे-चिट्टे दिखना चाहते हैं लेकिन ईश्वर ने इंसान को की कैटेगरी में बनाया है. किसी को बहुत काला कर दिया, किसी को सांवला, किसी को बहुत गोरा तो किसी गेहुंआ रंग का बनाया है. ज्यादा



कई समस्याओं को जड़ से खत्म करता है धनिया

धनिए का प्रयोग हर भारतीय रसोई में वर्षभर किया जाता है। कभी इसके पत्तों की मदद से भोजन का रंग-रूप निखारा जाता है तो कभी इसकी मदद से चटनी तैयार की जाती है। इस प्रकार कई रूपों में यह किचन में प्रयोग किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह महज स्वाद या भोजन को सुंदर बनाने के लिए ही नहीं है। इसके पौध



कई बीमारियों से राहत दिलाता है शहद

शहद एक ऐसी चीज है, जिसका प्रयोग किचन से लेकर काॅस्मेटिक्स तक किया जाता है। कुछ लोग तो सुबह की शुरूआत ही नींबू व शहद के पानी से करते हैं। वहीं स्किन को बेहतर बनाने के लिए भी शहद का प्रयोग किया जाता है। शहद के गुणों के बारे में जितना भी कहा जाए, कम ही है। यह एक प्राकृतिक और सेहत के लिए लाभकारी स्वीटनर



वैक्सिंग के बाद त्वचा पर हो गए हैं दाने, अपनाएं यह घरेलू उपाय

अमूमन महिलाएं अपनी स्किन के अनचाहे बालों से छुटकारा पाने के लिए वैक्सिंग का सहारा लेती हैं। इससे बाल जड़ से निकल जाते हैं और स्किन भी एकदम स्मूद दिखती है। लेकिन कुछ महिलाओं को वैक्सिंग करवाने के कुछ समय बाद स्किन पर दाने नजर आते हैं। जिसके कारण वह परेशान हो जाती हैं। अगर आपके साथ भी ऐसा ही कुछ हो रहा



टीबी के उपचार में आसान घरेलू उपाय | TB Ka Gharelu Ilaz In Hindi

भारत देश में टीबी रोग एक महारोग के रुप में फैल चुका है टीबी के कारण वर्षभर में लाखों लोगों की मौत हो जाती है इसका एक प्रमुख कारण यह भी इस रोग के बारें में लोगों में जानकारी का अभाव है। टीबी मानव शरीर में माइकोइक्टीरियम ट्युबरक्लोसिस बैक



लिंग में वृद्धि कैसे करें - How To Increase Panis In Hindi

वर्तमान में मनुष्य अपने लिंग के आकार को लेकर काफी चितिंत रहता है और अधिकतर लोग अपने लिंग के आकार से संतुष्ट नहीं दिखाई देते है उन्हें लगता है कि उनके वैवाहिक जीवन में कहीं यह समस्या गंभीर रुप न धारण कर लें और उन्हें साथी के प्रति शर्मिंदा नहीं होना पड़े। इसी बात का फायदा उठाकर कई बार कुछ लोग इसका फा



पथरी खत्म करने के घरेलू उपाय |Pathri Khatam Krne Ke Gharelu Ilaz In Hindi

पथरी पेट के गंभीर रोगों में से एक माना जाता है इस समस्या से ग्रस्त लोगों को बहुत ही असहनीय दर्द होता है। गुर्दे की पथरी जिसे किडनी स्टोन भी कहा जाता है यह नमक और खनिज के एक स्थान पर जमावट के कारण होती है। पथरी पेट में मौजूद रसायनिक पदार्थ जैसे- यूरिक एसिड, फॉस्फोरस, क



पित्त की पथरी का अचूक देसी इलाज- Pittay ki Pathri ka Desi Ilaj In Hindi

Pittay ki Pathri ka Desi Ilaj In Hindi- व्यक्ति के शरीर में दो तरह की पथरियां होती हैं एक पित्त में पथरी और दूसरी गुर्दों यानी किडनी में पथरी, ये दोनों ही बहुत पीड़ा देती है. गलत खानपान की वजह से आजकल के लोगों में गॉलस्टोन यानी पित्त की पथरी की समस्या ज्यादा होने लगी है. पित्ताशय हमारे शरीर का एक छो



पीरियड्स जल्दी लाने और रोकने के आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार | Periods Ko Rokne Aur Lane Ke Ayurvedic Aur Gharelu Upchar

मासिक धर्म होना और पीरियड्स आना महिलाओं में प्राकृतिक प्रक्रिया है यह पीरियड्स हर महीने में 4-6 दिनों तक रहती है ऐसे में कई महिलाओं को इस समय गंभीर दर्द और परेशानी से गुजरना पड़ता है। कई बार पीरियड्स देर से आने की समस्या और ब्लीड़िग नहीं रुकने को महिलाएं काफी परेशान रहती है ऐसे में आज हम महिलाओं के



प्रेगनेंसी टेस्ट के आसान घरेलू टिप्स - Pregnancy Test Tips In Hindi

मां बनना हर स्त्री के लिए बहुत सौभाग्य की बात होती है ऐसे में जब पहली बार उन्हें पता चलता है कि वे गर्भवती हैं तो उस खुशी का एहसास सिर्फ उन महिलाओं को ही हो सकता है. बहुत से लोगों को पता नहीं चल पाता कि वे गर्भवती हुईं है या नहीं खासकर ऐसा गांव या शहर से दूर रहने वालो



पीलिया रोग लक्षण व कारण की जानकारी || Jaundice Bimari In Hindi

पीलिया रोग भारत में एक गंभीर बीमारी के रुप में उभरकर सामने आई है। पीलिया रोग होने पर त्वचा और आंखों के सफेद भाग पर पीलापन छा जाता है । पीलिया रोग होने में बिलीरुबीन नामक पदार्थ सहायक होता है जिसका निर्माण हमारे शरीर के ऊतकों और रक्तों में होता है। जब शरीर के लिवर में लाल रक्त कोशिकाएं टूटती है तब बि



कैसे होती है हैजा बीमारी, इसके लक्षण और बचाव - Cholera Disease In Hindi

वैसे तो हर बीमारी शरीर को हानि पहुंचाती है लेकिन हैजा बहुत ही खतकनाक संक्रामक बीमारी है जिसके कारण जीवाणु भोजन और पानी के द्वारा शरीर में प्रवेश करता है. कीटाणुओं के शरीर में फैलते ही इसका असर 3 से 4 दिनों में दिखने लगता है और अगर समय पर इसके लक्षण पता चल जाएं तो इसकी जांच में बिल्कुल देरी नहीं करनी



जानें टायफाइड बुखार के लक्षण,कारण और इलाज के बारें में

टाइफाइड बुखार साल्मोनेला टाइफी नामक बैक्टीरिया से फैलने वाली एक गंभीर बीमारी है। भारत में टायफाइड को मियादीबुखार,मोतीझारा और आंत्र ज्वर के नाम से भी जाना जाता है। यह बैक्टीरिया से संक्रमित भोजन और पानी के सेवन से होता है। टाइफाइड का जीवाणु मनुष्यों के आंतो और रक्तप्रवाह में संचरण करता है। यह संक्रमि



कमर दर्द होने के कारण और इलाज के बारें में जानकारी

कमर दर्द होना एक आम बात सी हो गई है ज्यादातर लोग इस बारें ध्यान नहीं देते है लेकिन यह बीमारी कुछ समय बाद गंभीर रुप धारण कर सकती है। ज्यादातर कमर दर्द कुछ हफ्तों में ठीक हो जाता है। कमरदर्द में पीठ में दर्द,खिंचाव या अकड़न महसूस होती है। कई बार कमर में दर्द कुछ भारी वस्तुओँ के उठाने के कारण या झुककर



कब्ज: लक्षण,कारण,उपचार,घरेलू उपाय

आजकल लोगों केभाग-दौड़ भरी जिंदगी में लोग अपना ज्यादातर समय घर के बाहर व्यतीत करते है जिसकारण लोग बाहरी चीजों को खाने से भी परहेज नहीं करते है जिस कारण कब्ज एक बेहद आमबीमारी बन चुकी है। मल त्याग एक प्राकृतिक क्रिया है। लेकिन जब जब मल त्याग करने में अगर परेशानी आती है,



आपको कई बीमारियों से दूर कर देंगे दादी माँ के ये 5 दमदार नुस्खे

आजकल का जमाना काफी बदल चुका है और जमाने के साथ साथ लोगों की जीवनशैली भी बदल चुकी है यदि व्यक्ति को किसी भी प्रकार की कोई शारीरिक परेशानी होती है तो वह अंग्रेजी दवाइयों पर निर्भर रहता है हर बीमारी के लिए वह अंग्रेजी दवाइयों का सेवन करता है परंतु भारत में पहले ऐसा नहीं



चरखा चलाती माँ



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x