हमें

हमें लेखक क्यों बनना चाहिए? एक लेखक का भविष्य क्या होना चाहिए?

दोस्तों आज हर व्यक्ति पढ़-लिख कर नौकरी के क्षे़त्र में एकऊंचा औदा पाना चाहता है। कोई डॉक्टर बनना चाहता है, कोई पुलिस, कोई वकील तो कोई इंजीनियर। लेकिनएक लेखक के पहलू पर बहुत कम लोग ही ध्यान देते हैं। लेखक बनना एक गर्व की बात है। क्योंकि यह भी एक प्रकार की कला है जो हर क



हरियाली

ऐ हरियाली तुझे क्या हुआ क्यों तू उदास है ?क्या तेरा सौभाग्य तेरे पास है ? कभी तू हंसती थी कभी तू मुस्कराती थी कभी तू हवा के झरोखों से हिल डुल के इतराती थी क्या मै कहूं तू मुरझाई है ? की मै कहूँ तू धिक्काई है ,देख न तू मु



बाबा आएगा

बचपन में हम अपनों की गोद में छुपा के सर खुद सुकून से सो जाते थे .......जब कोई कहता बाबा आएगा और उठाकर ले जाएगा आज अपने ही चमन में जब अपनों के सताने से आती नहीं है नीद हमें तो बाबा के पास जाते है और दिखा कर हाथ कहते है बड़े कष्ट में है हम बाबा ले लो तुम हमको अपनी शरण .......





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x