ईरानी खानम मुझे जीना सिखा गयी

ईरानी खानम मुझे जीना सिखा गयी पार्ट - 2 डॉ शोभा भारद्वाज इंकलाब ने हमारे सपने तोड़ दिए ईरान में बदअमनी फैल रही थी योरोपियन डाक्टरपहले ही जा चुके थे पाकिस्तानी डाक्टर जाह्दान के रास्ते अपने देश लौट गये भारतीयडाक्टरों के लिए उनके सिफारतखाने ने एक साथ निकालने का इंतजाम किया डाक्टर साहबसबसे बाद में



पुदीन हरा (pudin hara tablet)

पुदीन हरा सबसे पुराना और सबसे असरदार एक ओषधि है जिसमे पुदीना सत्वा है जो पेट दर्द, गॅस,बदहज़मी से जल्द राहत देता है। ये पेट के लिए एक लोकप्रिय दवा है जो बहुत ही तेजी से काम करता है। पुदीन हरा को प्राकृतिक एवं हर्बल और सुरक्षित माना जाता है। ये बाज़ार में टबलेट और लिक्व



पुदीन हरा (pudin hara tablet)

पुदीन हरा सबसे पुराना और सबसे असरदार एक ओषधि है जिसमे पुदीना सत्वा है जो पेट दर्द, गॅस,बदहज़मी से जल्द राहत देता है। ये पेट के लिए एक लोकप्रिय दवा है जो बहुत ही तेजी से काम करता है। पुदीन हरा को प्राकृतिक एवं हर्बल और सुरक्षित माना जाता है। ये बाज़ार में टबलेट और लिक्विड के रूप में किसी भी मैडिसिन स्



जानिए कैसे बना आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद, पूरी कहानी…...

साल 1989. हिंदू कुश की पहाड़ियों में दस साल अटके रहने के बाद आखिरकार सोवियत यूनियन को अपने पैर पीछे खींचने पड़े. सोवियत यूनियन की इस हार को चार दशक लंबे चले शीत युद्ध का अंत माना गया. अफगानिस्तान में सोवियत यूनियन से लड़ने के लिए अमेरिका ने इस्लामिक चरमपंथी समूहों को बड़ी मात्रा में आर्थिक और सैनिक मदद



Benefit of Shimla Mirch : ये हैं शिमला मिर्च खाने के 18 फ़ायदे

Benefit of Shimla Mirch वैसे तो हर हरी सब्जी स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। पर कुछ ऐसे हरी सब्जियां भी होती हैं जो लोगों को या बच्चों को कम पसंद होती हैं पर उसके फायदे चौकाने वाले होते हैं। ऐसे ही एक हरी सब्जी है शिमला मिर्च। शिमला मिर्च खाने में भले ही बहुत स्वादिष्ट



"दोहावली" नमन शहीदों को नमन, नमन हिंद के वीर। हर हालत से निपटते, आप कुशल रणधीर।।

"दोहावली"नमन शहीदों को नमन, नमन हिंद के वीर।हर हालत से निपटते, आप कुशल रणधीर।।-1नतमस्तक यह देश है, आप दिए बलिदान।गर्व युगों से आप पर, करता भारत मान।।-2रुदन करे मेरी कलम, नयन हो रहे लाल।शब्द नहीं निःशब्द हूँ, कौन वीर का काल।।-3राजनयिक जी सभा में, करते हो संग्राम।जाओ सीमा पर लड़ो, खुश होगी आवाम।।-4वोट



ओला बौछार

ओला बौछार काले घने बादल जब अपनी जवानी मे आते हैं आसमान मे।जमीन मे मोर पपीहा खूब इतराते हैं, नृत्य करते हैं आसमान को निहार कर, कल वह भी बौरा गए ओला वृष्टि को देख कर। कल शहरी लोग पहले खूब इतराए ओलो को देख कर फिर पछते सड़क मे जब निकले ऑफिस से कार पर। किसान खुश था पानी की धार को देखकर वह भी पछताया गेंहू



महात्मा गांधी को मारने वाले शख्स की अस्थिया आज तक नहीं हुई विर्सजित

हिंदू धर्म में किसी की मौत के बाद उसका अंतिम संस्कार किया जाता है, शव को मुखाग्नि दी जाती है औऱ फिर उसकी अस्थियों को गंगा जी में प्रवाहित किया जाता हैं। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से मृतक की आत्मा को शांति मिलती है और मोक्ष की प्राप्ति होती है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताएंगे जिनक



golden rang

Golden rang tera he nira kassot rae ,mere dil k chamber ka drain kr gi tu khoon rae , jad pehli baar dekhya tu toh kr gyi thi mnne choor rae...aankhe motti motti aur chahra krta glow rae , mnne laage he mnne pagal karan ka lya he contract rae ,..... 365 k kanak bargi teri skin kare he glow rae.....



इस लेख को पढ़ते ही आप नहीं रह जाएंगे सामान्य व्यक्ति

अगर हम किताबें पढ़ना शुरू करें तो पाएंगे कि इस दुनिया में जो कुछ भी नया हो रहा है वो नया नहीं है। तमाम नए विचारों को सदियों पहले से ही सोचा जा रहा है और उस पर काम भी किया जा रहा है।गौरतलब है कि हम अपने सभी विचारों को अपना मानते हैं और नया भी पाते हैं उसके बाद भी हम सा



16 जनवरी 2019

एक भिक्षु के रूप में शांत: कैसे उपेक्षा आपके विवेक को बचा सकती है। 

जो लोग नहीं जानते हैं, उनके लिए उपेक्षा या "समरूपता" मूल रूप से बौद्ध धर्म में चार "उदात्त दृष्टिकोण" में से एक हैं - जिन्हें "फोर इमैसुलेबल्स", या "चार उदात्त दृष्टिकोण" कहा जाता है। करुणा, प्यार, दयालुता, और सहानुभूति से खुशी।इसमें मैं हमेशा सफल नहीं होता (मुझे गुस्सा आता है या हर किसी की तरह चिढ़



"छंद दुर्मिल सवैया" चित भावत नाहिं दुवार सखी प्रिय साजन छोड़ गए बखरी। अकुलात जिया मन लागत का छड़ राजन काहुँ गए बहरी।

दुर्मिल सवैया ( वर्णिक )शिल्प - आठ सगण, सलगा सलगा सलगा सलगा सलगा सलगा सलगा सलगा 112 112 112 112 112 112 112 112, दुर्मिल सवैया छंद लघु से शुरू होता है ।छंद मे चारों पंक्तियों में तुकांत होता है"छंद दुर्मिल सवैया" चित भावत नाहिं दुवार सखी प्रिय साजन छोड़ गए बखरी।अकुलात



सफर

आज मन की हलचलों ने कदमों को चलने न दिया।बहुत सोचा जाऊं या ना जाऊ । घर दूर, अपने आंखों से दूर, मौसम भी मगरूर ठंडी का है।सफर सहर में है। शाम की बातों ने मन को बोझिल कर दिया था।सब हलचलों और बोझिल शाम को समेट अपनी चारपाई पर तकिए के नीचे दबा लिया था। ठंडी की सिहरन



साधना - - दिनचर्या के कार्यों के साथ - साथ

^^^^^ साधना - - दिनचर्या के कार्यों के साथ - साथ ^^^^^ ()साधना, जिसके लिए अलग समय देने की आवश्यकता नहीं;ऐसी साधना की बात करें। साधना, जो दिन प्रतिदिन के कार्यों को करते हुए की जा सके;ऐसी साधना की बात करें।। स्वयं से जुड़े रहना;होश में बने रहना;बड़ी उपलब्धियां हैं;उन्हे



फेरों के बाद सिंदूरदान की रस्म के लिए दुल्हन ने किया इंकार ,वजह जान रह जायेंगे दंग

आजकल शादियों का सीजन चल रहा है। और किसी भी शादी में छोटी-मोटी भूल-चूक, नाराज़गी होना तो आम बात है। लेकिन जब इन छोटे छोटे बातों का लोग मुद्दा बना देते हैं तो शादी के रंग में भंग पड़ते देर नहीं लगती। जिसके चलते कभी कभी नौबत शादी टूटने तक भी आ जाती है। आपने शादी टूटने के कई कि



प्रकृति और हम - ( वयस्कों केलिए )

* प्रकृति और हम *(( वयस्कों केलिए गहरा सन्देश लिए ))जब एक पेड़ बीमार होता है, तो क्या करते हैं ??यदि पेड़ प्रिय है, तो उपाय करते हैं;क्या फिर, उसके तने, डालियों, पत्तों का इलाज करते हैं ??या, उसकी जड़ों पर काम करते हैं;चलो इसकी बात करते हैं, इस दिशा में कार्य करते



"गीत" लहराती फसलें खेतों की, झूमें गाँव किसान बरगद पीपल खलिहानों में, गाते साँझ बिहान......लहराती फसलें .....

आधार छंद - सरसी (अर्द्ध सम मात्रिक) शिल्प विधान सरसी छंद- चौपाई + दोहे का सम चरण मिलकर बनता है। मात्रिक भार- 16, 11 = 27 चौपाई के आरम्भ में द्विकल+त्रिकल +त्रिकल वर्जित है। अंत में गुरु /वाचिक अनिवार्य। दोहे के सम चरणान्त में 21 अनिवार्य है"गीत" लहराती फसलें खेतों की, झूमें गाँव किसानबरगद पीपल खलिहा



करण जौहर पर अनुष्का शर्मा का गंभीर आरोप कहा – शूटिंग के दौरान मेरे साथ करण जौहर ने…

#MeeToo ने बॉलीवुड की दुनिया में इन दिनों तहलका मचा रखा है।आये दिन बॉलीवुड हस्तियों से जुड़े तमाम खुलासे सामने आ रहे हैं, ऐसा माना गया है कि बॉलीवुड और विवाद हमेशा से ही एक दुसरे के पूरक रहे हैं। इस जगमगाती दुनिया में आये दिन नए-नए खुलासे और विवाद सामने आते रहते हैं। लेकिन, इस वक्त इस जगमगाती दुनिया



कोशिश करने वालों की हार नहीं होती - सोहनलाल द्विवेदी

Hindi poem - koshish karne walon ki लहरों से डर कर नौका पार नहीं होतीकोशिश करने वालों की हार नहीं होतीनन्हीं चींटी जब दाना लेकर चलती हैचढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती हैमन का विश्वास रगों में साहस भरता हैचढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता हैआख़िर उसकी मेहनत बेकार नहीं होतीकोशिश करने वालों की हार नहीं



कर्तव्य- नैतिकता के बीच जिम्मेदार कौन?

अमृतसर हादसा: पंजाब के अमृतसर में दशहरे पर बड़ा हादसा हो गया. रावण दहन के दौरान मची भगदड़ के कारण 61 लोग ट्रेन से कट गए. वे रेल की पटरी पर थे और रेल इतनी रफ्तार में आई कि वे संभल भी नहींसके. घटना में 150 से ज्यादा लोग घायल हैं. हादसे की भयावहता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पटरी के करीब 20



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x