होते

1


पथिक

(1)वो घर से निकला पीने को, मानो अंतिम पल जीने को।उसे अंतिम सत्य का बोध हुआ। मानो अंतिम घर से मोह हुआ।सोते बच्चों को जी भर देखा, सोती बीबी के गालों को चूमा,माँ-बाप को छूपकर देखा, चुपके सोते चरणों को पूजा।कुछ पैसे



महिलाओ की आजादी

u .p के बुलन्दशहर की रहने वाली सुदीक्षा भाटी की मृतुय की खबर सुनी तो अपने जज्बात को रोक न पई और सोचने पर मजबूर कर दिया कि आज हमे नैतिक शिक्षा देने की जरुरत किसे है अपने बच्चो को या फिर अपनी बचिचयों को जो आये दिन इस छेड़छाड़ ,बलात्कार जैसे जघन्य अपराधों



सपने वो होते हें!

सपने वो होते हें!जो सोने नही देते !! और अपने वो होते है ! जो रोने नही देते !! प्यार इंसान से करो उसकी आदत से नही रुठो उनकी बातो से मगर उनसे नही... भुलो उनकी गलतीया पर उन्हें नही क्योकि रिश्तों से बढकर कुछ भी नहीं।।



कसैले पन का कसाव

(कसैलेपन का कसाव) मेड़मफोटो खीचेंगी यह लाईन अभद्रता भरी लाईन या अभद्रता की प्रतीक थी। एक चाटा भरी आवाजके साथ प्रतीक वर्दियों से घिर गया। किसी के कमर मे काली बेल्ट पैरो मे काले जूतेजिसमे चेरी की पोलिस ही चमक रही थी। किसी के कमर मे बंधी लाल बेल्ट पैरो मे लालजूता वह दरोगा या कह लो सब इंस्पेक्टर यह ला



लड्डू मोतीचूर का - होते होते प्यार हो गया

फिल्म होट होट प्यार हो गया से लड्डू मोतीचूर का गीत गाका जाता है, अल्का याज्ञिक और पूर्णिमा द्वारा गाया जाता है, इसका संगीत आनंद राज आनंद और प्रदीप-एजाज द्वारा रचित है और गीत रानी मलिक द्वारा लिखे गए हैं।होते होते प्यार हो गया (Hote Hote Pyaar Ho Gaya )लड्डू मोतीचूर का की लिरिक्स (Lyrics Of Laddoo



होते होते प्यार हो गया (Hote Hote Pyaar Ho Gaya )

"Hote Hote Pyaar Ho Gaya" is a 1999 hindi film which has Jackie Shroff, Kajol, Atul Agnihotri, Ayesha Jhulka, Aruna Irani, Kulbhushan Kharbanda, Prem Chopra, Adi Irani, Ashutosh Bajpay, Reeta Bhaduri, Anil Dhawan, Anjana Mumtaz and Brijesh Tiwari in lead roles. We have and one song lyrics of Hote



अगर तुम न होते - किशोर कुमार

फिल्म अग्र तुम ना होटे के अग्र तुम ना होटे के गीत किशोर कुमार द्वारा गाए जाते हैं। इसके गीत गीतकार गुलशन बावरा से हैं और आरडी बर्मन के संगीत सुनने के लिए बहुत अच्छे हैं।अगर तुम न होते (Agar Tum Na Hote )हमें और जीने की चाहत न होतीहमें और जीने की चाहत न होतीअगर तुम न होतेतुम्हें देख के तो लगता है ऐसे



हम तो हैं छुई मुई - अगर तुम न होते (१९८३)

हम टू तुई ना होटे (1 9 83) के चुई मुई गीत गुलशन बावरा द्वारा लिखे गए हैं, यह आरडी बर्मन द्वारा रचित है और लता मंगेशकर द्वारा गाया गया है।अगर तुम न होते (Agar Tum Na Hote )हम तो हैं छुई मुई िब का करिो भंवरा बन केो भंवरा बन के आये गए होहम तो हैं छुई मुई िब का करिो भंवरा बन केहो भंवरा बन के आये गए होदे



कल तो संडे की छुट्टी है - अगर तुम न होते

कलर टू रविवार की छुटती है फिल्म 'आग तुम ना होटे' के गीत किशोर कुमार द्वारा गाए जाते हैं, इसका संगीत आरडी बर्मन द्वारा रचित है और गीत गुलशन बावरा द्वारा लिखे गए हैं।अगर तुम न होते (Agar Tum Na Hote )हम्म.. कल तो संडे की छुट्टी हैफिर किस बात को रोना है[हम्म.. क्या कहा तुमने]कल तो संडे की छुट्टी हैफिर



अगर तुम न होते - लता मंगेशकर

अगर तुम ना होटे से अग्र तुम ना होटे गीत: इस गाने को सुनें जो लता मंगेशकर की शानदार आवाज़ में है। इस गीत का संगीत आरडी बर्मन द्वारा बनाया गया है और गीत गुलशन बावरा द्वारा लिखे गए हैं।अगर तुम न होते (Agar Tum Na Hote )हमें और जीने की चाहत न होतीहमें और जीने की चाहत न होतीअगर तुम न होतेतुम्हें क्या बता



अगर तुम न होते (Agar Tum Na Hote )

"Agar Tum Na Hote" is a 1983 hindi film which has Rajesh Khanna, Rekha, Raj Babbar, Madan Puri, Asrani, Sudhir Dalvi, Raj Mehra, Baby Shabana, Yunus Parvez, Dulari, Sunil Dhawan, Gulshan Bawra, Sunder and Sami in lead roles. We have 4 songs lyrics and 2 video songs of Agar Tum Na Hote. R. D. Burman



आत्मकेंद्रित होते युवा और समाज की आवश्यकता

इस तकनीकि के युग में आजकल के युवा इतने आत्मकेंद्रित हो गये है की उन्हें समाज या अपने आसपास के लोगों से मानो कोई सरोकार ही नही रह गया है| इसलिए आज घर के बुजुर्गों को अपने युवा हो रहे किशोरों से ये कहते सुनते है कि समाज में उठा बैठा करो, लोगों से मिला जुला करो, लोगों के यहाँ आया जाया करो थोड़े सोशल (सा



मेरी कविता -इजहार

सर्द सी रात और वो जनवरी की मुलाकाततुम्हारा वो प्यार,मेरा वो तुमसे मोहब्बत का इजहारवो तेरा सुहाना सा सफर और वो जनवरी की हमारी पहली मुलाकात, तुम्हारा मेरी ज़िंदगी मे आनाऔर ज़िन्दगी का एक पल का सफर उम्र भर का तुम्हारा साथ और तुम्हारा वो अपनेपनका एक एहसास, और तुमसे मिलने का



सीकचे

बहुत अच्छे है वे लोग जो सीकचो में है उनके हाथो और पैरो में बेड़िया है उन्हें पता है वे किस जुर्म की सजा भुगत रहे है .......पर वोजिनके सीकचे दिखाई नहीं देते और न ही दिखाई देती है उनके हाथो और पैरो की बेड़ियाउन्हें नहीं पता की उनकी सजा किस जुर्म की है......ता उम्र यही ढूँढती रहती है और उम्र कट जाती है .



जि

जिंदगी कभी रूकती नहीं हालत गंभीर होते है





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x