1


विशेषताएं मेरे मन की

सागर सा गम्भीर,नदियों सा चंचल मन है मेरा;बड़े वृक्ष की तरह देता सुकून,छोटे पौधे की तरह ये कोमल मन है मेरा।घर से बाहर निकलने को आतुर ,जल्दी ही घर लौटने को उत्सुक ये बच्चा मन है मेरा ;पर्वत की तरह अडिग,पानी की बूंद की तरह सूक्ष्म ये मन है मेरा।हरी भरी फसल की तरह लहलहाता



तकदीर की दशा

मेरी तो तकदीर में यही लिखा है,इसी बहाने अपना दोष तकदीर पे मढ़ता है; तुम्हारी तो तकदीर बहुत ही अच्छी है,कह के अपनी तकदीर को कोसता है;चल छोड़ यार मेरी तकदीर में वह नहीं ,कह के दिल को संतोष दिलाता है;मेरी तो तकदीर साथ ही नहीं देती,कह के अपनी तक



भारत है ये इसके चर्चे...

सुविधा की कमी नही, आलस की भरमार हैभारत है ये इसके चर्चे सात समंदर पार हैसरकारी दफ्तर में घूमो पता तुम्हें चल जाएगाआता नही अगर रिश्वत देना तो वो भी आ जायेगाएक करे काम अगर तो, दूजा निकले गद्दार हैभारत है ये, इसके चर्चे सात समंदर पार हैअफवाहों का जोर बहुत है, नही कोई भी



जीवन

<!-- wp:paragraph -->नमस्ते, कैसे हे आप सब लोग मुझे आज बहुत ख़ुशी हो रही हे की आज में अपनी पहली पोस्ट लिखने जा रही हु में आशा करती हु की आप सब लोगो को मेरे विचार अच्छे लगेंगे और आप मुझे सपोर्ट करेंगे और मुझे प्रोत्साहित करेंगे द



और इस दिल में क्या रखा है - ईमानदार

Aur Is Dil Mein Kya Rakha Hai Lyrics from Imaandaar is sung by Asha Bhosle and Suresh Wadkar and written by Prakash Mehra. Its music is composed by Kalyanji and Anandji.ईमानदार (Imaandaar )और इस दिल में क्या रखा है की लिरिक्स (Lyrics Of Aur Is Dil Mein Kya Rakha Hai )और इस दिल में क्या रखा हैतेरा



ईमानदार (Imaandaar )

'इमाँदर' 1 9 87 की हिंदी फिल्म है जिसमें संजय दत्त, फरहा, विकास आनंद, सत्येंद्र कपूर, नाज और प्राण रणजीत प्रमुख भूमिका निभाते हैं। हमारे पास एक गीत गीत और इमाँदर का एक वीडियो गीत है। कल्याणजी और आनंदजी ने अपना संगीत बना लिया है। आशा भोसले और सुरेश वाडकर ने इन गीतों को गाया है, जबकि प्रकाश मेहरा ने अ



.... कितने ईमानदार.…

ऑफिस में होने वालीधांधली, घूँस एवं दूसरे अनैतिक व्यवहार की स्थिति जानने के लिए नवम्बर 2016 से फरवरी2017 के बीच किए गए । एक शोधकर्ता संस्था- वैश्विक बाजार अनुसंधान एजेंसी (इपसॉस) द्वारा ‘एसिया-पेसेफिक फ़्रौड सर्वे-2017किया गया । इस सर्वे के दौरान विभिन्न बड़ी कम्पनियों में कार्यरत 1,698 कर्मचारियोंके



ईमानदारी जिंदा है अभी तक

ईमानदारी जिंदा है अभी तक आदरणीय राणोजी नमस्कार!      पिछले एक महीने से मैं लगातार सोच रहा था कि, आपकोकिस प्रकार से शुक्रिया अदा करूँ, लेकिन समझ नहीं पा रहाथा। इस भागती-दौड़ती स्वार्थी और मतलबी दुनियां में आपकी ईमानदारी और सरल स्वभाव मेरे लिए एक सुखद एहसास ही नहीं बल्किआर्थिक रूप से भी लाभकारी रहा है।





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x