1


साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने आखिर गलत क्या कहाँ ?

भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जो पूर्व में भी अपने कई बयानों के कारण मीडिया व देश की राजनीति में न केवल चर्चित रही, बल्कि उनके बयानों के कारण भाजपा को शर्मिदंगी भी उठानी पड़ी है, व पार्टी की किरकिरी भी हुई है। प्रधानमंत्री तक को पार्टी की छवि बचाने के लिये यह कहना पड़ा कि गोड़से को देशभक्त बता



मुझे तेरी नज़र ने (Mujhe Teri Nazar Ne )- वह तेरा क्या कहना

वू तेरा काय कहना से मुज तेरी नज़र ने गीत: इस गीत को सुनो जो अल्का याज्ञिक और उदित नारायण की शानदार आवाज़ में है। इस गीत का संगीत जतिन और ललित द्वारा बनाया गया है और मुमे तेरी नज़र ने गीत समीर द्वारा लिखे गए हैं।वह तेरा क्या कहना (Waah Tera Kya Kehna )मुझे तेरी नज़र ने (Mujhe Teri Nazar Ne ) की लिरि



वह तेरा क्या कहना (Waah Tera Kya Kehna )

"Waah Tera Kya Kehna" is a 2002 hindi film which has Govinda, Raveena Tandon, Preeti Jhangiani, Kader Khan, Shammi Kapoor, Mohnish Bahl, Shakti Kapoor, Rana Jung Bahadur, Navneet Nishan, Supriya Karnik, Aashish Vidyarthi, Anil Dhawan, Raju Shrivastava, Anju Mahendroo, Tej Sapru, Rakesh Bedi, Razzak



रब्बा मेरे रब्बा (Rabba Mere Rabba )- मुझे कुछ कहना है

मुज कुच खेना है से रब्बा मेरे रब्बा गीत: यह अनुू मलिक द्वारा अच्छी तरह से तैयार संगीत के साथ सोनू निगम द्वारा एक बहुत अच्छा गाया गया गीत है। रब्बा मेरे रब्बा के गीत खूबसूरती से समीर द्वारा लिखे गए हैं।मुझे कुछ कहना है (Mujhe Kucch Kehna Hai )रब्बा मेरे रब्बा (Rabba Mere Rabba ) की लिरिक्स (Lyrics



मुझे कुछ कहना है (Mujhe Kucch Kehna Hai )

"Mujhe Kucch Kehna Hai" is a 2001 hindi film which has Tusshar Kapoor, Kareena Kapoor, Dalip Tahil, Amrish Puri, Rinke Khanna, Vrajesh Hirjee, Hemant Pandey, Alok Nath, Dinesh Hingoo, Himani Shivpuri, Pankaj Berry, Asha Sharma, Yashpal Sharma and Rashmi Sachdeva in lead roles. We have one song lyri



आँसुओं के भी दाम

आँसुओं के भी दामलब्ज़ खुद ही बयान होते हैं,आँसुओं के भी दाम होते हैंIपंछी, रोको तो दौड़ते बादलों को, व्योम में कहाँ विराम होते हैं I चाँद तारों की दोस्ती रात भर, जुगनुओं के तो नाम होते है Iदुपहरी धूप, जिश्म की जलन, जैसे वर्षों की थकान होते हैं Iअर्श पर चाँदनी,त्रण पर म



“कुछ कहना है”

एक नवगीत......“कुछ कहना है” सभी से दिल खोल के यारों, अभी बहुत कुछ कहना है दिल में मेरे अहम प्रश्न है, सबके सन्मुख रखना है..... कहती है यह धरा सभी से पेड़ लगाओ जरा अभी से मत बहलाओं मन को अपने कलियाँ क्रंदन करें कभी से फूलते बगिया फूल है यारो





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x