खिलाफ

1


ख़िलाफ़त

ना उनको ज़वाब देना है, ना हमको सवाल करना है, मज़ा तो ये है कि हमको ग़रीबी पर मखौल करना है. उनकी हाँ में हाँ करना है, उनकी ना पे ना करना है, नहीं तो कर ख़िलाफ़त क्या तर्ज़े ज़िंदगी खराब करना है. (आलिम)



आतंकवाद

घबराहट है, डर का साया है आतंकवाद ने घमासान मचाया हैमजहब या कि जिहाद के नाम पर आतंकवाद ने मौत का खेल खिलाया हैआतंकी किस मजहब का ? यह तो मानवता का दुश्मनइसमें बस आतंक समाया है मासूमों की जान से खेलाआतंकी ने सब में डर को है घोलायह ना हिन्दु, ना यह मुस्लिम यह तो ब



मेरे खिलाफ

गजल गजल





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x