खुले

कसैले पन का कसाव

(कसैलेपन का कसाव) मेड़मफोटो खीचेंगी यह लाईन अभद्रता भरी लाईन या अभद्रता की प्रतीक थी। एक चाटा भरी आवाजके साथ प्रतीक वर्दियों से घिर गया। किसी के कमर मे काली बेल्ट पैरो मे काले जूतेजिसमे चेरी की पोलिस ही चमक रही थी। किसी के कमर मे बंधी लाल बेल्ट पैरो मे लालजूता वह दरोगा या कह लो सब इंस्पेक्टर यह ला



"खुले गगन में मैना"

”लघु कथा" "खुले गगन में मैना" उड़ रही थी एक मैना निर्भीक होकर खुले गगन में। मगन थी, अपने विश्वास से परिपूर्ण होकर अपने पंख फड़फड़ाये जा रही थी। बे-खबर थी, उन शिकारी परिंदों की ललचायी आँखों से जो अपनी उड़ान तभी भरते हैं जब कोई नयी मैना आकाश से मंत्रमुग्ध होकर अपने हौसलों को हवा में उछाल कर अपने कोमल पंख





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x