कुम्भ

1


मकर, कुम्भ और मीन राशि के लिए गुरु का मकर में गोचर

मकर, कुम्भ और मीन राशि के जातकों के लिए गुरु का मकर मेंगोचरसोमवार 29 मार्च 2020, चैत्र शुक्ल षष्ठी को 27:55 (अर्द्धरात्र्योत्तर तीन बजकर पचपन मिनट) के लगभग आयुष्मान योग और कौलवकरण में गुरुदेव का गोचर मकर राशि में हुआ था | लेकिन 14मई 2020 को रात्रि 7:47 केलगभग वक्री होते हुए गुरु तीस जून 2020 को सूर्



बुध का कुम्भ में गोचर

बुधका कुम्भ में गोचरआज रात्रि 26:54 (अर्द्धरात्र्योत्तरदो बजकर छप्पन मिनट) के लगभग तैतिल करण और सिद्ध योग में बुध का गोचर कुम्भ राशिमें होने जा रहा है | बुध इस समय धनिष्ठा नक्षत्र पर है तथा अस्त है | कुम्भ राशिमें निवास करते हुए बुध 4 फरवरी को शतभिषज नक्षत्र पर भ्रमणकरता हुआ 17 फरवरी को सूर्योदय से



मकर व कुम्भ राशियों के लिए शनि का मकर में गोचर

शनि का मकर में गोचरमाघ मास की अमावस्या को यानी शुक्रवार 24 जनवरी 2020 को दिन में नौ बजकर अट्ठावन मिनट के लगभग अनुशासन और न्याय का कारक मानाजाने वाला ग्रह शनि तीन वर्षों से भी कुछ अधिक समय गुरु की धनु राशि में व्यतीतकरके चतुष्पद करण और वज्र योग में उत्तराषाढ़ नक्षत्र पर रहते हुए ही अपनी स्वयं कीराशि म



शुक्र का कुम्भ में गोचर

शुक्र का कुम्भ राशि में गोचर आज पौष शुक्लचतुर्दशी को सूर्योदय से पूर्व चार बजकर तेईस मिनट के लगभग गर करण और ब्रह्म योगमें समस्त सांसारिक सुख, समृद्धि, विवाह, परिवार सुख, कला, शिल्प,सौन्दर्य, बौद्धिकता, राजनीतितथा समाज में मान प्रतिष्ठा में वृद्धि आदि का कारक शुक्र अपने परम मित्र शनि कीएक राशि मकर से



शुक्र का कुम्भ में गोचर

शुक्र का कुम्भ राशि में गोचर आज दिन में सभीने रंग और उत्साह का पर्व होली धूम धाम से मनाया | सभी को एक बार पुनः इस रंगपर्वकी रंगभरी उल्लासभरी हार्दिक शुभकामनाएँ |आज फाल्गुनकृष्ण प्रतिपदा है, और आज अर्द्धरात्र्योत्तर तथा कल 22 मार्च को सूर्योदय से पूर्व तीन बजकरपैंतालीस मिनट के लगभग कौलव करण और वृद्धि



बसों, ट्रेनों, बाज़ारों में क्यों बजाते हैं किन्नर अजीब ढंग से ताली ? जाने वजह

किन्नरों को ही हमेशा समाज में अलग ही नज़रों से देखा जाता है समाज में इतने बदलाव होने के बावजूद इन लोगों को वो सम्मान नहीं मिला जो मिलना चाहिए। आपने किन्नरों को कई जगह देखा होगा. कभी चौराहों पर तो कभी किसी ट्रेन में. तो कभी यूं ही बाज़ार में. पर शायद कभी इन्हें आम नज़रों



सूर्य का कुम्भ में गोचर

सूर्य का कुम्भ राशि में संक्रमणबुधवार 13 फरवरी माघशुक्ल अष्टमी को प्रातः आठ बजकर 49 मिनट के लगभग बव करण और ब्रह्म योग में सूर्यदेवमकर राशि में अपना भ्रमण पूर्ण करके कुम्भ राशि में प्रस्थान कर जाएँगे | जहाँ वेशुक्रवार 15 मार्च को प्रातः 5:40 तक विचरण करने के बाद मीन राशि में प्रस्थान करजाएँगे | अपनी



तीर्थ राज प्रयाग राज में महापर्व अर्द्ध कुम्भ स्नान

तीर्थ राज प्रयाग राज में महा पर्व अर्द्ध कुम्भ स्नान डॉ शोभा भारद्वाज पुराणों में वर्णित पोराणिक कथाओं के अनुसार देवताओं एवं दानवों ने मिल के समुद्र मंथन किया था तय था समुद्र मंथन से जो रत्न निकलेंगे दोनों पक्ष मिल कर बाँट लेंगे मन्दराचल पर्वत को मथनी बनाया भगवान विष्णु ने कच्छप अवतार धारण कर समुद्र



अर्द्ध कुम्भ के अवसर पर प्रयाग राज में किन्नर अखाड़े का शाही स्नान

अर्द्ध कुम्भ के अवसर पर प्रयाग राज में किन्नर अखाड़े का शाही स्नान डॉ शोभा भारद्वाज प्रसिद्ध समाज सेवी आध्यात्मिक गुरु अजय दास ने किन्नरों को अपने आश्रम में स्थान देकरकिन्नर अखाड़ा बनाया ऋषिवर कई वर्षों से किन्नरों के कल्याण एवं उनकी दशा सुधारनेके लिए प्रयत्न शील थे | क



अर्द्धकुम्भ प्रयागराज २०१९

अर्द्ध कुम्भ प्रयागराज 2019चौदह जनवरी से मकरसंक्रान्ति के स्नान के साथ ही प्रयागराज में अर्द्धकुम्भ मेला आरम्भ होने जा रहाहै | जो चार मार्च को सम्पन्न होगा | कुम्भ मेला हर बारह वर्ष में आता है यह तोसभी जानते हैं | कुम्भ के आयोजन में नवग्रहों में से सूर्य, चन्द्र, गुरु और शनि की भूमिका महत्वपूर्ण मान



योगी सरकार का फैसला: प्रयागराज में मार्च तक नहीं होगी कोई शादी, ये है बड़ी वजह!

प्रयागराज में जनवरी और मार्च के बीच होने वाली शादियों पर योगी सरकार ने बैन लगा दिया है। अगर आपको शादी उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (इलाहाबाद) में करनी है तो आपको शादी की तारीख बदलनी होगी।अगर पहले प्रयागराज में शादी की प्लानिंग थी तो इससे बाहर जाकर भी शादी कर सकते हैं। योगी आ



मंगल का कुम्भ में गोचर

मंगल का कुम्भ राशि में गोचरसर्वप्रथम सभीको दीपमालिका के प्रकाश पर्व की अनेकशः हार्दिक शुभकामनाएँ… सभी का जीवनसुख-समृद्धि-सौभाग्य-स्नेह तथा ज्ञान के आलोक से आलोकित रहे यही कामना है…कल मंगलवार कार्तिककृष्ण चतुर्दशी को प्रातः आठ बजकर बाईस मिनट के लगभग धनिष्ठा नक्षत्र, विष्टि करण और प्रीतियोग में भूमिसु



इलाहाबाद : प्रयाग का इतिहास

Allahabad वाराणसीसेकुछकिलोमीटरदूरहैयहहिंदूधर



जगदम्बा हरि आन ,शठ चाहत कल्याण पार्ट - 1

'जगदम्बा हरि आन, शठ चाहत कल्याण' पार्ट -1 डॉ शोभा भारद्वाज रामलीला के मैदानों मे प्रति वर्ष तीन पुतले जलाए जाते हैं प्रमुख रावण उसके दोनों ओर





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x