लिए

सिरदर्द दूर करने के लिए दवाई नहीं, करें यह योगासन

आज के समय में लोग हर छोटी-बड़ी बीमारी के उपचार के लिए दवाईयों पर निर्भर रहते हैं लेकिन वास्तव में जरूरत से ज्यादा दवाईयों का सेवन स्वास्थ्य को हानि पहुंचाता है। ऐसी बहुत सी स्वास्थ्य समस्याएं हैं, जिनका उपचार बिना दवाईयों के भी किया जा सकता है। ऐसी ही एक स्वास्थ्य समस्या है, सिरदर्द की समस्या। वर्तमा



"गज़ल" पास आती न हसरत बिखरते रहे चाहतों के लिए शोर करते रहे

वज़्न--212 212 212 212, अर्कान-- फ़ाइलुन फ़ाइलुन फ़ाइलुन फ़ाइलुन, बह्रे- मुतदारिक मुसम्मन सालिम, क़ाफ़िया— करते, (अते की बंदिश) रदीफ़ --- रहे"गज़ल" पास आती न हसरत बिखरते रहेचाहतों के लिए शोर करते रहेकारवाँ अपनी मंजिल गया की रुकाकुछ सरकते रहे कुछ फिसलते रहे।।चंद लम्हों की खातिर मिले थे कभीकुछ भटकते रहे कु



वरिष्ठ नागरिकों के लिए शीर्ष 4 निवेश विकल्प

जब वरिष्ठ नागरिकों के लिए निवेश विकल्पों की बात आती है, तो पूंजी की सुरक्षा और नियमित आय दो मुख्य मानदंड है जो कि सामने आते हैं। साथ ही, किसी भी प्रकार की आपात स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त धन जमा करने पर भी ध्यान केंद्रित किया जाता है। वरिष्ठ नागरिकों के लिए सबसे



प्रकृति और हम ( बच्चों केलिए )

((( बच्चों केलिए, जो दिल और दिमाग से बच्चे हैं उनके लिए, जिन्होंने स्वयं के अंदर स्वयं का बचपन जीवित रखा है ))) *प्रकृति और हम*प्रकृति का साथ देने का वादा करें;हम सब मिलकर, प्रकृति का साथ देने का वादा करें। सब में ऊर्जा भरने को, सूरज नित काम करता;हमारे जीवन हेतु,



हमारे अपने सफाई कर्मचारी

हमारे अपने सफाई कर्मचारी डॉ शोभा भारद्वाज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने स्वच्छता अभियान से जोड़नेके लिए जाने माने महानुभावों ,समाज के विभिन्न वर्गों के करीब 2000 लोगों को पत्र लिख कर सफाई अभियान का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित किया है इनमें पूर्व न्यायाधीश, अवकाश प्राप्त अधिकारी, वीरता पुरस्कार क



“मुक्तक”तर्क तौलते हैं सभी लिए तराजू हाथ।

“मुक्तक”तर्क तौलते हैं सभी लिए तराजू हाथ। उचित नीति कहती सदा मिलों गले प्रिय साथ। माँ शारद कहती नहीं रख जिह्वा पर झूठ- ज्ञान-ध्यान गुरुदेव चित अर्चन दीनानाथ॥-१ प्रथम न्याय सम्मान घर दूजा सकल समाज। तीजा अपने आप का चौथा हर्षित आज। धन-निर्धन सूरज धरा हो सबका बहुमान- गाय भाय बेटी-बहन माँ- ममता अधिराज॥-२



हम बने तुम बने एक दूजे के लिए - टाइटल सांग

Hum Bane Tum Bane Ek Duje Ke Liye Lyrics: This is a romantic song from Ek Duje Ke Liye starring Kamal Haasan, Rati Agnihotri, Madhavi and Shobha Khote. It is sung by Lata Mangeshkar and S P Balasubramaniam and composed by Laxmikant and Pyarelal.एक दूजे के लिए (Ek Duje Ke Liye )हम बने तुम बने टाइट



सोलह बरस की बाली उमर को सलाम - एक दूजे के लिए

Solah Baras Ki Baali Umar Ko Salaam Lyrics: This is a lovely song from Ek Duje Ke Liye starring Kamal Haasan, Rati Agnihotri, Madhavi and Shobha Khote. It is sung by Lata Mangeshkar and Anup Jalota and composed by Laxmikant and Pyarelal.एक दूजे के लिए (Ek Duje Ke Liye )सोलह बरस की बाली उमर को सलाम



मेरे जीवन साथी प्यार किये जा - एक दूजे के लिए

Mere Jeevan Saathi Pyar Kiye Ja Lyrics of Ek Duje Ke Liye (1981): This is a lovely song from Ek Duje Ke Liye starring Kamal Haasan, Rati Agnihotri, Madhavi and Shobha Khote. It is sung by Anuradha Paudwal and S P Balasubramaniam and composed by Laxmikant and Pyarelal.एक दूजे के लिए (Ek Duje Ke Liye



तेरे मेरे बीच में - एक दूजे के लिए

Tere Mere Beech Mein Lyrics of Ek Duje Ke Liye (1981): This is a lovely song from Ek Duje Ke Liye starring Kamal Haasan, Rati Agnihotri, Madhavi and Shobha Khote. It is sung by Lata Mangeshkar and S P Balasubramaniam and composed by Laxmikant and Pyarelal.एक दूजे के लिए (Ek Duje Ke Liye )तेरे मेरे ब



एक दूजे के लिए (Ek Duje Ke Liye )

"Ek Duje Ke Liye" is a 1981 hindi film which has Kamal Haasan, Rati Agnihotri, Madhavi, Shobha Khote, Asrani, Satyen Kappu, Madhu Malini, Arvind Deshpande, Raza Murad, Athili Lakshmi, Rakesh Bedi and Geeta in lead roles. We have 4 songs lyrics and 4 video songs of Ek Duje Ke Liye. Laxmikant and Pya



स्टेडियम बेचते हैं: चेल्सी वी ग्लोरी रिकॉर्ड भीड़ आकर्षित करने के लिए

आज पर्थ ग्लोरी के खिलाफ चेल्सी एफसी अनुकूल मैच आधिकारिक तौर पर एक विक्रय आउट है, डब्ल्यूए स्पोर्ट उपस्थिति रिकॉर्ड तोड़ रहा है।ऑप्टस स्टेडियम ने साल की शुरुआत में पहली बार पुष्टि की है कि 60,000 सीटों में से प्रत्येक में इसका कोई व्यक्ति होगा।यह पिछले खेल उपस्थिति रिकॉर्ड सेट को तोड़ देता है जब वेस्



राहुल गांधी जी को अभी राजनीति का ककहरा सीखना है

श्री राहुल गांधी को अभी राजनीति का ककहरा सीखना है ,डॉ शोभा भारद्वाज लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान गरमागर्म बहस चल रही थी देश के दर्शक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के विचार सुनने के उत्सुक थे वह अक्सर बढ़ चढ़ कर बोलते थे जब वह सदन में भाषण देंगे जलजला आ जाएगा मोदी जी उनके सामने खड़े नहीं हो सक



“मुक्तक” शांति का प्रतीक लिए उड़ता रहता हूँ।

“मुक्तक” शांति का प्रतीक लिए उड़ता रहता हूँ। कबूतर हूँ न इसी लिए कुढ़ता रहता हूँ। कितने आए-गए सर के ऊपर से मेरे- गुटरगूं कर-करके दाना चुँगता रहता हूँ॥-१ संदेश वाहक थे पूर्वज मेरे सुनता रहता हूँ। इस मुंडेर से उस मुंडेर भटकता रहता हूँ। कभी खत लटक जाते गले कभी मैं तार से- रास



इन चार दिनों में क्रिकेट में कौन सी शीर्ष चीजें नहीं दिख रही हैं?

बदलें, यह कितना दर्दनाक या खुशी हो सकता है, जीवन में एकमात्र स्थिरता है। यह जीवन में हमारी प्रगति का एक प्रतिबिंब है। खेल, और विशेष रूप से क्रिकेट उपरोक्त तथ्य के लिए कोई अपवाद नहीं है।कालातीत टेस्ट और वर्ल्ड सीरीज़ क्रिकेट से दो के राजमतम तक और अब 100 गेंद के प्रारूप के लिए हालिया धक्का, क्रिकेट पि



इन चार दिनों में क्रिकेट में कौन सी शीर्ष चीजें नहीं दिख रही हैं?

बदलें, यह कितना दर्दनाक या खुशी हो सकता है, जीवन में एकमात्र स्थिरता है। यह जीवन में हमारी प्रगति का एक प्रतिबिंब है। खेल, और विशेष रूप से क्रिकेट उपरोक्त तथ्य के लिए कोई अपवाद नहीं है।कालातीत टेस्ट और वर्ल्ड सीरीज़ क्रिकेट से दो के राजमतम तक और अब 100 गेंद के प्रारूप के लिए हालिया धक्का, क्रिकेट पि



इन चार दिनों में क्रिकेट में कौन सी शीर्ष चीजें नहीं दिख रही हैं?

बदलें, यह कितना दर्दनाक या खुशी हो सकता है, जीवन में एकमात्र स्थिरता है। यह जीवन में हमारी प्रगति का एक प्रतिबिंब है। खेल, और विशेष रूप से क्रिकेट उपरोक्त तथ्य के लिए कोई अपवाद नहीं है।कालातीत टेस्ट और वर्ल्ड सीरीज़ क्रिकेट से दो के राजमतम तक और अब 100 गेंद के प्रारूप के लिए हालिया धक्का, क्रिकेट पि



इन चार दिनों में क्रिकेट में कौन सी शीर्ष चीजें नहीं दिख रही हैं?

बदलें, यह कितना दर्दनाक या खुशी हो सकता है, जीवन में एकमात्र स्थिरता है। यह जीवन में हमारी प्रगति का एक प्रतिबिंब है। खेल, और विशेष रूप से क्रिकेट उपरोक्त तथ्य के लिए कोई अपवाद नहीं है।कालातीत टेस्ट और वर्ल्ड सीरीज़ क्रिकेट से दो के राजमतम तक और अब 100 गेंद के प्रारूप के लिए हालिया धक्का, क्रिकेट पि



इन चार दिनों में क्रिकेट में कौन सी शीर्ष चीजें नहीं दिख रही हैं?

बदलें, यह कितना दर्दनाक या खुशी हो सकता है, जीवन में एकमात्र स्थिरता है। यह जीवन में हमारी प्रगति का एक प्रतिबिंब है। खेल, और विशेष रूप से क्रिकेट उपरोक्त तथ्य के लिए कोई अपवाद नहीं है।कालातीत टेस्ट और वर्ल्ड सीरीज़ क्रिकेट से दो के राजमतम तक और अब 100 गेंद के प्रारूप के लिए हालिया धक्का, क्रिकेट पि



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x