माँ

भगवान शिव की कथाओं का अनसुना पहलु, दो नहीं बल्कि 6 पुत्रों के पिता थे शिव

आपने भगवान विष्णु के पुत्रों के नाम पढ़े होंगे। नहीं पढ़ें तो अब पढ़ लें- आनंद, कर्दम, श्रीद और चिक्लीत। विष्णु ने ब्रह्मा के पुत्र भृगु की पुत्री लक्ष्मी से विवाह किया था। शिव ने ब्रह्मा के पुत्र दक्ष की कन्या सती से विवाह किया था, लेकिन सती तो दक्ष के यज्ञ की आग में कूदकर भस्म हो गई थी। उनका तो को



नदी तुम माँ क्यों हो...?

नदी तुम माँ क्यों हो...?सभ्यता की वाहक क्यों हो...?आज ज़ार-ज़ार रोती क्यों हो...? बात पुराने ज़माने की है जब गूगल जीपीएसस्मार्ट फोन कृत्रिम उपग्रह पृथ्वी के नक़्शे दिशासूचक यंत्र आदि नहीं थे एक आदमीअपने झुण्ड से जंगल की भूलभुलैया-सी पगडं



माँ

ये कविता एक माँ के प्रति श्रद्धांजलि है। इस कविता में एक माँ के आत्मा की यात्रा स्वर्गलोक से ईह्लोक पे गर्भ धारण , बच्ची , तरुणी , युवती , माँ , सास , दादी के रूप में क्रमिक विकास और फिर देहांत और देहोपरांत तक दिखाई गई है। अंत में कवि माँ क



बादल ने पूछा धरती से

बादल ने पूछा धरती से तुंम इतनी सहनशील कैसे रहती होमें बदली बरसा दूँ तो तुममिटटी की सुगंध बिखेर देती होझूम झूम कर बरसूं तो जल समेट लेती होबरसा दूँ ओले तो दर्द सहकर भी कुछ नही कहती होधरती मुस्काई, बोली तुंम भी पिता की तरहबच्चों के



माँ का दर्द

काश चिड़िया चहचहाती, मेरे आँगन मेंज़िन्दगी फिर मुस्कुराती,मेरे आँगन में ब्याह दी बिटिया सयानी, रच गई घर-बार मेबेटे की वो ही कहानी, हैं बहू के प्यार मेझान्झने कब झन झनझनाती, मेरे आँगन में अख़बार के प़न्ने पलटते, दिन मे वो, सौं स



बच्ची के साथ ड्यूटी करती महिला सिपाही की तस्वीर वायरल, खुश होकर डीजीपी ने किया ट्रांसफर

झांसी में एक महिला सिपाही के छह माह की बच्ची के साथ लगातार ड्यूटी करने का फल मिल गया। काम के प्रति उसके समर्पण को देखते हुए डीजीपी ओपी सिंह ने इस महिला सिपाही को उसके घर आगरा के पास पोस्टिंग देना का आश्वासन दिया। अब सिपाही अर्चना को उसके गृह जनपद आगरा के करीब तैनाती मिलेग



चपैय्या छंद, हे माँ जग जननी, तुम्हरी अवनी, नाम रूप जगदंबा। शक्ति पीठ बावन, अतिशय पावन, नमन करूँ माँ अंबा।।

जय नव दुर्गा ^^ जय - जय माँ आदि शक्ति - छंद, शिल्प विधान, 10, 8, 12 मात्रा पर यति, प्रथम दो यति पर सम तुकांत, व प्रथम द्वितीय चरण का सम तुकांत....... ॐ जय माँ शारदा.......!शारदीय नवरात्रि के पावन अवसर पर माँ जगत जननी नवदुर्गा के 51 शक्तिपीठ को नमन करते हुए आप सभी को हार्दिक बधाई, ॐ जय माता दी!"चवपैय



दुर्गा पूजा पर निबंध हिंदी में

दुर्गा पूजा के महत्त्व पर निबंध हिंदी में-Essay on Durga Pooja.दुर्गा पूजा पर निबंध: हम भारत देश में रहते है यहाँ विभिन्न धर्मो के लोग आपस में भाईचारे के साथ रहते है जैसे- हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई| और अलग अलग धर्मो को मानते है| दुर्गा



कश्मीर में सौतेली मां के कहने पर बच्ची से गैंगरेप, आंखें निकालीं

जम्मू-कश्मीर में 9 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप और हत्या की खौफनाक घटना सामने आई है. सौतेली मां और सौतेला भाई सहित 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. 23 अगस्त से ही लड़की गायब थी. उरी के रहने वाली लड़की के पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज भी कराई थी. 2 सितंबर तो लड़की की डिकम्पोज्ड बॉडी बारामूला के पास



World Breastfeeding Week 2018: पार्लियामेंट हाउस हो या रैम्प, जब ब्रेस्टफीडिंग करती माओं की ये तस्वीरें हुईं Viral

ब्रेस्टफीडिंग (Breastfeeding) को बढ़ावा देने के लिए हर साल 1 से 7 अगस्त के बीच ब्रेस्टफीडिंग वीक मनाया जाता है. इस साल ब्रेस्टफीडिंग वीक की थीम है "Breastfeeding: Foundation for Life". वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के मुताबिक नवजात बच्चे के शुरुआती 6 महीने सिर्फ उन्हें मां का



“कुंडलिया”ममता माँ की पावनी छाया पिता दुलार।

“कुंडलिया”ममता माँ की पावनी छाया पिता दुलार। वंश बेल सम्यक प्रकृति चर्चित बालक प्यार॥ चर्चित बालक प्यार रार कब करते तरुवर। शिशु से है संसार स्नेह का सागर प्रियवर॥ कह गौतम कविराय हृदय की मोहक क्षमता। खेल रहा प्रिय गोद पिता मन विह्वल ममता॥ महातम मिश्र गौतम गोरखपुरी



तुझको मैंने यह दिल दे दिया (Tujhko Maine Yeh Dil De Diya )- माँ तुझे सलाम

तुजको मेन ये दिल दे दीया का गीत मा तुजहे सलाम (2002): यह सनी देओल, तबू, अरबाज खान और मोनाल अभिनीत मा तुजहे सलाम का एक प्यारा गीत है। यह अल्का याज्ञिक द्वारा गाया जाता है और साजिद-वाजिद द्वारा रचित है।माँ तुझे सलाम (Maa Tujhe Salaam )तुझको मैंने यह दिल दे दिया (Tujhko Maine Yeh Dil De Diya ) की लिर



वन्दे मातरम (Vande Mataram )- माँ तुझे सलाम मूवी टाइटल सांग

मा तुजहे सलाम - वंदे मातरम के गीत मा तुजहे सलाम (2002): यह सनी देओल, तबू, अरबाज खान और मोनाल अभिनीत मा तुजहे सलाम का एक प्यारा गीत है। यह शंकर महादेवन द्वारा गाया जाता है और साजिद-वाजिद द्वारा रचित है।माँ तुझे सलाम (Maa Tujhe Salaam )वन्दे मातरम (Vande Mataram ) मूवी टाइटल सांगकी लिरिक्स (Lyrics



माँ तुझे सलाम (Maa Tujhe Salaam )

"Maa Tujhe Salaam" is a 2002 hindi film which has Sunny Deol, Tabu, Arbaaz Khan, Monal, Tinu Verma, Mohan Joshi, Sudesh Berry, Sharat Saxena, Rajat Bedi, Malaika Arora, Vivek Shauq, Om Puri, Deep Dhillon, Brij Gopal, Ali Khan, Raja Jung Bahadur, Bahadur, Prithvi, Anang Desai, Avtar Gill, Inder Kuma



भोले मुसाफिर इतना तो जान (Bhole Musafir Itna To Jaan )- माँ बाप

भोल मुसाफिर इटना टू बाण से जय गीत: इस गीत को सुनें जो झोराबाई अंबलवाली की शानदार आवाज़ में है। इस गीत का संगीत एला राखा और भोल मुसाफिर इटना टू जान गीत द्वारा रचित है, जिसे रूबानी ने लिखा है।माँ बाप (Maa Baap )भोले मुसाफिर इतना तो जान (Bhole Musafir Itna To Jaan ) की लिरिक्स (Lyrics Of Bhole Musafi



माँ बाप (Maa Baap )

'मा बाप' 1 9 44 की हिंदी फिल्म है जिसमें नाज़िर, वीना और याकूब प्रमुख भूमिका निभाते हैं। हमारे पास मा बाप के एक गीत गीत हैं। आला राखा ने अपना संगीत बना लिया है। झोराबाई अंबलवाली ने इन गीतों को गाया है जबकि रूबानी ने अपने गीत लिखे हैं।



आईने के सौ टुकडे करके हमने देखे हैं (Aaine Ke Sau Tukade Karke Hamne Dekhe Hain )- माँ

Aaine Ke Sau Tukade Karke Hamne Dekhe Hain Lyrics of Maa : Aaine Ke Sau Tukade Karke Hamne Dekhe Hain is a beautiful hindi song from 1991 bollywood film Maa. This song is composed by Anu Malik. Kumar Sanu has sung this song. Its lyrics are written by Hasrat Jaipuri. माँ (Maa )आईने के सौ टुकडे करके ह



माँ (Maa )

'मा' 1 99 1 की हिंदी फिल्म है जिसमें जीतेन्द्र, जया प्रदा, अरुणा ईरानी, ​​शक्ति कपूर, केदार खान, बीरबल, सहिला चड्डा, गुलशन ग्रोवर, विजू खोटे, गुड्डी मारुति और सुषमा सेठ प्रमुख भूमिका निभाते हैं। हमारे पास और मा के एक गीत गीत हैं अनु मलिक ने अपना संगीत बना लिया है कुमार सानू ने इन गीतों को गाया है जब



हे जन्म भूमि ! माते धरती

इसी धरा , इसी जमीं पर जीवन मुझे हर बार मिलेहे जन्म भूमि ! माते धरतीहर जन्म में तेरा प्यार मिले।। कितनी प्यारी ये धरती हैंकितनी हैं इसकी सुन्दरताइसकी माटी की सौंधी महकतन मन को कर देती ताजाकितनी शक्ती हैं तुझमें माँहम सब के बोझ को है झेलेहे जन्म भूमि



“मुक्तक”सौंप दिया माँ-बाप ने गुरु को अपना लाल।

माँ शारदे को नमन करते हुए समस्त मंच के गुणीजनों को मेरा वंदन अभिनंदन। आप सभी को गुरु पूर्णिमा की हार्दिक बधाई। “मुक्तक”सौंप दिया माँ-बाप ने गुरु को अपना लाल। विनय शारदा मातु से साधक शिक्षक भाल। शब्द-शब्द अक्षर प्रखर ज्ञानी गुरु महान- नमन शिष्य गौतम करे चरण कमलवत नाल॥-१ज्ञ



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x