महिलाओं

1


रानी बेटी लाडली बेटी

रानी बेटी लाडली बेटी डॉ शोभा भारद्वाज महिला शक्ति- भारतीयवायुसेना के पास फाईटर प्लेन उड़ाने वाली दस महिला पायलेट हैं फाईटर प्लेन सुपरसोनिक जेट्स उड़ाना आसान नहींहै इन्हें कठिन ट्रेनिग से गुजरना पड़ता है . बनारस की प्लाईट लेफ्टिनेंट शिवानीसिंह दुनिया के सर्वोत्तम श्र



सभी महिलाओं को समर्पित

सभी महिलाओं को समर्पित============================बेटा घर में घुसते ही बोला ~ मम्मी, कुछ खाने को दे दो, बहुत भूख लगी है.यह सुनते ही मैंने कहा ~ बोला था ना, ले जा कुछ कॉलेज. सब्जी तो बना ही रखी थी.बेटा बोला ~ मम्मी, अपना ज्ञान ना ... अपने पास रखा करो. अभी जो कहा है, वो कर दो बस, और हाँ, रात में ढंग क



महिल

जिसकी अपनी महत्ता है।



वर्क-फ्रॉम-होम

वेबसाइट- jobsforher.comयह जॉब पोर्टल खासतौर से उन महिलाओं के लिए डिजाइन किया गया है, जो अपने कॅरियर से कुछ समय ब्रेक लेने के बाद दोबारा जॉब की तलाश में हैं। आपको इस पोर्टल पर ज



रानी बेटी ,लाडो बेटी असुरक्षित क्यों ?

रानी बेटी ,लाडो बेटीअसुरक्षित क्यों ?डॉ शोभा भारद्वाज देश में एक ही प्रश्न पूछा जा रहा है देश कीलगभग 48% आबादी महिलायें हैं |हर क्षेत्र में महिलायें पुरुष समाज से कमतर नहीं हैकई क्षेत्रों में आगे हैं |देश के विकास में उनका बराबर का योगदान है नेवी में एकमहिला पायलेट बनी , फाईटर पायलेट हैं लेकिन असुर



देश और समाज के विकास में महिलाओं का योगदान अहम्

-स्वाति आनंदनारी ईश्वर की उत्कृष्ट सृष्टि है । कहते है कि नारी को देवी का रूप मन जाता है।देश के सम्पूर्ण विकास में इस देवी की भागीदारी अनिवार्य है। किसी भी समाज या देश के विकास में नारी का योगदान महत्वपूर्ण होता है। किसी भी राष्ट्रनिर्माण या समाज के विकास में जब तक न



लड़कियों में 16 वर्ष की उम्र में होने वाले अहम बदलाव

जैसा कि हम सभी जानते है कि बदलते समय के साथ ही सभी लोगों में शारीरिक परिवर्तन देखने को मिलते है जब कोई लड़का या लड़की 16 साल के उम्र के पड़ाव को पार कर लेते है तो उनके शरीर और सोच में काफी सारे बदलाव होने लगते है। बात जब लड़कियों की होती है तो उनमें इस सिलसिले की शुरुआत 14 वर्ष की उम्र के साथ ही नजर



महिलाओं की कमजोरी दूर करने के अचूक उपाय

आजकल के व्यस्तता भरे जीवन में सभी लोगों को खान-पान का आहार बदल रहा है जिस कारण से अक्सर महिलाओं को रोगों से घिरा रहना पड़ता है कभी मोटापा के कारण तो कभी कमजोरी व थकान के कारण। सबसे अधिक दिक्कत तो युवतियों को तब होती है जब उनका मासिक धर्म चक्र आता है जिससे उनके शरीर मे



महिला

'महिला' सृष्टि का अनमोल ख़जाना महिला है बहुत महाना त्याग, बलिदान की सच्ची मूरत नारी की है सृष्टि पर



महिला दिवस क्यों मनाते है ? || Why Celebrate Women's Day

महिला दिवस क्यों मनाते है? प्रत्येक वर्ष के 8 मार्च को विश्व महिला दिवस में मनाया जाता है। यह दिन महिलाओं को सम्मान देने के उद्देश्य से उत्साहपूर्वक मनाया जाता है, और इससे महिला सशक्तिकरण का संदेश भी पूरी दुनिया तक पहुंचाया जाता है। इसक



नार्थ कोरिया को अमेरिका और साउथ कोरिया के गठबंधन से आपत्ति

उत्तर कोरियाई मीडिया ने दक्षिणी कोरियाई राष्ट्रपति मून जेए-इन और स्थानीय अधिकारियों को शनिवार को संयुक्त राज्य अमेरिका और अंतर-कोरियाई मुद्दो



खुशियों का फैसला

खुशियों का फैसला जो भावना मानवता के प्रति अपना फर्ज निभाने से रोकती हो क्या वो धार्मिक भावना हो सकती है? जो सोच किसी औरत के संसार की बुनियाद ही हिला दे क्या वो किसी मजहब की सोच हो सकती है? जब निकाह के लिए लड़की का कुबूलनामा जरूरी होता है तो तलाक में उसके कुबूलनामे को अ



महिलाओं को ' हिलाओं ' बनाने में भी पुरुषों का हाथ

जी हाँ, यह अब तक का सबसे बड़ा खुलासा है. खुलासा करने वाली कोई महिला नही बल्कि एक लड़का कर रहा है. यह कोई गलत बात नहीं हैं आपने भी तो देखा ही होगा, ये 'हिलाओं' वाला कारनामा और यह



अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर हार्दिक बधाई

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस हर वर्ष 8 मार्च को विश्व के विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं के प्रति सम्मान, प्रशंसा और प्यार प्रकट करते हुए इस दिन को महिलाओं के आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक उपलब्धियों के उपलक्ष्य में उत्सव के तौर पर मनाया जाता है। यह दिन हमें महिलाओं को दोयम दर्जे से मुक्ति के फलस्वरूप किय





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x