1


बचपन

कुछ फ़र्ज थे, तो थी कुछ जिम्मेदारीयाकुछ हालात थे, तो थी कुछ मजबूरीयाथा तो वो हमारा बचपन का ही समयमगर वक़्त से पहले ही हमें बड़ा बना दिया गया



मासूम

हर नकाब में खूबसूरत चेहरा नहीं होता,बदसूरती को भी उसमे छिपाया जाता है, हर हाथ दुआ देने के लिए नहीं उठता, जान लेने को भी हाथ उठाया जाता है. सच को जानना यूँ आसान नहीं आलिम,कुछ झूठों को भी सच बताया जाता है. कत्ल ना जाने कितने



मासूम बचपन और हैवानियत का दंश

मासूमों पर वहशियों की नजर क्या पडी. बचपन बर्बाद हो गया. इंसानियत शर्मसार हुई तो संस्कारों पर भी सवाल खड़े हो गए. बाल उत्पीड़न के बढ़ते आंकड़े यह सोचने पर बाध्य करते हैं कि विश्व की सर्वश्रेष्ठ संस्कृति में कहां चूक हो गई कि भगवान स्वरूप बच्चे ही हैवानों का शिकार होने लगे. कभी अपनों की तो कभी गैरों क



“ अंतर्राष्ट्रीय दिवस ‘आक्रमक दुर्व्यवहार के शिकार, मासूम बच्चे ” (International Day of Innocent Children Victims of Aggression) 4 जून

....खिलने से पहले ही मुरझाता बचपन,येशोषित ये कुंठित ये अभिशप्त बचपन....आजके समाज मे बच्चों की स्थिति का अनुमान लगाने के लिए उपरोक्त दो लाइनें ही काफी है। हो सकता है कि बड़े या मध्यम वर्गीय परिवार में रहने वाले बच्चों की स्थिति आपकोसही लग



मासूमीयत

शर्मा जी अभी-अभी रेलवे स्टेशन पर पहुँचे ही थे। शर्मा जी पेशे से मुंबई मे रेलवे मे ही स्टेशन मास्टर थे। गर्मी की छुट्टी चल रही थी इसलिए वह शिमला घूमने जा रहे थे, उनके साथ उनकी धर्मपत्नी मंजू और बेटी प्रतीक्षा भी थी। ट्रेन के आने मे अभी समय था।तभी सामने एक महिला अपने पाँच स



22 अगस्त 2015

मासूम जज़्बात!

अल्फ़ाज़ बयां कर सकते है, मासूम उन जज़्बातों को,तलवारों के आलापों को, और ख़ामोशी की आवाज़ो को,पर जो बयां कर सकते हो, इस दिल में दबी बैचेनी को,ए दिल बता, वो लफ्ज़ कहाँ पर मिलते हैं !



ग़ज़ल -एहसास

वो दिल में दर्द ,होठों पे मुस्कान मांगते हैं ,मुझसे मेरे हमराह ,मेरी जान मांगते हैं |मुद्दत गुज़ार दी ,हमने जिस दयार में ,अब वो दरो-दीवार ही ,पहचान माँगते हैं |मज़बूर हो गया हूँ ,मैं ज़िन्दगी के हाथों ,रिश्ते कदम-कदम पर ,ईमान मांगते हैं |अब आदमी की नीयत,मासूमियत तो देखो,क़ातिल से ज़िन्दगी का ,वरदान





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x