में



क्या ‘‘कोरोना’’ ने ‘‘नौकरशाही’’ को कुंठित तो नहीं कर दिया है?

लॉकडाउन-4 समाप्त! लॉकडाउन-5 प्रारंभ नहीं। बल्कि इसकी जगह देश अनलॉक-1 (नॉकडाउन-1) के नये दौर में देश प्रवेश कर रहा हैं। यह नया दौर कैसा होगा, यह तो भविष्य ही बतलायेगा। आइये, तब तक नौकरशाही द्वारा जारी अपरिपक्व आधे-अधूरे आदेशों निर्देशों के संबंध में गुजरे लॉकडाउन का थोड़ा अवलोकन कर लें। ‘देश’ व ‘जीवन



प्रेग्नेंसी में एचआईवी और एड्स के लक्षण

गर्भावस्था के नौ महीने किसी भी महिला के लिए जीवन के सबसे अनमोल पल होते हैं। इस दौरान, अजन्मे बच्चे को स्वस्थ और सुरक्षित रखने के लिए गर्भावस्था शुरू होते ही विभिन्न प्रकार के टीके दिए जाते हैं।एचआईवी एड्स के लक्षण किसी भी व्यक्ति में एकदम दिखाई नहीं देते हैं। लेकिन यह



नर्तकी ( कहानी )

नर्तकी a अम्बुज जब तीन दिन के बादविभावरी के घर पंहुचा तो वह उससे बिलकुल नहीं बोली और मुँह फुलाये बैठी मेजपोशकाढती रही | वह पास ही कुर्सी पर बैठ गया और मेजपोशखींचते हुए बोला -`` पता है , मैं कल सुबह ही पूरे एक साल के लिए बनारस जारहा हूँ और तुम हो कि काढने से ह



गले की दर्द के लिए आजमाएं यह आसान घरेलू उपाय

गले के दर्द की समस्या कई बार मौसम के बदलने से भी होती है, लेकिन कई बार यह बैक्टीरिया और वायरस द्वारा भी हो सकता है। गले का दर्द बहुत ही बीमारियों का लक्षण भी हो सकता है। जब किसी व्यक्ति को बुखार, सर्दी-जुकाम, कान दर्द, गले या मुंह के कैंसर जैसी गम्भीर बीमारी उत्पन्न हो रही हो तो उसे भी गले का दर्द ह



Hindi Inspirational poetry on life - मृत  टहनियाँ ; अर्चना की रचना

जीवन पर प्रेरक हिंदी कविता मृत टहनियाँवो टहनियाँ जो हरे भरे पेड़ोंसे लगे हो कर भीसूखी रह जाती है जिनपे न बौर आती है न पात आती है आज उन मृत टहनियों को उस पेड़ सेअलग कर दिया मैंने… हरे पेड़ से लिपटे हो कर भी वो सूखे जा रही थी और इसी कुंठा में उस पेड़ को ही कीट बन खाए जा रही



कोरोना का कहर

मनुष्य पर छाई है छिपी अंधेरा, रूप धारण कर वाईरस कोरोना ।इसका अर्थ है मनुष्य पर भारी , क्योंकि है ये महामारी ।अब मानव की दशा क्या होगी ?क्या कोरोना की विदाई होगी ?देख दृश्य मन विचलित हो उठता, क्या यही है सभ्य की कृपा ।क्या यह , मानव जीवन सिहर उठेगा ?या संसार पुनः हिलस उठेगा ?



गर्भावस्था में बेबी की मूवमेंट कब और कैसे होती है?

अपने बच्चे की लात मारना, मरोड़ते और हिचकी महसूस करना गर्भावस्था के सबसे खूबसूरत क्षणों में से एक है। यह भी एक प्रमाण है कि आपके भीतर एक नया जीवन विकसित हो रहा है। लेकिन गर्भावस्था में शिशु का अत्यधिक हिलना माँ के भीतर कई सवाल और संदेह पैदा करता है, जैसे कि क्या मेरा बच्चा पर्याप्त किक मार रहा है या



गर्भवस्था के दौरान आयरन की कमी होने के कारण और इसका उपचार !

आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया रक्त विकार का एक प्रकार है। आपके शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं में हीमोग्लोबिन होता है, जो आपके पूरे शरीर में ऑक्सीजन का संचार करता है। शरीर को पर्याप्त स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण करने और अपने हीमो



साधुओं की हत्या

वीर भूमि पर संतों की निर्मम हत्या के हृदय विदारक कुकृत्य पर इनके परशुराम व दुर्वासा जैसे रौद्र स्वरूप का आह्वान करता हूँ ताकि इन नीच प्रवृत्तियों के दानवों का संहार हो सके !! नियति इन क्रूर पापियों को उनके कृत्यों की प्रबल यातना से भी दुष्कर दंड दे व ईश्वर जूना अखाडे के दिवंगत साधुओं को अपने श्रीचरण



फिस्सर के लक्षण, कारण, निदान और इलाज

फिशर गुदा के अस्तर में एक छोटा सा कट या फाड़ है। मल त्याग के दौरान और बाद में फिशर से गंभीर दर्द और रक्तस्राव हो सकता है। कभी-कभी फिशर इतना गहरा होता है कि यह मांसपेशियों के नीचे के टिश्यू को उजागर करता है। एनालफिशर आमतौर पर गंभीर स्थिति नहीं होती है। यह किसी भी उम्र के लोगों को प्रभावित कर सकता है



नज़र से नज़र की सिफ़ारिश न होती

नज़र से नज़र की सिफ़ारिश न होतीतो दिल में मोहब्बत की ख़्वाहिश न होतीसभी अपनी तहज़ीब पहचानते अगरबदन की कहीं भी नुमाइश न होतीख़लल कुछ इबादत में पड़ता नहीं तबजो इन्सां की फ़ितरत में लग्ज़िश न होतीअगर तुम न मिलते हमें ज़िंदगी मेंजहां में हमारी रिहाइश न होतीछुपाए मोहब्बत कभी छुप सकी क्याकहाँ तक इन आँखों से बारिश न



08 अप्रैल 2020

दूर ही रहना

प्यारे देशवासियों,आप सभी जानते हैं इन दिनों हमारा देश कोरोना वायरस जैसी महामारी से जूझ रहा है। यह एक ऐसी भयानक बीमारी है जो एक इंसान से दूसरे में और धीरे-धीरे समाज में फैलती है। आपस में ज़्यादा मिलने जुलने और संपर्क बढ़ने से इसका वायरस बहुत तेजी से फैलता है। सिर्फ एहतियात बरतकर ही इस बीमारी से बचा जा



क्रोध प्रबंधन

क्रोध प्रबंधन क्रोध यानी गुस्सा जो की एक आम भाव है और हम सभी में मोजूद होता है। बच्चो से लेकर बड़ों तक क्रोध सभी को आता है। हमें बचपन से क्रोध ना करने के लिए सिखाया जाता है, पर क्रोध आने पर उसको कैसे नियंत्रण में लाया जाता हैं ये कोई नहीं बताता।क्रोध प्रबंधन (anger management) में हम अपने क्रोध को कै



ग़ज़ल

हम तुम्हें अब ये बताना चाहते हैं हम सभी से दूर जाना चाहते हैं घर में बेटी कैदकर के रखने वाले चार-सू चिड़िया उड़ाना चाहते हैं आँख से आँसू गिराकर उम्रभर हम प्यास होंठो की बुझाना चाहते हैं हम सियासत क्या करेंगे आप करिये हम तो अच्छा आबदाना चाहते हैं



गर्भावस्था में बेबी की मूवमेंट कब होती है?

गर्भवती महिला के लिए वह पल बेहद खास होता, जब उसे अपने गर्भधारण का पता चलता है। यह ख़ुशी तब और बढ़ जाती है, जब उसे गर्भ में पहली बार अपने शिशु की हलचल बार बार महसूस होती है। शिशु जब पहली बार पेट में लात मारता है, तो उसे समझने के लिए गर्भवती महिला को उस पर थोड़ा ध्यान द



जनता कर्फ़्यू

अब अपने को अपने ही घर मे कैद कर,अपने और अपने देश की कर लो हिफ़ाजत आज।अब जो आयीं ये संकट की घड़ी तो मिलकर काट लो आजबस ये मानों , आज ख़ुद से खुद के लिये एक जंग हैं,,पर ये देश हमारा ही एक अभिन्न अंग हैं।हा माना,, हमनें कभी इतनी बंदिशों में जीना नहीं सीखा,, पर यह तो समझो ये बंदिशे ही,, हमारा आने वाला कल है



गुरु का मकर में गोचर

सभी बारह राशियों के लिए गुरु का मकर में गोचरआज जब सारा विश्व कोरोना वायरस के आक्रमण से जूझ रहा है ऐसे में कुछलोगों का आग्रह कि गुरु के मकर राशि में गोचर के सम्भावित परिणामों के विषय मेंलिखें – हमें हास्यास्पद लगा | किन्तु फिर भी, मित्रों केअनुरोध पर प्रस्तुत है सभी बारह राशियों पर गुरुदेव के मकर राश



गुरु का मकर में गोचर

गुरु का मकर में गोचरआज जब सारा विश्व कोरोना वायरस के आक्रमण से जूझ रहा है ऐसे में कुछलोगों का आग्रह कि गुरु के मकर राशि में गोचर के सम्भावित परिणामों के विषय मेंलिखें – हमें हास्यास्पद लगा | किन्तु फिर भी, मित्रों केअनुरोध पर प्रस्तुत है गुरुदेव के मकर राशि में गोचर के सम्भावित परिणामों पर एकदृष्टि



जग में मचा है रोना धोना

जग में मचा हुआ है रोना धोनामिलकर मार भगाओ ये कोरोनाछोटा बच्चा है या कोई बड़ा हैकैद हर शख्स घर में ही पड़ा हैछाया यही एक खौफ चारों ओरटूट न जाए कहीं ये जीवन डोरमुश्किल में होश नहीं अपने खोनामिलकर मार भगाओ ये कोरोनाकिताबों से यही सदा सीखा ज्ञानसफाई का हमको रखना है ध्यानसाफ रखो



शुक्र का वृषभ में गोचर

शुक्र का वृषभ में गोचरशनिवार 28 मार्च, चैत्र शुक्ल चतुर्थी को विष्टि करण और विषकुम्भयोग में दिन में 3:38 के लगभग समस्त सांसारिक सुख, समृद्धि, विवाह, परिवार सुख, कला, शिल्प,सौन्दर्य, बौद्धिकता,राजनीति तथा समाज में मान प्रतिष्ठा में वृद्धि आदिके कारक शुक्र का अपनी स्वयं की राशि वृषभ में प्रस्थान करेगा



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x