मेरी

मैं तेरे साथ जी न सका ,अकेला मर तो सकता हूँ

मैं तेरे साथ जी नहीं सका, अकेलामर तो सकता हूँ डॉ शोभा भारद्वाज रिसेटेलमेंट कालोनी के छोटेप्लाट में बने चार मंजिला घर में हा –हाकार मचा था उस घर के जवान बेटे ने फांसीलगा ली थी घर का कमाऊ बेटा तीन भाई पाँच बहनों का भाई अंधे पिता ,बीमार माँ कासहारा जिसने भी सुना हैरान रह गया फांसी के बाद लम्बी गर्दन



मेरी उडान

मैं चाहें जितना उडूं वो उतार ही देगा चलाके तीर मेरे दिल पे मार ही देगा मेरे नसीब में ताउम्र शोहरतें ही नहीं खुदा जो देगा बुलंदी उधार ही देगा मैं खुद भी जीतने के ख्वाब मार बैठा हूँ मैं जानता हूँ मुझे तू तो हार ही देगा मुझे खुद अपने ही चेहरे पे ऐतबार नहीं छुपाऊं लाख ग़मों को उभार ही देगा मैं रिस्क



हर बात मेरी एक प्रश्न बन गई l

हर बात मेरी एक प्रश्न बन गई lश्वेत चादर मेरी कृष्ण बन गई llहर बात मेरी एक प्रश्न बन गई lअश्रुओं ने कही जिंदगी की कहानी,शत्रु बन गए चक्षु और पानी,जिंदगी से लड़ता रहा मौत से ना हार मानी,त्रासदी भी मुझे छूकर एक जश्न बन गई lहर बात मेरी एक प्रश्न बन गई lश्वेत चादर मेरी कृष्ण बन गई llअधरों की मूक स्वीकृति



भगवान शिव

महादेव को शब्दों में बांधना असंभव है फिर भी मैंने एक प्रयत्न किया है कि मैं जगत के स्वामी देवाधिदेव महादेव को अपनी कविता के माध्यम से आप सबके समझ उनके स्वरूप का वर्णन करने का प्रयत्न करूँ।हर हर महादेव



मेरी कामना - निज रास्ता

** मेरी कामना - निज रास्ता **यह है मेरी कामना; मिल ही जाए मुझे मेरा रास्ता; मिल ही जाए तुझे तेरा रास्ता; मिल ही जाए मुझे मेरा रास्ता, मेरा निज रास्ता; मिल ही जाए तुझे तेरा रास्ता, तेरा निज रास्ता। मिटा दे भटकन ऐसा रास्ता; होश संग मदहोश रखे ऐसा रास्ता। मिल ही जाए



अपनी परेशानी

जब था छोटागाँव में, घर मेंसबका प्यारा, सबका दुलाराथोडा सा कष्ट मिलने परमाँ के कंधे पररखकर अपना सिरसरहोकर दुनिया से बेखबरबहा देता, अपने सारे अश्कमाँ के हाथ की थपकियाँदेती सांत्वनासाहस व झपकियाँसमय ने, परिस्थितियों नेउम्र से पहले बड़ा कर दियाअब जब भीजरूरत महसूस करतासांत्वना, आश्वासन कीमाँ के पास जाता



तुम अच्छी हो - श्रेष्ठ औरों से

<!--[if gte mso 9]><xml> <o:OfficeDocumentSettings> <o:AllowPNG/> </o:OfficeDocumentSettings></xml><![endif]--><!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:Save



रिक्त पात्र - शून्य

रिक्त पात्र – शून्य क्या करना है पूर्ण पात्र का, उसका कोई लाभ नहीं है |रिक्त पात्र हो, तो उसमें कितना भी अमृत भर जाना है ||1||सकल सृष्टि है टिकी शून्य पर, और शून्य से आच्छादित है |शून्य से है पाता प्रकाश जग, पूर्ण हुआ तो अन्धकार है |क्या करना है आच्छादन का, मुझको तो प्रक



मेरे मानस का शुभ्रहंस

मैंनेदेखा खिड़कीकी जाली के बीच से आती रेशमकी डोर सी प्रकाश की एक किरण को मुझ तकपहुँचते ही जो बदल गई एकविशाल प्रकाश पुंज में औरलपेट कर मुझे उड़ा लेचली एक उन्मुक्त पंछी की भाँतिउसी प्रकाश-किरणके पथ से / दूर आकाश में जहाँकोई अनदेखा भर रहाथा वंशी के छिद्रों में / अलौकिक सुरों के आलाप जहा



पूर्व प्रधान मंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी जी को अर्पित श्रद्धा सुमन

पूर्व प्रधान मंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी बाजपेयी जी को अर्पित श्रद्धा सुमन डॉ शोभा भारद्वाज स्वर्गीय प्रथम प्रधान मंत्री श्री जवाहर लाल नेहरू ने संसद में अटल जी के पहले भाषण पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था एक दिन अटल देश के प्रधान मंत्री पद पर पहुंचेगे |श्री अ



शत शत नमन

घर घर में दीप जलाने हित जो खुद जलताथा हर एक पल वो दीप आज बुझ गया, मगर ज्योतित कर ये संसार गया |||भारत की अतुलित वाणी की गोदी सूनी होगई आज कर अटल सत्य का वरण आज वह परमतत्व मेंलीन हुआ || माँ भारती के वरद पुत्र - शत शत नमन काल के कपाल पर लिखता मिटाता हूँ, गीत नया गाता हूँ हा



कजरारी बरसात

रात भर से रुकरुक कर बारिश हो रही है - मुरझाई प्रकृति को मानों नए प्राण मिल गए हैं... वो बातअलग है कि दिल्ली जैसे महानगरों में तथा दूसरी जगहों पर भी - जहाँ आबादी बढ़ने केसाथ साथ “घरों” की जगह “मल्टीस्टोरीड अपार्टमेंट्स” के रूप में कंकरीट के घनेजंगलों ने ले ली है... बिल्डिंग



रात भर छाए रहे बादल

रात भर छाए रहे बादल / प्रतीक्षा में भोर की और उनसे झरती नेह रस की हलकी हलकी बूँदें भिगोती रहीं धरा बावली को नेह के रस में...बरखा की इस भीगी रुत में पेड़ों की हरी हरी पत्तियों / पुष्पों से लदी टहनियों के मध्य से झाँकता सवेरे का सूरज बिखराता है लाल गुलाबी प्रकाश इस धरा पर..



हमसे प्यार करले तू (Humse Pyaar Karle Tu )- तेरी मेरी कहानी

Humse Pyaar Karle Tu Lyrics of Teri Meri Kahaani (2012): This is a lovely song from Teri Meri Kahaani starring Shahid Kapoor and Priyanka Chopra. It is sung by Mika Singh, Shreya Ghoshal, Wajid Khan, Aftab Sabri and Shabab Sabri and composed by Sajid-Wajid.तेरी मेरी कहानी (Teri Meri Kahaani )हमसे प्



मुख़्तसर मुलाक़ात है (Mukhtasar Mulaqat Hai )- तेरी मेरी कहानी

Mukhtasar Mulaqat Hai Lyrics of Teri Meri Kahaani : Mukhtasar Mulaqat Hai is a beautiful hindi song from 2012 bollywood film Teri Meri Kahaani. This song is composed by Sajid-Wajid. Wajid Khan has sung this song. Its lyrics are written by Prasoon Joshi. तेरी मेरी कहानी (Teri Meri Kahaani )मुख़्तसर मु



तेरी मेरी कहानी (Teri Meri Kahaani )

तेरी मेरी कहानी 2012 की रोमांटिक नाटक फिल्म है। 200 9 की फिल्म के बाद कामनी शाहिद कपूर ने इस फिल्म में प्रियंका चोपड़ा के विपरीत खेला है। तेरी मेरी कहनी की कहानी 1 9 60 में बॉम्बे में गोविंद और रुक्सर के साथ शुरू होती है, फिर 2012 में राधा और कृष्ण के साथ इंग्लैंड आगे बढ़ती है और फिर 1 9 10 में अरधा



हरी भरी प्रकृति

एकाग्रता, प्रेम, शान्ति, आशा, उत्साह और उमंग – जीवन जीने के लिए इन्हीं सबकीआवश्यकता होती है – और हरितवर्णा प्रकृति हमें यही उपहार तो देती है... आइये अपनीइस प्रेरणास्रोत हरि भरी प्रकृति का स्वागत करना अपना स्वभाव बनाएँ...



मित्रता दिवस

शारीरिक तथा मानसिक स्वास्थ्य को उत्तम बनाए रखनेके लिए स्वस्थ सामाजिक सम्बन्ध और घनिष्ठ मित्र अत्यन्त आवश्यक हैं...मित्रता – अर्थात हम किसी अन्य व्यक्ति को अथवावातावरण को अथवा किसी पशु को, पक्षी को, समूची चराचर प्रकृति को भी उतना ही महत्त्व देते हैं जितना स्वयं को देतेहैं,



तेरे बिन सूने नयन हमारे (Tere Bin Soone Nayan Hamaare )- मेरी सुरत तेरी आँखें

तेरे बिन जल्द ही नयन हामारे मेरी सूरत तेरी अंकन के गीत: तेरे बिन जल्द ही नयन हामारे 1 9 63 बॉलीवुड फिल्म मेरी सूरत तेरी अंकन से एक सुंदर हिंदी गीत है। यह गीत एसडी बर्मन द्वारा रचित है। मोहम्मद रफी और लता मंगेशकर ने इस गीत को गाया है। इसके गीत शैलेंद्र सिंह द्वारा लिखे गए हैं।मेरी सुरत तेरी आँखें (Me



मेरी सुरत तेरी आँखें (Meri Surat Teri Ankhen )

'मेरी सूरत तेरी अंकन' 1 9 63 की हिंदी फिल्म है जिसमें अशोक कुमार, आशा पारेख, प्रदीप कुमार, कन्हैया लाल, मारुति, नादिरा, अचल सचदेव और ईश्वरलाल प्रमुख भूमिका निभाते हैं। हमारे पास मेरी सूरत तेरी अंकन के एक गीत गीत हैं। एसडी बर्मन ने अपना संगीत बना लिया है। मोहम्मद रफी और लता मंगेशकर ने इन गीतों को गाय



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x