मेट्रो

एक ख़त हर ‘मर्द’ के लिए, जिसने राह चलते, बस में, मेट्रो में, ऑटो में मर्ज़ी के बग़ैर मुझे छुआ

कुछ दिनों पहले की बात है... यही कोई 7:30 बजे मैं दफ़्तर से निकली. मेट्रो लेट चल रही थी तो घर पहुंचते-पहुंचते 9:15 बज गए. बरसात के कारण स्ट्रीट पर लगी लाइटें भी ख़राब थी. मैं घर से तकरीबन 1 मिनट की ही दूरी पर थी कि एक बाइक की आवाज़ पीछे से सुनाई दी.मैंने अपना लैपटॉप बैग पी



बातें कुछ अनकही सी - लाइफ इन अ मेट्रो

बातेन कुच अंकी सी लाइफ इन ए मेट्रो (2007) अमिताभ वर्मा, संदीप श्रीवास्तव और सईद क्वाद्री द्वारा लिखी गई है, यह प्रीतम चक्रवर्ती द्वारा रचित है और अदनान सामी द्वारा गाया गया है।लाइफ इन अ मेट्रो (Life in A Metro )बातें कुछ अनकही सी की लिरिक्स (Lyrics Of Baatein Kuch Ankahee Si )बातें कुछ अनकहे सीकु



ओ मेरी जान - लाइफ इन अ मेट्रो

मूवी लाइफ इन ए मेट्रो से ओ मेरी जान गीत Kay Kay द्वारा गाया जाता है। इसका संगीत प्रीतम चक्रवर्ती द्वारा रचित है और गीत संदीप श्रीवास्तव द्वारा लिखे गए हैं।लाइफ इन अ मेट्रो (Life in A Metro )ओ मेरी जान की लिरिक्स (Lyrics Of O Meri Jaan )दिल खुदगर्ज़ है फिसला है यह फिर हाथ सेकल उसका रहाअब है तेरा इ



इन दिनों दिल मेरा - लाइफ इन अ मेट्रो

फिल्म लाइफ इन ए मेट्रो से दीनो दिल मेरा गीत में सोहम चक्रवर्ती द्वारा गाया जाता है। इसका संगीत प्रीतम चक्रवर्ती द्वारा रचित है और गीत सईद क्वाद्री द्वारा लिखे गए हैं।लाइफ इन अ मेट्रो (Life in A Metro )इन दिनों दिल मेरा की लिरिक्स (Lyrics Of In Dino Dil Mera )हाँ.. इन दिनों दिल मेरामुझसे है कह रहा



अलविदा - लाइफ इन अ मेट्रो

फिल्म लाइफ इन ए मेट्रो से अल्विडा गीत Kay Kay द्वारा गाया जाता है। इसका संगीत प्रीतम चक्रवर्ती द्वारा रचित है और गीत अमिताभ वर्मा द्वारा लिखे गए हैं।लाइफ इन अ मेट्रो (Life in A Metro )अलविदा की लिरिक्स (Lyrics Of Alvida )चुपके से कहींजिनके दरमियान गुज़री थी अभीकल तक यह मेरी ज़िन्दगीलो उन बाहों कोअ



लाइफ इन अ मेट्रो (Life in A Metro )

'लाइफ इन ए मेट्रो' एक 2007 हिंदी फिल्म है जिसमें शनी अहुजा, शिल्पा शेट्टी, के के मेनन, शर्मन जोशी, गौतम कपूर, कोंकोना सेन शर्मा, कंगना राणावत, इरफान खान, धर्मेंद्र, नफीसा अली, मनोज पहवा, विकी अहुजा, प्रीतम चक्रवर्ती, जेम्स और अश्विन मुशरान प्रमुख भूमिकाओं में हैं। हमारे पास ए मेट्रो में लाइफ ऑफ लाइफ



Escalator के मारे इन लोगों की तस्वीरें देखने के बाद, आप सीढ़ियां चढ़ना बेहतर समझोगे

Escalators से आये दिन हम कई लोगों को जूझते देखते हैं. हमने बहुत पहले 'Escalators का सही उपयोग कैसे किया जाये', इस पर एक आर्टिकल भी लिखा था. मगर मेट्रो या रेलवे स्टेशन पर लगे Escalators पर हम किसी न किसी को डरते देख ही लेते हैं. वाकई कई महिलाएं तो इसको इतना ख़तरनाक समझती हैं कि जैसे ये कोई Monster हो.



केडीए ही कानपुर में चलाएगा मेट्रो

कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के लिए केंद्र सरकार से मदद नहीं लेगी यूपी सरकार। मुख्यमंत्री ने इसे सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल कर लिया है। इसकी डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करने से लेकर सर्वे कराने का खर्च केडीए उठाएगा। डीपीआर तैयार करने के लिए राइट्स से करार हो गया है। लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेश





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x