नींद

1


पंचमढ़ी चले भाग 1(यात्रा संस्मरण)

इंदौर के पास एक कस्बा राऊ नगर, रंगवासा रोड पे स्थित उमिया पैलेस बिल्डिंग के फर्स्ट फ्लोर पर रोजाना की तरह महिलाओं,बच्चों और पुरुषों की हलचल।अचानक से राऊ नगर के जननायक भाई राजेश मंडले का आगमन।दोपहर के करीब साढ़े बारह बजे थे।संजय सर,अरुण



टूट ना

टूट ना।सुना था आसमान से तारे टूटते है, अरमान टूटते है, चाहत टूटती है, इरादे टूटते है, दिलों के आईने की तरह रिश्ते टूटते है। थी काली घनी रात जिसमे लेटा था बिस्तर में, नींद टूटी तब ख्याल आया सपने भी इन्ही दरम्यानो में कही टूट जाते है।<!--/data/user/0/com.samsung.android.app.notes/files/clipdata/clipda



जब आप थक गए हों, तब एक बढ़िया तरीका।

थकावट आपके जीवन में हर चीज को प्रभावित कर सकती है। मैं खुद को काम करने में कम सक्षम पाता हूं, जब मैं ईमेल और संदेशों से घिरा रहता हूं, तो स्वस्थ आदतों के साथ कम, जंक फूड खाने की अधिक संभावना और खराब मूड में होने से अभिभूत होता हूं।थके होने का हम पर इतना बड़ा प्रभाव हो सकता है। और बहुत से लोग बहुत लम



डिनर स्किप करने से हो सकते हैं आप बेहद बीमार

अमूमन देखने में आता है कि जो लोग अपना वजन कम करने की फिराक में रहते हैं, वह अधिकतर रात का खाना स्किप कर देते हैं। ऐसे लोगों का मानना होता है कि ऐसा करने से कैलोरी काउंट कंट्रोल में रहता है और जिससे वजन नहीं बढ़ता। वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो देर रात तक काम करते हैं और फिर बिना खाना खाए ही सो जाते



रात को चाहते हैं प्यारी नींद, सोने से पहले करें यह काम

यह तो हम सभी जानते हैं कि हेल्दी रहने के लिए पर्याप्त व अच्छी नींद लेना बेहद जरूरी है। लेकिन आपको अपने आसपास ऐसे बहुत कम लोग मिलेंगे, जो रात को ठीक तरह से सो पाते हों। दरअसल, तनाव, काम के बढ़ते बोझ व मोबाइल व लैपटाॅप के चलते उनकी रातों की नींद उड़़ जाती है। ऐसे में लोग या तो देर रात तक जागते रहते हैं



मुस्कुराती बहारों को नींद आ गई

मुस्कुराती बहारों को नींद आ गईआज यूं गम के मारों को नींद आ गई,जैसे जलते शरारों को नींद आ गई।थे ख़ज़ां में यही होशियार-ए-चमन,फूल चमके तो खारों को नींद आ गई।तुमने नज़रें उठाईं सर-ए-बज़्म जब,एक पल में हजारों को नींद आ गई।वो जो गुलशन में आए मचलते हुए,मुस्कुराती बहारों को नींद आ गई।चलती देखी है 'अरश



गलती से भी अगर इस दिशा की ओर सोये , तो झेलने पड़ेंगे कई भारी नुकसान

आप किस दिशा की ओर सोते हैं ये आपके जीवन पर काफी प्रभाव डालता है। कहा जाता है कि सोते समय आपका सिर और पैर अगर गलत दिशा में हों तो आपके जीवन में काफी परेशनियां आती हैं और आपको अपने करियर में तरक्की भी नहीं मिल पाती है। इसलिए ये जरूरी होता है कि आप सोते समय केवल सही दिशा



किस कारण से व्यक्ति नींद में बड़बड़ाने लगता हैं ?

नींद में कुछ लोग बड़बड़ाने लगते हैं जिससे ना सिर्फ उनकी नींद टूट जाती है बल्कि कमरे में मौजूद दूसरे लोग भी परेशान हो जाते हैं। नींद में बड़बड़ाना कोई बीमारी नही है लेकिन ये इससे पता चलता है कि आपकी सेहत कुछ गड़बड़ है।क्‍यों बड़बड़ाते हैं नींद में लोग?नींद में बोलने को बड़बड़ा कहते हैं क्योंकि जब आप



नींद से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

नींद व्यक्ति की सबसे ज्यादा आवश्यक है, बिना नींद या कम नींद के हम कई बीमारियों और समस्याओं के शिकार हो सकते हैं.जिस तरह पोषण के लिए आहार की जरुरत होती है उसी तरह थकान मिटने के लिए पर्याप्त नींद की जरुरत होती है, निद्रा के समय मस्तिष्क सर्वथा शान्त, निस्तब्ध या निष्क्रिय होता हो, सो बात नहीं। पाचन तं



बेहतर नींद पाने के लिए अपनाएं यह उपाय

नींद लेना सिर्फ शरीर को आराम देने के लिए ही जरूरी नहीं होता, बल्कि यह बेहतर स्वास्थ्य की कुंजी है। आमतौर पर देखने में आता है कि लोग तनाव या काम के बोझ तले देर रात तक जागते रहते हैं और फिर उसका विपरीत असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ता है। वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो रात को सोते तो हैं, लेकिन फिर भी सुब



“गीतिका” खेल खिलौना सुखद बिछौना नींद नहीं अधिकार की॥

“गीतिका”जाने कब धन भूख मरेगी, दौलत के संसार की शिक्षा भिक्षा दोनों पलते, अंतरमन व्यवहार कीइच्छा किसके बस में होती, क्यों बचपन बीमार है उम्र एक सी फर्क अनेका, क्या मरजी करतार की॥ भाग सरीखा नहीं सभी का, पर शैशव अंजान है खेल खिलौना सुखद बिछौना, नींद नहीं अधिकार की॥ उछल कूदना





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x