1


पशु और पक्षी के लिए काव्यात्मक अभिव्यक्ति

<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves></w:TrackMoves> <w:TrackFormatting></w:TrackFormatting> <w:PunctuationKerning></w:PunctuationKerning> <



Archana Ki Rachna: Preview "मुझमे भी जीवन है"

हाँ मैं तुम जैसा नहींतो क्या हुआ ?मुझमे भी जीवन हैमुझे क्यों आहत करते हो ?? हमें संज्ञा दे कर पशुओं कीखुद पशुओं से कृत्य करते होकल जब तुम ले जा रहे थेमेरी माँ कोमैं फूट फूट कर रोया थामैं छोटा सा एक बच्चा थामैंने अपनी माँ को खोया थामैं लाचार



ढोल,गवार,क्षुब्ध पशु,रारी

ढोल,गवार,क्षुब्ध पशु,रारी”*श्रीरामचरितमानस में कहीं नहीं किया गया है शूद्रों और नारी का अपमान।भगवान श्रीराम के चित्रों को जूतों से पीटने वाले भारत के राजनैतिक को पिछले 450 वर्षों में गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित हिंदू महाग्रंथ 'श्रीरामचरितमानस' की कुल 10902 चौपाईयों में



बकरीद को लेकर योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला विपक्ष हैरान !!!

भारत के सबसे लोकप्रिय नेता और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हमेशा कड़े फैसले लेने के लिए जाने जाते हैं, इसी बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को कानून व्यवस्था के संबंध में सतर्क रहने का निर्देश दिया है, क्योंकि बकरीद के एन मौके पर उत्तर प्रदेश में कोई अप्रिय घटना ना हो जाए,



BJP से लोकसभा सांसद पशुपति नाथ सिंह का जीवन परिचय

पशुपति नाथ सिंह (जन्म 11 जुलाई 1949) भारतीय जनता पार्टी से संबंधित एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं। वह भारतीय संसद के सदस्य हैं, और वर्तमान में धनबाद (लोकसभा क्षेत्र) का प्रतिनिधित्व करते हैं।सांसद पशुपति नाथ सिंह का संक्षिप्त परिचय नाम पशुपति नाथ सिंह लोकसभा क्षेत्र धनबाद (झारखंड)पार्टी का नाम भारतीय जनत



उत्तर प्रदेश में जोखिम प्रबंध एवं पशुधन बीमा योजना से १५५२०७ पशुपालक लाभान्वित होंगे

उत्तर प्रदेश में जोखिम प्रबंध एवं पशुधन बीमा योजना से १५५२०७ पशुपालक लाभान्वित होंगेजोखिम प्रबंध एवं पशुधन बीमा योजना में वर्ष २०१६-१७ में ४०२३.४९ लाख रुपये स्वीकृत किया गया है। इसमें केन्द्रांश १२५७.३९ लाख, राज्यांश १९२५.४२ लाख एवं लाभार्थी का अंश ८४०.६८ लाख रुपये होगा। इसके अन्तर्गत सभी ७५ जिलों क



विधि मंत्री की विकलाँग विधा

(यह लेख हमने कुछ वर्ष पूर्व लिखा था और कई स्थानों पर प्रकाशित हुआ था, परंतु भारत देश में घोटाले, घोटालेबाज व घोटालागाथाएँ, धर्म की भांति सनातन हैं, अतः यह लेख आज भी सामयिक है, सुधी पाठकों की सेवा में इस वेबसाईट पर भी समर्पित)कुछ समय प





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x