पिया

1


स्टार प्लस का शो नज़र में पांच साल का लीप | आई डब्लयू एम बज

स्टार प्लस का सुपरनैचुरल थ्रिलर शो, नज़र का निर्माण गुल खान की 4 लायंस फिल्म्स द्वारा किया गया, दर्शकों के बीच एक रोष है और एक दुष्ट डायन और परिवार की अवधारणा है, जो ’नज़र’ की वजह से समस्या का सामना करते हैं, उनमें कई अंतरंगताएँ हैं। शो को जबरदस्त टीआरपी मिली है और इसका श



मायोपिया:लक्षण,उपचार,कारण,बचाव - Myopia: Symptoms,Treatment,Cause, Prevention

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में मानव अपने शरीर की देखभाल बहुत कम कर पाता है जिस कारण शरीर में काफी रोग होने लगे है। मानव जीवन में पानी की कमी, अनियमित और दूषित खानपान, तनाव भरा जीवन और प्रदूषण भरे माहौल में ज्यादा वक्त बिताना आंखों के रो



"देशज गीत" सजरिया से रूठ पिया दूर काहें गइल नजरिया के नूर सैंया दूर काहें कइल

"देशज गीत" सजरिया से रूठ पिया दूर काहें गइलनजरिया के नूर सैंया दूर काहें कइलरचिको न सोचल झुराइ जाइ लौकीकोहड़ा करैला घघाइल छान चौकीबखरिया के हूर राजा दूर काहें गइल..... सजरिया से रूठ पिया दूर काहें गइलकहतानि आजा बिहान होइ कइसेझाँके ला देवरा निदान होइ कइसेनगरिया के झूठ सैंया फूर काहें कइल..... सजरिया स



ये जीवन है इस जीवन का यही है (Ye Jeevan Hai Is Jeevan Ka Yahi Hai )- पिया का घर

Ye Jeevan Hai Is Jeevan Ka Yahi Hai Lyrics of Piya Ka Ghar : Ye Jeevan Hai Is Jeevan Ka Yahi Hai is a beautiful hindi song from 1972 bollywood film Piya Ka Ghar. This song is composed by Laxmikant and Pyarelal. Kishore Kumar has sung this song. Its lyrics are written by Anand Bakshi. पिया का घर (Piy



पिया का घर (Piya Ka Ghar )

'पिया का घर' 1 9 72 की हिंदी फिल्म है जिसमें अनिल धवन, जया बच्चन, आगा, असरानी, ​​रंजीता, ठाकुर, मुकरी, सुंदर, पेंटल, सुलोचाना, सुरेश चटवाल, अमिताभ बच्चन, रह परांजपे, केशतो मुखर्जी, समर चटर्जी, सीएस हैं। डब, सरिता देवी, मनमोजी, परदेसी, राज वर्मा और अल्का प्रमुख भूमिकाओं में। हमारे पास पिया का घर का ए



लाओस में टूटा बांध, सैकड़ों लोग लापता

दक्षिण पूर्व लाओस में हाईड्रोइलैक्टि्रक बांध गिर गया है। इस बांध के गिरने से सैकड़ों लोगों की मौत की खबर सामने आई है, जबकी की अन्य लोग घायल बताए जा रहे है।बचावकर्मी नौकाओं की मदद से लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा रहे हैं।अट्टापेयू प्रांत के सान साई जिले में स्थित जेपिया



“गीतिका” पिया गए परदेश में छोड़ मुझे ससुराल

“गीतिका”पिया गए परदेश में छोड़ मुझे ससुराल रब जाने किस हाल में होगे उनके भाल देखन में सुंदर लगें मुस्कायें दिल खोलमानों पिय बहुरूपिया नजर चित्त पयमाल॥ कलंगी अस सँवारते तिरछे नैना वाह फिर आएंगे जब पिया लाल करूँगी गाल॥रोज लिखूँ चित पातियाँ घायल विरहन गीत पायल पग लपटा गए



मोरे पिया बड़े हरजाई रे!

ओ री सखी तोहे कैसे बताऊँ, मोरे पिया बड़े हरजाई रे,रात लगी मोहे सर्दी, बेदर्दी सो गए ओढ़ रजाई रे।झटकी रजाई, चुटकी बजाई, सुध-बुध तक न आई रे!पकड़ी कलाई, हृदय लगाई, पर खड़ी-खड़ी तरसाई रे!अंगुली दबाई, अंगुली घुमाई, हलचल फिरहुँ न आई रे!टस से मस





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x