देश की जनता के रुपयों पर कब तक 'ऐश' होता रहेगा?

हमारे देश के प्रधानमन्त्री कहते हैं : मैं 'जनता का सेवक' हूँ; मैं आप सबका 'प्रधान चौकीदार' हूँ; परन्तु विडम्बना देखिए, उनका काम 'चौकीदारी' का और मीडिया की सुर्ख़ियों में बने रहते हैं। यदि वे सचमुच, जनसेवक हैं तो संवैधानिक रूप में 'प्रधानमन्त्री' के स्थान पर 'प्रधान जनसेवक' कहलाने के लिए क्यों नहीं प्



प्रधानमंत्री विद्यालक्ष्मी योजना के बारे में जाने

आज कल हम देखते हैं की कुछ योग्यतापूर्ण छात्रों के बड़े बड़े सपने होते हैं| वे अपने और अपने परिवार के हर सपने को पूरा करना चाहते हैं| उनके अंदर योग्यता भी भरपूर रहती है लेकिन उनकी कमजोर आर्थिक स्थिति उन्हें उनकी जिंदगी से काफी पीछे छोड़ देती है| आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण वे अपनी शिक्षा पूरी नहीं



प्रधानमंत्री आवास योजना के साथ एक घर के मालिक बनने के अपने सपने को पूरा करें

PMAY योजना 25 June 2015 को शुरू की गई थीनिम्न और मध्यम आय वर्ग के लिए अनुदान वाले गृह लोनPMAY का लाभ उठाने के लिए 18 लाख रुपयों तक की वार्षिक आयPMAY के तहत होम लोन के लिए आवेदन करेंहाल के सर्वेक्षणों और सरकारी आंकड़ों से पता चला है कि ग



पाकिस्तानी प्रधान मंत्री इमरान खान की भारत के प्रति विदेश नीति

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान , भारत के प्रति विदेश नीति डॉ शोभा भारद्वाज पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की भारत के प्रति विदेश नीति ने वैसी ही करवटें बदलीं जैसीपकिस्तान के हुक्मरानों की आदत रही है चुनावी भाषणों में उनका भारत के प्रति रुखआक्रामक था लेकिन चुनाव में जीत के बाद अपने भाषण



क्या 4 साल में प्रधानमंत्री मोदी की संपत्ति लगभग दोगुनी हो गई ?

सोमवार को प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से प्रधानमंत्री मोदी की चल और अचल संपत्ति का विवरण पेश किया गया।मौजूदा समय में प्रधानमंत्री के पास 2 करोड़ 28 लाख की कुल संपत्ति है जबकि साल 2014 में प्रधानमंत्री मोदी की संपत्ति डेढ़ करोड़ थी 2014 से अब तक प्रधानमंत्री मोदी की संपत्त



ये हैं PM मोदी के वे झूठ जिन्होंने प्रधानमंत्री पद की गरिमा का ज़रा भी ख्याल नहीं किया

गिरीश मालवीयकोई व्यक्ति देश के प्रधानमंत्री पद पर रहते हुए इस कदर कैसे झूठ बोल सकता है क्या पद की गरिमा का उसे जरा सा भी ख़याल नही है प्रधानमंत्री मोदी के ऑफिस पीएमअओ से ऑफिशियल ट्विट किया गया कि ‘आजादी के बाद 67 सालों में 65 एयरपोर्ट बन



अगर मोदी जी ने सुप्रीम कोर्ट की ये बात मान ली तो संसद की काफी कुर्सियां हो जाएंगी खाली

हिंदुस्तान में कुछ एक विषय ऐसे हैं जिन पर बिना तैयारी के बोला जा सकता है। देश का भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, दहेज प्रथा और राजनीति की सफाई, ये ऐसे विषय हैं जिस पर कभी भी डिबेट करा लीजिए, घंटा दो घंटा गुजर जाएगा और पता ही नहीं चलेगा। दरअसल, इस पर सिर्फ बात की जाती है, काम करना



शिक्षा के आँसू

अपनों से दो शब्द“जब अनैतिक शक्ति संस्था-प्रधान के सिंहासन में पदास्थापित हो जाती है तोव्यवस्थाएँ तो चरमराती ही हैं, नैतिक शक्ति को अवसर भी नहीं मिलता और इसकानंगा-नृत्य स



बिम्सटेक समिट : दो दिन के नेपाल दौरे पर रवाना हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

आतंकवाद का मुकाबला करना,क्षेत्रीय कनेक्टिविटी बढ़ाने और व्यापार को बढ़ावा देना बे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर multi सेक्टोरल टेक्नीकल एंड इकॉनोमिक को-ऑपरेशन’(बिम्सटेक) के चौथे सम्मेलन का एजेंडा होगा | जिसमें प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और इस



कभी लालबत्ती में घूमा करती थी महिला, आज घर चलाने के लिए चराती है बकरियां

वक्त बुरा होने पर इंसान वह काम भी करने लगता है जिसके बारे में उसने कभी सोचा भी नहीं होगा. कब अमीर गरीब बन जाए और कब किसी गरीब की किस्मत पलट जाए कुछ कहा नहीं जा सकता. व्यक्ति की किस्मत में जो लिखा है वह होकर ही रहता है. आपकी किस्मत कोई नहीं बदल सकता. राजा को रंक बनते और रं



वो देश जहां प्रधानमंत्री भी साइकिल पर चलता है!

भारत के ज़्यादातर बड़े शहरों में जब भी कोई पैदल घूमना चाहता है या साइकिल लेकर सड़क पर निकलना चाहता है तब उसे मायूस होकर या खीज कर कहना ही पड़ता है की सब जगह बाइक या कार वाले ही भरे हुए हैं. साइकिल के लिए तो जगह ही नहीं है.अगर कोई बेचारा हिम्मत कर साईकिल लिए दिल्ली की सड़क पर न



नमन

40 वर्ष की उम्र में प्रधानमंत्री बनने वाले श्री राजीव गांधी भारत के सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री थे और संभवतः दुनिया के उन युवा राजनेताओं में से एक हैं जिन्होंने सरकार का नेतृत्व किया है। उनकी माँ श्रीमती इंदिरा गांधी 1966 में जब पहली ब



भावुक कर देगी मां की गोद में अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर

भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अब पंचतत्व में विलीन हो चुके हैं, लेकिन उनकी स्मृतियां अभी भी देश के लोगों के जहन में जीवित है। बीजेपी के नेता और उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अटल बिहारी वाजपेयी की एक बहुत पुरानी तस्वीर शेयर की है,



एम्स में अटल को श्रद्धांजलि देते डॉक्टरों की फोटो की सच्चाई क्या है?

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हुआ. सब लोगों ने उन्हें नम आंखों से श्रद्धांजलि दी. सोशल मीडिया पर उनके नाम का हैश टैग ट्रेंड करता रहा. उनके किस्से-कहानियां सुनाए जाने लगे, लेकिन इस सब के बीच वे लोग भी सक्रिय रहे जो हमेशा अफवाहें फैलाने का काम करते हैं. इस ब



'परिवार' के लिए क्या छोड़ गए अटल बिहारी वाजपेयी!

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का गुरुवार को दिल्ली एम्स में निधन हो गया. वह 94 साल के थे. अटल का दुनिया से जाना एक अपूर्णनीय क्षति है. उन्होंने अविवाहित रहकर देश की सेवा की और अपना पूरा जीवन देश के लिए जिया. ऐसे में सवाल उठता है कि अटल के जाने के बाद उनके परिवार म



अटल जी का 15 साल पुराना वीडियो वायरल, वजह जानेंगे तो दिल खुश हो जाएगा

कड़े फैसले लेने वाले प्रधानमंत्री, संवेदनाओं के रस में डूबी कविताएं लिखने वाले कवि, हाजिरजवाब और कुशल वक्ता...देश के पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ढेर सारी खूबियों वाली शख्सियत थे। उनके निधन से एक तरफ जहां पूरा देश गम में डूबा है, वहीं दूसरी तरफ उनका ऐसा वीडियो सोशल मीडिया पर सर्कुलेट हो रहा है, जिस



कौन देगा अटल बिहारी वाजपेयी को मुखाग्नि?

भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का गुरुवार शाम 5.05 बजे निधन हो गया। वे 93 वर्ष के थे। अटलजी के निधन पर 7 दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा गई की।अटल बिहारी वाजपेयी दो महीने से एम्स में भर्ती थे, लेकिन पिछले 36 घंटों के दौरान उनकी सेहत बिगड़ती चली गई। उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा



VIDEO: जब लोकसभा में सोनिया गांधी पर भड़क गए अटल बिहारी वाजपेयी, डांटते हुए सिखाई थी सभ्यता |

भारतीय राजनीति में ऐसे गिने चुने ही नेता रहे जिन्हें ना केवल जनता बल्कि राजनीतिक बिरादरी में भी दिली सम्मान मिला। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी भी उन्हीं राजनेताओं में से एक रहे जिन्हें राजनीती से इतर ऐसा सम्मान मिला जो बहुत कम लोगों को मिलता है। दिल्ली के एम्स मे



वाजपेयी के वो पांच बड़े फैसले, जिनके लिए देश हमेशा उन्हें याद रखेगा

16 अगस्त 2018. शाम के पांच बजकर पांच मिनट हो रहे थे. दिल्ली के सबसे बड़े अस्पताल एम्स के बाहर देश-दुनिया की मीडिया के साथ ही नेताओं का भी जमावड़ा लगा हुआ था. सबको उम्मीद थी कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री रहे वाजपेयी को लेकर कुछ अच्छी खबर आएगी. खबर आई भी, लेकिन बुरी खबर आई.



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x