सच

झूठ और सच की लड़ाई

झूठ और सच का खेल बड़ा ही निराला है। हैरानी होती है आदमी झूठ क्यों बोलता है और सच क्यों नहीं बोलता? आखिर कौन सी ऐसी मजबूरी है जिस से व्यक्ति झूठ बोलता है? आज झूठ को क्यों इतनी प्रतिष्ठा मिली है? सच बोलने से व्यक्ति घबराता -कतराता क्यों है? ऐसे तमाम प्रश्न हैं, जो बताते हैं कि इस के कई कारण हैं। मनोव



"मुक्त काव्य" जीवन शरण जीवन मरण है अटल सच दिनकर किरण

शीर्षक- जीवन, मरण ,मोक्ष ,अटल और सत्य"मुक्त काव्य" जीवन शरण जीवन मरणहै अटल सच दिनकर किरणमाया भरम तारक मरणवन घूमता स्वर्णिम हिरणमातु सीता का हरणक्या देख पाया राम नेजिसके लिए जीवन लियादर-बदर नित भ्रमणन कियाचोला बदलता रह गयाक्या रोक पाया चाँद नेउस चाँदनी का पथ छरणऋतु साथ आती पतझड़ीफिर शाख पर किसकी कड़ी



"गज़ल" छोड़कर जा रहे दिल लुभाते रहे झूठ के सामने सच छुपाते रहे

वज़्न--212 212 212 212 अर्कान-- फ़ाइलुन फ़ाइलुन फ़ाइलुन फ़ाइलुन, बह्रे- मुतदारिक मुसम्मन सालिम, क़ाफ़िया— लुभाते (आते की बंदिश) रदीफ़ --- रहे"गज़ल"छोड़कर जा रहे दिल लुभाते रहेझूठ के सामने सच छुपाते रहे जान लेते हक़ीकत अगर वक्त कीसच कहुँ रूठ जाते ऋतु रिझाते रहे।।ये सहज तो न था खेलना आग सेप्यास को आब जी भर प



तुम्हें बच्चों की, याद नहीं आती है ,

वृद्ध दंपति द्वारा आत्महत्या... दुर्भाग्यपूर्ण घटना –हल्द्वानी...2018…( भाव= काल्पनिक )जैसे-जैसे आज शाम ढलने लगी, रोज़ की तरह दीपक की, लौजलने लगी,पत्नी की एकटक आँखें, डब- डबा रही थी,घर की एक-एक चीज़, आँखों में उतर-आ रही थी, दोनों नेमिलकर जाने कैसा , अभागा निर्णयले लिया,



"जेमिमा रोड्रिग्ज़" ने मिताली राज को भी छोड़ा पीछे , सचिन भी हुए फैन

भारतीय महिलायें जिस तरह से हर क्षेत्र में अपने आप को साबित कर रही हैं वो वाकई में सराहनीय है।ऐसी ही एक महिला क्रिकेटर हैं Jemimah Rodrigues. आपको बता दें कि भारतीय महिला क्रिकेट टीम इन दिनों वेस्टइंडीज़ म



हिटमैन ने तोड़ा 10डुंलकर का रिकॉर्ड

हिटमैन रोहितशर्मा ने आज तेंदुलकर का एक रिकॉर्ड तोड़ दिया जो बहुत समय से कायम था और ये था किसी भी भारतीय बल्लेबाज़ द्वारा एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय में सबसे ज्यादा छक्के मारने का इस सूची में अभी तक माही का रूतबा कायम है उन्होंने सबसे ज्यादा 218 छक्के मारे हैं



दिल तो बच्चा है जी

ज़िंदगी हर पल एक चलचित्र की तरह अपना रंग रूप बदलती रहती है।है न , जैसे चलचित्र में एक पल सुख का होता है तो दुसरा पल दुःख का ,फिर अगले ही पल कुछ ऐसा जो हमे अचम्भित कर जाता है और एक पल के लिए हम सोचने पर मजबूर हो जाते है कि "क्या



साउथ की एक्ट्रेस ने लगाया सचिन तेंदुलकर पर घिनौना आरोप, फैंस को लगा सदमा

बड़ी-बड़ी हस्तियों पर अक्सर कई घिनौने आरोप लगते रहे है। ऐसा या तो पब्लिसिटी पाने के लिए किया जाता रहा है या तो इसके पीछे कुछ न कुछ सच्चाई चिप्पी होती है। लेकिन इस बार जिस शख्स पर घिनौना आरोप लगा है उस शख्स का नाम सुन कर शायद ही इस बात को कोई मानने के बारे में सोचे।दरअसल हम बात कर रहे है साउथ फिल्म इंड



रंग

झूठ पलता हो पालनों में जहाँ, सच की उनसे क्या उम्मीद करे, खेलते होली जो नफ़रत घुले पानी से, रंगो की वहां क्या उम्मीद करे. दिखता है रंग अपना ही खूबसूरत, उनसे दूसरे रंगों की क्या तारीफ़ करे. मज़हब में भी जो ढूंढते नफ़रत, उनसे इश्क ओ म



मुख्य सचिव मारपीट मामला: पटियाला हाउस कोर्ट ने दोपहर 2 बजे तक अपना फैसला सुरक्षित रखा

दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट, जो दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर कथित हमले के मामले की सुनवाई कर रही है, ने 2 बजे तक अपना निर्णयसुरक्षित रख लियाहै। अदालत के नोटिसके जवाब में,दिल्ली पुलिस ने आमआदमी पार्टी केनेताओं पर आरोपलगाया कि वे



सच्चा-झूठा.

सच बोलने से गर डर लगता है यारो, झूठ ऐसा बोलो कि सच सामने आये. सच को बताने की अक्सर ज़रूरत तो नहीं होती, हाकिम ही गर हो झूठा,तो सच बताना ही पडेगा. (आलिम).



"गीत"है बड़ी जालसाजी न सच का ठिकाना।

मुखड़े व अंतरे का मात्रा भार २२ तुकांत, आना"गीत"है बड़ी जालसाजी न सच का ठिकाना।हो सके तो सनम तुम कचहरी न जाना।।बात इतनी सुनो यारा दिल न दुखाना जा रहे तो जाओ पर घहरी न आना।। ....हो सके तो सनम तुम कचहरी न जानापाँव घिस जाएगा हुस्न पिट जाएगामान घट जाएगा ध्यान बट जाएगाबाँसुरी से



जिंदगी के १० ऐसे सच जिसका साइंस के पास नहीं कोई जवाब

जिंदगी के १० ऐसे सच जिसका साइंस के पास नहीं कोई जवाब



सच मानिए ‘आप और हम’ कुछ विशेष है

ये बात तो सब मानते है की भगवान् है हर व्यक्ति की सोच, शारीरिकर मानसिक स्थिति भिन्न बनाई है| हर व्यक्ति आकार प्रकार में दुसरे व्यक्ति से भिन्न है स्वभाव व् गुणों से लेकर हर चीज़ सब में अलग-अलग है निराली है क्या अपने कभी भी शांति से बैठकर ये सोचा है की हमारे अंदर क्या चीज़ ऐसी है जो हमको दूसरों से अलग



Paracetamol P-500 में 'विश्व का सबसे खतरनाक वायरस'

पैरासिटामॉल P-500 में 'वायरस' से आगाह करने वाले मैसेज चल रहे हैं.भारत डॉक्टरों का देश है. अस्पताल में इलाज करने वालों के अलावा भी बहुतेरे डॉक्टर होते हैं – पीएचडी वाले, ‘मानद उपाधि’ वाले, मेडिकल स्टोर वाले और बाकी सब खराब राइटिंग वाले. इनके अलावा और दो तरह के डॉक्टर होते हैं. एक जो ‘वर्ल्ड रिकॉर्ड य



500 - 1000 के नोट बंदी को लेकर देहात क्षेत्रों में खासा परेशानी, आपबीती बताई

फेझत तो बड़ी हॉवे लागल हो। सरकार चाहे जेतना कैह लो आर सत्ता पक्ष भी चाहे झुठलाय दो, सच तो यहे लागो कि आदमी सब के बड़ी तफलिक होय रहल हो। हां , ई बात दोसर हो कि कुछ आदमी एकरा हंसके सहे रहलो तो कुछ कुढ़ करके, पर सहे तो दुयो रहल हो। दू दिन से एते एते आदमी के पास पैसा



तो सच बताएगा कौन?

कवि: शिवदत्त श्रोत्रियअगर दोनो रूठे रहे, तो फिर मनाएगा कौन?लब दोनो ने सिले, तो सच बताएगा कौन?तुम अपने ख़यालो मे, मै अपने ख़यालो मेयदि दोनो खोए रहे, तो फिर जगाएगा कौन?ना तुमने मुड़कर देखा, ना मैने कुछ कहाँऐसे सूरते हाल मे, तो फिर बुलाएगा कौन?मेरी चाहत धरती, तुम्हारी चाहत आसमानक्षितिज तक ना चले, तो म



क्या इन देशद्रोहियों को अंग्रेज़ों से लड़ते देखा है?

साहब, राहुल गांधी जी ने कभी कोई मुख्यमंत्री या किसी सरकारी पदवी का चुनाव नहीं लड़ा है। उन्हें इंदिरा गांधी व अत्यधिक अनुभवी कांग्रेसी नेताओं से तुलना करना वैसे ही है जैसे किसी प्राथमिक विद्यालय के छात्र की किसी प्रकाण्ड पंडित से की जाए। जहां तक भाजपा का सवाल है, उसका



तर्क-वितर्क और सत्य की खोज .

 किसी भी घटना के कई पक्ष और पहलू होते हैं .हर घटना को अलग अलग चश्मों से गहरी या सतही पड़ताल के ज़रिये अलग अलग निष्कर्षों पर पहुंचा जा सकता है . निष्कर्ष वही होते हैं जो रायों में परिवर्तित हो जाते हैं और रायें पीढ़ी दर पीढ़ी , समाज की हर ईकाई के माध्यम से संस्थागत हो जाती हैं . और इस तरह वे अमूमन संस्कृ



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x