निर्जला एकादशी :--- आचार्य अर्जुन तिवारी

*सनातन धर्म के आधारस्तम्भ एवं इसके प्रचारक हमारे ऋषि महर्षि मात्र तपस्वी एवं त्यागी ही न हो करके महान विचारक , मनस्वी एवं मवोवैज्ञानिक भी थे | सनातन धर्म में समय समय पर बताया गया समयानुकूल व्रत विधान यही सिद्ध करता है | विचार कीजिए कि जब ज्येष्ठ माह में सूर्य की तपन एवं उमस से आम जनमानस तप रहा होता



गंगा का महत्त्व :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

*इस धराधाम पर मनुष्य को जीवन जीने के लिए वैसे तो अनेक आवश्यक आवश्यकतायें होती हैं परंतु इन सभी आवश्यकताओं में सर्वोपरि है अन्न एवं जल | बिना अन्न के मनुष्य के जीवन की कल्पना करना व्यर्थ है और अन्न का स्रोत है जल | बिना जल के अन्न के उत्पादन के विषय में कल्पना करना वैसा ही है जैसे अर्द्धरात्रि में सू



गंगा दशहरा :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

*विशाल देश भारत में सनातन धर्म का उद्भव हुआ | सनातन धर्म भिन्न-भिन्न रूपों में समस्त पृथ्वीमंडल पर फैला हुआ है , इसका मुख्य कारण यह है कि सनातन धर्म के पहले कोई धर्म था ही नहीं | आज इस पृथ्वी मंडल पर जितने भी धर्म विद्यमान हैं वह सभी कहीं न कहीं से सनातन धर्म की शाखाएं हैं | सनातन धर्म इतना व्यापक



“कुंडलिया”इनका यह संसार सुख भीग रहा फल-फूल।

“कुंडलिया”इनका यह संसार सुख भीग रहा फल-फूल। क्या खरीद सकता कभी पैसा इनकी धूल॥ पैसा इनकी धूल फूल खिल रिमझिम पानी। हँसता हुआ गरीब हुआ है कितना दानी॥ कह गौतम कविराय प्याज औ लहसुन भिनका। ऐ परवर सम्मान करो मुँह तड़का इनका॥महातम मिश्र गौतम गोरखपुरी



अर्थोपार्जन कैसो करें --- आचार्य अर्जुन तिवारी

*इस धरती पर मनुष्यों के लिए चार पुरुषार्थ बताये गये है | धर्म , अर्थ , काम , मोक्ष | इन चारों पुरुषार्थों को पुरुषार्थचतुष्टय भी कहा जाता है | धर्म के बाद दूसरा स्थान अर्थ का है | अर्थ के बिना, धन के बिना संसार का कार्य चल ही नहीं सकता | जीवन की प्रगति का आधार ही धन है | उद्योग-धंधे, व्यापार, कृषि आ



क्यों डूबना चाहते हो मेरे शहर मेरे गाँव को

क्यों डूबना चाहते हो मेरे शहर मेरे गाँव कोक्यों मिटना चाहते हो सर से पेड़ की छावं को।क्यों अँधेरे में धकेलते हो शहर के उजाले के लिएक्यों माटी से खदेड़ते हो शहर के निवाले के लिए।मेरी पीढ़ियों ने इस पिथौरागढ़ को बनते देखा हैदो देशो की संस्कृति के





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x