साथ



जीवन: आरंभ या शून्य

ज़िन्दगी मुश्किल कब होती है? क्या तब जब आप जीवन के संघर्षो से लड़ते - लड़ते थक जाते है? या तब जब सारी मुश्किलें जाले की तरह साथ में आपको फांस लेती है?या फिर तब जब जीवन में आपके साथ कोई नहीं होता और आपको अपनी लड़ाई खुद लड़नी होती है? मेरे ख्याल से नहीं; इन सारी दुविधाओं से



नागरिकता संशोधन अधिनियम का विरोध कोरी रजनीति

नागरिकता संशोधन अधिनियम का विरोध कोरी राजनीतिडॉ शोभा भारद्वाज‘अनेक बुद्धिजीवी जिनमें मुस्लिम भी शामिल हैं ’नें मुस्लिन समाज को समझाने की कोशिश की है नागरिकता संशोधन विधेयक का किसी भी भारतीय की नागरिकता से कोई सम्बन्ध नहीं है फिर भी विरोध प्रदर्शन के बहाने तोड़फोड़ हिंसा क्यों ?मुस्लिम समाज कई राजनीतिक



साथी

साथी उसे बनाओं जो सुख दुख में साथ दे.ना कि उसे जो सिर्फ तस्वीरों में आपकी शोभा बढ़ाएं.शिल्पा रोंघे



करवा चौथ के पावन पर्व की शुभकामनाएं

🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷 *जय श्रीमन्नारायण*🌹 *श्री राधे कृपा हि सर्वस्वम* 🌷 🌛🌛🌛🌛🌛🌛🌛🌛 *आद्या शक्ति पराम्बा माँ भगवती की अंशस्वरूपा मातृ शक्तियों को करवा चौथ व्रत की हार्दिक शुभकामनाएँ*🌳☘🦜🌳🌲☘🏵💐 सभी मात्र शक्तियों को आज पावन करवा चौथ व्रत की हार्दिक शुभकामनाओं सहित मंगल कामना हम



पाकिस्तान की विदेश नीति का पराभव जम्मू कश्मीर सहित सम्पूर्ण भारत में एक विधान एक झंडा

पकिस्तानी नीति का पराभव जम्मू कश्मीर सहित सम्पूर्ण भारत में एक विधान एकझंडा | डॉ शोभा भारद्वाज पकिस्तान निर्माण के साथ उनकी विदेश नीति का मूल उद्देश्य भारत विरोध ,आर्थिकदृष्टि से मजबूत पाकिस्तान एवं मुस्लिम वर्ड का लीडर बनना रहा है | लेकिन आजपाकिस्तान आर्थिक दृष्टि से एक कमजोर देश है मुस



बंधे बंधे से साथ चलें

बंधे बंधे से साथ चलें ...मैं अक्षर बन चिर युवा रहूं, मन्त्रों का द्वार बना लो तुम,हम बंधे बंधे से साथ चलें, मुझे भागीदार बना लो तुम.जीवन की सारी उपलब्धि, कैसे रखोगे एकाकी? तुमको संभाल कर मैं रखूँ, मेरे मन में जगह बना लो तुम.कोई मुक्त नहीं है दुनिया में, ईश्वर, भोगी या संन्यासी,प्रिय! कैसे मुक्



मोदी जी की पाकिस्तान के प्रति विदेश नीति में चाणक्य नीति की झलक

मोदी जी की पाकिस्तान के प्रति विदेश नीति में चाणक्य नीति की झलक डॉ शोभा भारद्वाज 2014 में मोदी जी के नेतृत्व लोकसभा का चुनाव लड़ा जा रहा था आलोचक प्रश्न उठारहे थे भाजपा की विदेश नीति क्या है ? सत्तापर आसीन होने के बाद विदेश नीति विशेषज्ञ उनको विदेश नीति समझाने उनसे मिलने भीआये | मोदी जी ने अपने श



कहां जायेंगे

जब लोगों को अपने पन से तकलीफ होने लगें, आपकी बातें उन्हें ताने लगनी लगे, तो कहां जाओगे? उन्हें कब तक अपना समझ, समझाओगे, मनाओगे? जिसके दिल की जगहें संकुचित होने लगे। प्रेम और समझ ,शक में सिमटने, सिकुड़ने लगे। समाज जंजीर बन जकड़ने लगे। आपका विश्वास (साथी)आपसे अकड़ने लगे। तो दूरी के सिवा क्या दवा है।



फिल्म निर्माता सूरज बड़जात्या के पिता राज कुमार बड़जात्या का निधन

मुम्बई में राजश्री प्रोडक्शन के राजकुमार बड़जात्या का देहांत हो गयाअधिक जानकारी के लिए: https://hindi.iwmbuzz.com/television/news/filmmaker-sooraj-barjatyas-father-raj-kumar-barjatya-passes-away-2/2019/02/21



एक नज़र इधर भी

एक नज़र इधर भी आँख से नींद बनी,पेट से खेत बना,बच्चे से प्यार बना। जीवन साथी से जीना। क्या रखा हैं इस धनदौलत मे?ये तो हैं मानव के मन को गुमराह करने का बहाना।पूज लो माँ-बाप को जीससे बनी ये काया।क्यों फिरता हैं जग मे, बंदा तू मारा-मारा?दिल, दिमाग, मन चंचल, इससे सब कोई हारा।



फिट रहने के लिए बच्चों को बनाएं अपना एक्सरसाइज पार्टनर

खुद को चुस्त व तंदरूस्त बनाए रखने के लिए एक्सरसाइज करना बेहद आवश्यक है। व्यायाम सिर्फ वजन कम करने का ही काम नहीं करता, बल्कि इससे शरीर को अन्य कई तरह के लाभ होते हैं। जैसे बाॅडी की स्टेंथ व स्टेमिना बढ़ता है और शरीर के सभी अंग सुचारू रूप से काम करते हैं। आमतौर पर देखने में आता है कि लोग शुरूआत में तो



सफर

आज मन की हलचलों ने कदमों को चलने न दिया।बहुत सोचा जाऊं या ना जाऊ । घर दूर, अपने आंखों से दूर, मौसम भी मगरूर ठंडी का है।सफर सहर में है। शाम की बातों ने मन को बोझिल कर दिया था।सब हलचलों और बोझिल शाम को समेट अपनी चारपाई पर तकिए के नीचे दबा लिया था। ठंडी की सिहरन



"गीतिका" छा रही कितनी बलाएँ क्या बताएँ साथियों द्वंद के बाजार में क्या क्या सुनाएँ साथियों

छन्द- सीता (मापनीयुक्त वर्णिक) वर्णिक मापनी - 2122 2122 2122 212 अथवा लगावली- गालगागा गालगागा गालगागा गालगा पारंपरिक सूत्र - राजभा ताराज मातारा यमाता राजभा (अर्थात र त म य र)"गीतिका" छा रही कैसी बलाएँ क्या बताएँ साथियोंद्वंद के बाजार मे



"गीतिका" साथ मन का मिला दिल रिझाएँ चलो वक्त का वक्त है पल निभाएँ चलो

मापनी--212 212 212 212, समान्त— बसाएँ (आएँ स्वर) पदांत --- चलो "गीतिका" साथ मन का मिला दिल रिझाएँ चलोवक्त का वक्त है पल निभाएँ चलोक्या पता आप को आदमी कब मिलेलो मिला आन दिन खिलखिलाएँ चलो।।जा रहे आज चौकठ औ घर छोड़ क्योंखोल खिड़की परत गुनगुनाएँ चलो।।शख्स वो मुड़ रहा देखता द्वार कोगाँव छूटा कहाँ पुर बसाएँ



"गज़ल" हाथ कोई हाथ में आ जाएगा मान लो जी साथियाँ भा जाएगा

बह्र 2122, 2122 212, काफ़िया, आ स्वर, रदीफ़- जाएगा"गज़ल" हाथ कोई हाथ में आ जाएगा मान लो जी साथियाँ भा जाएगालो लगा लो प्यार की है मेंहदी करतली में साहिबा छा जाएगा।।मत कहो की आईना देखा नहींनूर तिल का रंग बरपा जाएगा।।होठ पर कंपन उठे यदि जोर कीखिलखिला दो लालिमा भा जाएगा।।अधखुले है लब अभी तक आप केखोल दो मु



दर्द

दर्द उनको भी है , दर्द हमको भी है बिछड़ने का, दर्द उनका है कोई साथी ना मिला, हमको दर्द है कोई साथी ना रहा.वो तड़पते है साथी के लिए हम तो मरते है क्यूँ साथ तेरा ना रहा. दर्द सबको है अपना-अपना, वज़ह भी सबकी है अपनी-अपनी. (आलिम)



“कुंडलिया”पकड़ो साथी हाथ यह हाथ-हाथ का साथ।

“कुंडलिया”पकड़ो साथी हाथ यह हाथ-हाथ का साथ। उम्मीदों की है प्रभा निकले सूरज नाथ।।निकले सूरज नाथ कट गई घोर निराशा। हुई गुफा आबाद जिलाए थी मन आशा॥ कह गौतम कविराय कुदरती महिमा जकड़ो। प्रभु के हाथ हजार मुरारी के पग पकड़ो॥-१बारिश में छाता लिए डगर सुंदरी एक। रिमझिम पवन फुहार नभ पथ



मेरा यार मिला दे साइयाँ (Mera Yaar Mila De Saaiyaan )- साथिया (बंजर है सब बंजर है)

Mera Yaar Mila De Saaiyaan Lyrics of Saathiya (2002): This is a lovely song from Saathiya starring Vivek Oberoi, Rani Mukerji, Tanuja and Sharat Saxena. It is sung and composed by A R Rahman.साथिया (Saathiya )मेरा यार मिला दे साइयाँ (Mera Yaar Mila De Saaiyaan ) (बंजर है सब बंजर है)की लिरिक्स (Ly



साथिया (Saathiya )

"Saathiya" is a 2002 hindi film which has Vivek Oberoi, Rani Mukerji, Tanuja, Sharat Saxena, Shahrukh Khan, Tabu, Sandhya Mridul, Satish Shah, Swaroop Sampat, Tinu Anand, Virendra Saxena, Anju Mahendroo, Shehnaz Anand, Shamita Shetty, Anu Ansari, Chandrashekhar, Gautam, Kunal Kumar and Deepraj Rana



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x