थी



मैं खुशी ढूंढ़ता हूं

छोटे छोटे अरमानों के पुरा होते देख,मैं खुशी ढूंढ़ता हूं।किसी गरीब की थाली में पकवान देख,किसी मजदूर को काम के



कल्पना का धीर, भाग -१

कल्पना को आज भी वह शब्द याद है। "साथी" सच इस शब्द के इर्द गिर्द उसने अपनी जिंदगी को बुनना शुरू कर दिया था। जिंदगी है क्या कभी जाना ही नहीं था। रात के अंधेरे में धीरज का मेसेज का स्करीन पर टू टू की आवाज के साथ आना। आज भी कल्पना की धडकनों में रमा है। शाम 8 बजे के बाद जब भी मेसेज की ट्यूनिंग आती। उसे व



कंधा

अर्थ जीते जी तो लोग नजर चुराते हैं, उंगली उठाने में खोए रहते हैं और मरते ही लोग कंधा देने चले आते हैं। चार का रिवाज कम सा हो रहा है। क्योंकि अब के इंसान का शरीर बेदम हो गया है। सिर्फ मुंह में जुबान और हाथ में कमान रह गई है। घरों से कई तानें बाने में बुनी चारपाई हट गई है। जिस पर बैठ लोग कितनी ही बात



गर्भावस्था के दौरान कार्बोहाइड्रेट्स के फायदे

गर्भावस्था के दौरान कार्बोहाइड्रेट आपके और आपके बच्चे के लिए आवश्यक स्त्रोत हैं, लेकिन सभी कार्ब्स समान नहीं बनते हैं। फाइबर के अतिरिक्त लाभ के लिए विभिन्न प्रकार के कार्बोहाइड्रेट के बारे में जानें, वे आ



अंतिम विदाई

बरसात का मौसम था | शाम से ही हल्की-हल्की बारिश होते - होते रात में कडकडाती बिजली के साथ किसी तूफानी घटना की ओर इशारा करने लगी । पत्नी तो मेरी बाहों में बंधते ही मेरे प्यार को रो



राइस ब्रान आयल के फ़ायदे और उपयोग

भारतीयों के भोजन में सबसे बड़ी विशेषता इसका स्वाद है



एक्जिमा क्या है ? इसके लक्षण व् इलाज !

शरीर की त्वचा के संक्रमणों में से एक्जिमा एक ऐसी बीमारी है जिसे हम स्किन डिसऑर्डर भी कहते है।



तनाव के लक्षण व् कारण

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव एक आम समस्या बन चुका है। हर किसी के मन में कई तरह के विचार और चिंताएं चलती रहती हैं।



रिलेशनशिप में होने वाली गलतियां

रिश्ते बेहद ही नाज़ुक होते हैं, कई बार छोटी गलती भी बड़ी बनकर रिश्ते को ख़त्म कर देती हैं।



संकष्टी चतुर्थी और लोहड़ी

संकष्टी चतुर्थीआज माघ शुक्ल चतुर्थी तिथि है – विघ्न विनाशकगणपति की उपासना का पर्व जिसे लम्बोदर संकष्टी चतुर्थी – आँचलिक बोली में संकटचतुर्थी – वक्रतुंडी चतुर्थी – तिलकुटा चौथ – कहा जाता है – का पावन पर्व है (सायंपाँच बजकर तैंतीस मिनट तक तृतीया है और उसके बाद चतुर्थी त



बामपंथी

प्रायः यह शब्द सुनकर अधिकतर रूस या चीन या कोरिया की छवि हमारे मन-मस्तिष्कीय रेखाओं पर अंकित होती है वस्तुतः भारत भूमि से इस शब्द का जुड़ाव एक अलग प्रसार-प्रचार को परिभाषित करता है |{ हिंन्दु विरोध } { पंथ निर्पेक्ष छवि } { इस्लामिक ईसाई शक्तियाँ } = राष्ट्रदोही अस्



साथी

साथी उसे बनाओं जो सुख दुख में साथ दे.ना कि उसे जो सिर्फ तस्वीरों में आपकी शोभा बढ़ाएं.शिल्पा रोंघे



दोषी कौन.......?

दोषी कौन.......? आज विद्यालय में बहुत चहल -पहल थी। विद्यार्थियों को अर्धवार्षिक परीक्षाओं के रिपोर्ट कार्ड मिल रहे थे। इस बदलते दौर में विकास को बहुत तेजी से छू लेने को आतुर बच्चे और उनके माता-पिता, रिपोर्ट कार्ड लेकर आगे बढ़ते जा रहे थे। कुछ में अपनी आशाओं के अनुरूप अंक न देखकर ,चेहरे पर ख़ुशी नहीं थ



सतरंगी थी जिंदगी

दोहावली मार्गशीर्ष की ठण्ड में , प्रियतम गए विदेश lपूस माघ रोता फिरे, फागुन दे सन्देश ll सतरंगी थी जिंदगी , सात वचन के साथ l मन की रंगत ले गए , मुझको किया अनाथ llसधवा मन विधवा हुआ ,कर



एक सपना

जिंदगी तू बता दे, ये सपने तो है पर रास्ता कहाजब गले मौत के लगने ही है , तो दर्द से मुलाकात न करा जख्म तो बहुत है पर , मरहम लागू कौन सा ये लहू की लाली को भी मिट जाना, फिर क्यों सुरमे से है, सजना सवारना इस मुकद्दर ने भी



करवा चौथ के साथ क्या क्या संयोग ...

https://duniaabhiabhi.com/4-amazing-coincidences-with-karva-chauth-and-also/



ये रिश्ता क्या कहलाता है: कार्तिक और नायरा के रीयूनियन के पहले बड़ा ड्रामा | आई डब्लयू एम बज

स्टार प्लस का प्रसिद्ध शो ये रिश्ता क्या कहलाता है डायरेक्टर कट द्वारा प्रोड्यूस है सच रूप में काफी लंबे समय से बहुत प्रत्याशित कायरा के रीयूनियन की गिनती शुरू हो गई है।सबसे बड़ा सवाल ये है कि क्या कार्तिक वेदिका (पंखुरी अवस्थी) से शादी करेंगे, या फिर कार्तिक और नायरा आमन



मनुष्य योनि में मानव जीवन का सद्पयोग - सिलिकॉन वैली छोड़ कर रहे आर्गेनिक खेती |

वर्तमान भारतीय शिक्षा व्यबस्था जो की ब्रिटिश हुक़ूमत के समयानुसार भारतीय मूल्यों व् सभ्यता-संस्कृति को सामान्य भारतीय जन-मानस के मन-मष्तिस्क में स्वयं का ही परिहास कराकर पच्छिमी भौतिक वैज्ञानिक शिक्षा को ही सर्वमान्य परपेछित कर आज के भारतीय युवा-वर्ग को सीमित बौद्धिक छमताओ में किसी श्रापबंध से बांध



हाथी

क्या किसी ने कहीं किसी हाथी को मरते देखा है जिसकी सूंड में चींटी घुस गई हो? ये कहावत बनाने वाला बहुत ज्ञानी रहा होगा. हमारे देश में ज्ञान की कमी नहीं है, उनके ज्ञान को समझने वालों की कमी थी लेकिन अब वो भी नहीं रही. ज्ञान बाट



ये रिश्ता क्या कहलाता है: पढ़िए क्या है कार्तिक की दुविधा | आई डब्लयू एम बज

स्टार प्लस पर ये रिश्ता क्या कहलाता है में पिछले कुछ हफ्तों में काफी ड्रामा देखने को मिला है। यह शो अपने रोमांचक ट्विस्ट और टर्न से दर्शकों को प्रभावित करने में कभी विफल नहीं होता। कहानी के अनुसार, नायरा अपने परिवार और अपने पति कार्तिक के पास लौटने का बड़ा फैसला लेती है।



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x