वैश्वीकरण

भाषा-व्यक्तित्व का आईना

भाषा-व्यक्तित्व का आईना डा. वेद प्रकाश भारद्वाज भाषा एक आईने की तरह होती है। हम जैसी भाषा बोलते हैं या लिखते हैं वैसा ही हमारा व्यक्तित्व होता है जो भाषा के आईने से सबके सामने आ जाता है। इस दृष्टि से यदि हम आज के युवाओं और बच्चों की भाष



भारतीय सिनेमा पर वैश्वीकरण का प्रभाव

वर्तमान में भूमंडलीकरण का प्रभाव यत्र-तत्र सर्वत्र देखने को मिल रहा है। देश, समाज, परिवार कोई भी क्षेत्र हो, कोई भी पक्ष हो हर जगह हमें भूमंडलीकरण का प्रभाव देखने को मिल रहा है। समाज का कोई भी क्षेत्र इससे अप्रभावित नहीं है। एक विश्व अथवा विश्व परिवार के सपने को संजोये नि





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x