का



*खुद्दारी*

आध्यात्मिक जीवनसामाजिक जीवनजीवन शैलीGamesTechnologyDownloadSelect Here Home आध्यात्मिक जीवन- सामाजिक जीवन - सामाजिक जीवन1 - सामाजिक जीवन2



क्या गुदा सम्भोग देता है कई बिमारियों को न्योता

गुदा सम्भोग आमतौर पर महिलायें पसंद नहीं करतीं। लेकिन कुछ महिलाओं को इसमें भी आनंद आता है। पुरुष महिलाओं के मुकाबले गुदा सम्भोग करने में ज्यादा आनंदित होते हैं। लेकिन गुदा सम्भोग से यौन संचारित रोग और संक्रमण फैलने के चान्सेस ज्यादा रहते



है, जहाँ जीना कठिन, मरना जहाँ आसान है=, ..... क्या , यही हिंदोस्तान है ?

है, जहाँ जीना कठिन, मरना जहाँ आसान है .....क्या .... यही हिंदोस्तान है ? पकड़ो, पकड़ो , .... मारो ,मारो , की आवाज़ों से वहकांप रहा था । एकाएक आवाज़ें नजदीक आने लगी । उसे कुछ समझ नहीं आ रहाथा। वह जड़ खड़ा था, तभीकिसी ने झपट कर उसे खींच लिया और छिपा लिया अपने आँचल में.....थोड़ी दूर का मंजर देखकर वह छटपट



सफलता

कभी मत रहो आश्रित किस्मत पर केवलकरो तुम मेहनत, तभी होंगे तुम सफलपहले तुम्हारे काम अटकते हुए दिखेंगेपहले तुम्हारे मार्ग भटकते हुए दिखेंगेकुछ समझ में न आए तभी जब तुम्हेंमन से ताकत खिसकते हुए दिखेंगेधीरे - धीरे बाद में तुम जाओगे संभलकरो तुम मेहनत, तभी होंगे तुम सफलछांव धूप से तुम्हे डराती हुई आयेगीसुस्



प्रदर्शनकारियों एवं उनके नेताओं के अटपटे बोल

प्रदर्शन कारियों के अटपटे बोल डॉ शोभा भारद्वाजवारिस पठान का भाषण सुन कर हैरानी हुई .वह कुछ भी बोल सकते हैं धमका सकते हैंइनके अनुसार संविधान अभिव्यक्ति की आजादी देता है परन्



Central University क्या है कम्प्लीट जानकारी

Central University (केंद्रीय विश्वविद्यालय) के बारे में जानें। ये जानकारी आगे काम आएगी। जरूर पढ़ें। Central university kya hai complete jankariहमारे भारत देश के लगभग हर राज्य में central university मौजूद है। आप सोच रहे होंगे कि हमारे देश मे इनकी आवश्यकता क्यों पढ़ी और भारत म



युवा रचनाकार आलोक कौशिक की संक्षिप्त जीवनी

आलोक कौशिक एक युवा रचनाकार एवं पत्रकार हैं। इनका जन्म 20 जून 1989 को एक ब्राह्मण परिवार में हुआ। इनके पिता का नाम पुण्यानंद ठाकुर एवं माता का नाम सुधा देवी है। मूलतः बिहार राज्य अन्तर्गत अररिया जिले के फतेहपुर गांव निवासी आलोक कौशिक ने स्नातकोत्तर (अंग्रेजी साहित्य) तक की पढाई बेगूसराय (बिहार) से की



युवा रचनाकार आलोक कौशिक की संक्षिप्त जीवनी

आलोक कौशिक एक युवा रचनाकार एवं पत्रकार हैं। इनका जन्म 20 जून 1989 को एक ब्राह्मण परिवार में हुआ। इनके पिता का नाम पुण्यानंद ठाकुर एवं माता का नाम सुधा देवी है। मूलतः बिहार राज्य अन्तर्गत अररिया जिले के फतेहपुर गांव निवासी आलोक कौशिक ने स्नातकोत्तर (अंग्रेजी साहित्य) तक की पढाई बेगूसराय (बिहार) से की



मेरे जीवन की दर्दनाक घटना

प्रिय स्नेही मित्रों जय श्रीकृष्णा *14/07/2019 की सुबह06 बजे मैं घर के बाहर गाय का दूध निकाल रहा था। ऊपर से विजली का तार टूटकर मेरे सिर पर गिर गया। सिर से जब मेरी पीठ पर गिरा तो मैं आआआआआ करते हुए पीछे की तरफ गिर गया , जबकि दिमाग काम कर रहा है कि कोई हमे हाथ से न छूए अन्यथा उसे भी खतरा ह



लाडला वोट बैंक

लाडला वोट बैंक डॉ शोभा भारद्वाज सीएए का विरोध करतामुस्लिम समाजपाकिस्तानी चैनलोंएवं प्रिंटमीडिया मेंसुर्खियाँ बटोररहा है उनके अपनेयहाँ अल्पसंख्यक बेजुबान हैंउनकी जर जमीन धर्म,बच्चियाँ ,जीवन,मरणोपरान्त संस्कार का हक कुछ भी सुरक्षित नहींहै कम उम्र की नादान बच्चियां उठा लेतेहैं कलमापढ़ा कर उनका अधेड़बाल



शाहीन बाग़ का धरना



तुलसी का बीज क्या होता है?

तुलसी को मीठी तुलसी और तुलसी के बीजों को सब्जा सीड्स, तुकमेरिया के बीज और बेसिल सीड्स के नाम से हमलोग जानते हैं।जबकि तुलसी के बीज नाम ही सबसे ज्यादा जानना जाता है। तुलसी दो प्रकार की पायी जाती होती है जैसे :-राम और श्याम।श्याम तुलसी के पत्ते काले पत्तों के रूप में पाया जाता है,वही राम तुलसी के पत्त



तनाव के लक्षण व् कारण

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव एक आम समस्या बन चुका है। हर किसी के मन में कई तरह के विचार और चिंताएं चलती रहती हैं। कुछ चिंताएं ऐसी भी होती हैं जो हर किसी के साथ बांटी भी नहीं जा सकती हैं। ये चिंताएं परिवार को लेकर, आर्थिक तंगी को लेकर, स्वास्थ्य को लेकर या आपसी संब



सकूं की तलाश में

इस पिजरे में कितना सकूँ हैबाहर तो मुरझाए फूल बिक रहे हैकोई ले रहा गंध बनावटीभागमभाग है व्यर्थ हीएक जाल है;मायाजाल हैघर से बंधन तकबंधन से घर तकस्वतंत्रता का अहसास मात्र लिएकभी कह ना हुआ गुलाम हैंगुलामी की यही पहचान है।मर रहे रोज कुछ कहने में जी रहेसब फंसे हैंसब चक्र में पड़े हैंअंदर आने का रास्ता बड़ा



लाल गुलाब 'मरजानया ' से जीन जोग्या'' तक के नाम

लाल गुलाब ‘मरजानया’ से जीन जोग्या तक के नाम डॉ शोभा भारद्वाज वेलेंटाइन डे के मौके पर मुझे पाकिस्तानी इंजीनियर अहसान कीकहानी याद आई वह हमारे ईरान में प्रवासके दौरान परिचितभारतीय के साथ घूमने आया था | पाकिस



भारत में टेस्ट ट्यूब बेबी का खर्च कितना है?

चिकित्सीय विज्ञान में इन विट्रो फ़र्टिलाइज़ेशन यानी आईवीएफ तकनीक उन महिलाओं के लिए वरदान है जो माँ बनने की चाह रखते हुए भी गर्भावस्था का सुख नहीं ले पाती है। आईवीएफ तकनीक यानि टेस्ट ट्यूब बेबी प्रक्रिया, बांझपन के उपचार में काफी कारगर



प्रेग्नेंसी के समय महिला के डिप्रेशन होने के क्या मुख्य कारण हैं

प्रेग्नेंसी के समय महिला के डिप्रेशन होने के मुख्य कारण निम्नलिखित हैं : -हार्मोंनल बदलाव प्रेग्नेंसी के समय महिला में मानसिक और शारीरिक दोनों तरह के कई बदलाव होते हैं।महिला के डिप्रेशन में होने पर हार्मोंस सीधे महिला के दिमाग को प्रभावित करते हैं, जो महिला के इमोशन और मूड को नियंत्रित करता है।ये हा



नशा माटो के शराबखाने का : दिनेश डाक्टर

समुद्र के किनारे चलते चलते रास्ते में एक शांत सी दुकान देखी तो कुछ पीने और सुस्ताने के इरादे से उसमे ही घुस गया । यह दरअसल एक शराब खाना था जो मुख्य टूरिस्ट मार्ग पर न होने की वजह से इस समय वीरान था । अंदर रेड और व्हाइट वाइन के कांच के बड़े बड़े जार थे, लकड़ी के बड़े बड़े गोल हौद थे जिनमे वाइन बनन



थकान और आलस्य को दुर करने के लिए घरेलू उपाय

थकान और उसे होने वाली कमजोरी वर्तमान समय में होने वाली सबसे बड़ी समस्या है।आजकल हर व्यक्ति थकान से पीड़ित है ऐसे में यह बहुत ही जरूरी है कि थकान और उसे होने वाली सुस्ती का उपचार किया जाए ताकि हमारी कार्य करने की शक्ति दोबारा पहले जैसी सही जाये।कुछ घरेलू उपाय हैं जिनकी सहायता से हम अपनी सारी थकान और स



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x