की



स्यापा (मातम ) क्या अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता है ?

स्यापा ( मातम ) क्या अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रताहै ? डॉ शोभा भारद्वाज किस्सा पंजाब का है,पहले किसी सम्मानित वृद्ध की मृत्यू होती थी अपना वैभव व दुःख दिखाने के लिएरुदालिया बुलाई जाती इनकी बकायदा मंडलियाँ थीं इनके कई किस्से भी हैं.एक वृद्ध सेठ लालाजी के नाम से मशहूर था की मृत्यू हुई भरापूरा परिवार था ल



कवींन बी मेरी माँ

क्वीन बी मेरी माँ ( आज मेरी माँ का जन्म दिन है वह कितने वर्ष की हो गयी हैं हम जानना नहीं चाहते ) डॉ शोभा भारद्वाज मेरी माँ के पिता अर्थात मेरे जागीरदार नाना कालेज मेंप्रिंसिपल और जाने माने अंकगणित के माहिर थे . मेरी नानी अंग्रेजों के समय में विदेशीवस्तुओं का बहिष्कार ( पिकेटिंग



इंटरनेशनल मीडिया भारत की छवि खराब करता रहता है

इंटरनेशनल मीडियाभारत की छवि खराब करता रहता हैं डॉ शोभा भारद्वाज मेरी बेटी, अमेरिका की बेस्ट यूनिवर्सिटी मेंपढ़ी सिंगापूर में उच्च पदाधकारी ,मोटे –मोटे आंसू बहाती हुई सुबक रही थी . उसने सिंगापुर टाईम्स , गार्जियन, न्यूयार्कटाइम्स ,वाशिंगटन पोस्ट पढ़ी ,बीबीसी मेंखबरे देखीं घबरा गयी हमसे प्रार्थना कर



04 फरवरी 2021

रील लाइफ VS रियल लाइफ_3

रील लाइफ में एक सीरियल आता है छोटी सरदारनी जिसमें एक लड़की की शादी ऐसे लड़के से होती है जिसके एक बेटा होता है परम , वो लड़की उसकी सौतेली माँ होते हुए भी उसे सगी माँ सा प्यार और दुलार देती है , उस बच्चे को अपना समझती है और अपने बच्चे और सौतेले बच्चे में कोई फर्क नहीं करती हैं अब बात



31 जनवरी 2021

रील लाइफ VS रियल लाइफ_2

रील लाइफ में एक शो आता हैं अनोखी और शौर्य की कहानी जिसमें अनोखी पढ़ना चाहती हैं पंरतु उसके पिता उसे सपोर्ट नहीं करते क्युकी वो एक लड़की हैं , पर उसकी मेम उसे सपोर्ट करती हैं और उसे कॉलेज में प्रवेश मिल जाता हैं,अब बात करते हैं रीयल लाइफ कीअक्सर देखने में आता हैं कि कुछ घरों में बेटियां होती हैं तो उ



चौराहे की बतकही

"चौराहे की बतकही"झिनकू भैया अपने गाँव के एक मध्यम किसान हैं, अच्छी खेती करते हैं, प्रति वर्ष करीब चार लाख का गल्ला, नजदीकी सरकारी खरीद केंद्र पर बिक्री कर देते हैं। कुछ सरकारी अनुदान इत्यादि भी मिल ही जाता है। अभी अभी कृषि कानून जो सरकार ने दोनों सदनों से पारित किया है उससे वे संतुष्ट भी हैं। कर्मठी



डर के साये में अमेरिकन प्रजातांत्रिक व्यवस्था

डर के साए में अमेरिकन प्रजातांत्रिक व्यवस्था डॉ शोभा भारद्वाजकैपिटल बिल्डिंग परधावा, अमेरिकन प्रजातंत्र की छवि पर दाग लगा गया विश्व की सबसेपुराने लोकतंत्र की गरिमा पर ट्रम्प समर्थकों में चरम पंथी विचारधारा केउपद्रवियों ने संसद के बाहर एवं भीतर हंगामा कर प्रश्न चिन्ह लगा दिया .अत : 46वेंराष्ट्



लोहड़ी एवं मकर संक्रान्ति की शुभकामनाये

लोहड़ी एवंमकर संक्रांति की शुभकामनायें डॉ शोभाभारद्वाज सिंधूबार्डर पर लोहड़ी की अग्नि प्रज्वल्लित कर उसमें कृषि कानून की प्रतियाँ जलाते हुएचित्र खिचवाने की होड़ लग गयी . जबकि लोहड़ी हर्ष उल्लास का उत्सव है यह पंजाबहरियाणा हिमाचल और जम्मू दिल्ली में धूमधाम से मनाया जाता है . खेतिहरसमाज में बेटों का बहुत



कीटो डाइट

Keto diet kya weight loss karne ka sahi tareeka hai ? Dietician mante hai ki isme kai khamiya hai. shuruwat me hi dietician ki salah lena behad zaruri hai .weight kam karne ke lie aksar log koshishe karte hai aur uske lie alag alag diet plan banate hai. aajkal ketogen



अटल जी की जयंती

दोहा मुक्तकअटल बिहारी जी हुए, भारत रत्न महान।राजनीति के सन्त थे, हिन्द देश की शान।कलम सिपाही भी बने, कविता लिखी तमाम,विश्व पटल पर देश का, सदा बढ़ाया मान। अभिनव मिश्र अदम्य



अटल जी की जयंती

#मुक्तक रत्न पुरुष बन विश्व पटल पर, नाम देश का बढा गया।हिन्द देश का कलम सिपाही, पाठ सहिष्णुता पढ़ा गया।आज जयंती पर उसकी आ, मिलके शीश नवाएं हमइतिहासों के पन्नो पर जो, नाम अटल इक चढ़ा गया।अदम्य



चेहरे पर मुस्कान लौटाती आशाएं

बुंदेलखण्ड की हीरा नगरी कहे जाने वाला पन्नाजिला वास्तव में आदिवासी बहुल क्षेत्र है। इसी पन्ना जिले के देवेन्द्रनगरविकासखण्ड के ग्राम फुलवारी



‘‘गांधी‘‘ के ‘‘साथ‘‘व ‘‘गांधी‘‘ के ‘‘बिना‘‘ ही कांग्रेस का ‘‘अस्तित्व एवम नियति‘‘ है।

पूर्व में वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं की कांग्रेस हाई कमांड को लिखी गई ‘चिट्ठी’ पर सोनिया गांधी के ‘‘बुलावे’’ पर इन समस्त ‘‘तथाकथित असंतुष्टों‘‘ व नाराज नेताओं की एक चिंतन बैठक हुई। ‘चिंता’ की सीमा तक कांग्रेस की ‘‘चिंताजनक स्थिति‘‘ हो जाने के कारण बैठक को उपयोगी बनाने हेतु‘‘ चिंतन बैठक‘‘ का नाम देना तो



जम्मू कश्मीर में जिला विकास परिषद के चुनाव परिणाम अमन शांति की और बढ़ते कदम हैं

जम्मूकश्मीर में जिला विकास परिषद के चुनाव परिणाम अमन शांति की और बढ़ते कदम डॉ शोभाभारद्वाज जम्मूकश्मीर में जिला विकास परिषद के चुनाव संसद द्वारा धारा 370 की समाप्ति के बाद हुएगुपतार गठ्बन्धन का चुनावों में हिस्सा लेना परोक्ष रूप से अनुच्छेद 370 कीसमाप्ति पर स्वीकृति थी 370 का काल गुजर गया . महबूबा



मंगू

पढ़िए मंगू की



स्वर्गीय सरदार वल्लभ भाई पटेल ( 15 दिसम्बर 1950 , पुण्य तिथि

स्वर्गीय सरदार बल्लभ भाई पटेल ( 15 दिसम्बर 1950 ,पुण्यतिथि)डॉ शोभा भारद्वाज महान राजनीतिज्ञ एवं कूटनीतिज्ञ स्वर्गीय सरदारवल्लभ भाई पटेल भारत के उप प्रधान मंत्री एवं गृह मंत्री ने 15 दिसम्बर1950 को दिल कादौरा पड़ने से संसार को अलविदा कह दिया उनकी मृत्यू देश के लिए बहुत बड़ी क्षति थी . सरदार साहब को लौ



अब हर व्‍यक्ति हाईफाय,चाय, पान की दुकान में भी वायफाई!

अब हर व्‍यक्ति हाईफाय,चाय, पान की दुकान में भी वायफाई! एकसमय था जब पब्लिक टेलीफोन बूथ का जमाना था: उस समय मोबाइल नहीं हुआ करते थे और लोगोंके यहां लैण्‍ड लाइन फोन भी बहुत कम हुआ करते थे ऐसे में पब्लिक टेलीफोन बूथ बहुत कारगरहुआ करते थे:सडकों पर दो चार कदम चलों तो वहां स



अब मैं वह दिल की धड़कन कहाँ से लाऊंगा

जब-जब भी मैं तेरे पास आयातू अक्सर मिली मुझे छत के एक कोने मेंचटाई या फिर कुर्सी में बैठीबडे़ आराम से हुक्का गुड़गुड़ाते हुएतेरे हुक्के की गुड़गुड़ाहट सुन मैं दबे पांव सीढ़ियां चढ़कर तुझे चौंकाने तेरे पास पहुंचना चाहताउससे पहले ही तू उल्टा मुझे छक्का देती मेरे कहने पर



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x