की



ग़ज़ल

आग नहीं हूं मैं कुछ लोग फिर भी जलते हैं मुझको गिराने में वो हर बार फिसलते हैं उनसे भी मिला करो जिनकी ज़ुबां है कड़वी बचो उनसे जो कानों में ज़हर उगलते हैं देती है सुकून आख़िर मेरी ही मोहब्बत आज भी दिल जब हसीनाओं के मचलते हैं अश्कों का सैलाब उमड़ पड़ता है आंखों से जब दर्द देने वाले इस दिल में मिलते हैं



महिलाओं की कामेच्छा

यौन सम्बन्ध या सम्भोग क्रिया मानव जीवन का अहम अंग है जिसकी अपनी महत्ता है।इस प्राकृतिक प्रक्रिया को कई मानसिक एवं शारीरिक कारक प्रभावित करते हैं, जिससे सम्भोग करने की इच्छा पर असर पड़ता है।शारीरिक सम्बन्ध बनाने की इच्छा को सेक्स ड्राइव (Sex drive), कामेच्छा या लिबिडो (Libido) के नाम से जाना जाता है।1



ग़ज़ल

सारे शहर में चर्चा ये सरेआम हो गया दोस्ती से ऊपर हिंदू इस्लाम हो गया खड़ी कर दी मज़हब की दीवार तो सुन अब भगवान मेरा परशुराम हो गया गिरे हो तुम जबसे मेरी इन नज़रों में तेरी नज़रों में काफ़िर मेरा नाम हो गया कामयाबी मिल सकती थी तुझको लेकिन नापाक था साजिश तेरा जो नाकाम हो गया अजायबघरों में रखा ताज गर ते



SSC CGL Preparation 2020 की तैयारी कैसें करें Complete Details Hindi

SSC CGL Preparation SSC CGL Exam Crack करने का सबसे पहला चरण है, SSC CGL Examination चार अलग अलग चरणों में आयोजित किया जाता है जिसे tiers के नाम से जाना जाता है अगर हम SSC CGL Tire 1 exam preparation या तैयारी की बात करें तो यह SSC CGL Exam Crack करने का सबसे पहले चरण है.SSC CGL देश भर में सबसे अधिक



संघर्ष पथ

2012 से दो वर्ष पूर्व यानी 2017 तक हर साल, मैं किसी न किसी एग्जाम के फाइनल राउंड तक पहुंचता था और फिर बाहर हो जाता था। फाइनल लिस्ट में हमेशा कुछ नंबरों से रह जाता था, हर बार।जब मैं कोई एग्जाम पास नहीं कर पाया, मुझे लगा मैं हार गया हूं। कुंठित हो गया और कुछ समय पश्चात दुख और अवसाद से घिर गया। अवसाद च



Hindi love poetry based on sentiments- मेरा श्रृंगार तुमसे ;अर्चना की रचना

प्रेम में स्त्री की भावना को दर्शाती हिंदी कविता मेरा श्रृंगार तुमसे दर्पण के सामने खड़ी होकर, जब भी खुद को सँवारती हूँ उस दर्पण में तुमको साथ देख,अचरज में पड़ जाती हूँशरमाकर कजरारी नज़रें नीचे झुक जाती हैं पर कनखियों से तुमको ही देखा करती हैं यूं आँखों ही आँखों में पूछ लेती



ग़ज़ल

खुद को तुम समझाकर तो देखोदर्द में भी मुस्कुराकर तो देखो जरूरतें हो जाएंगी कम तेरी भी ईमानदारी से कमाकर तो देखो बढ़ जाएगा एक और दुश्मन किसी को आईना दिखाकर तो देखो सीख जाओगे दलाली भी करना तुम पत्रकार बनकर तो देखो हो जाएगी मोहब्बत मिट्टी स



आतंकवाद क्या हैं?

आतंकवाद एक ऐसा तत्व है जो जीवन के सभी पहलुओं को प्रभावित कर रहा हैं। आधुनिक समय मे आतंकवाद एक राजनीतिक मुद्दे के साथ-साथ एक कानूनी व सैनिक मुद्दा भी बन गया है। यह देशों की राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मुद्दा भी हैं, किन्तु यह है क्या? आतंकवाद को परिभाषित नहीं किया जा स



SSC CGL Preparation 2020 की तैयारी कैसें करें Complete Details Hindi

SSC CGL Preparation SSC CGL Exam Crack करने का सबसे पहला चरण है, SSC CGL Examination चार अलग अलग चरणों में आयोजित किया जाता है जिसे tiers के नाम से जाना जाता है अगर हम SSC CGL Tire 1 exam preparation या तैयारी की बात करें तो यह SSC CGL Exam Crack करने का सबसे पहले चरण है.SSC CGL देश भर में सबसे अधिक



SSC Full Form : SSC क्या है और SSC की तैयारी कैसे करें पूरी जानकारी 2020

“SSC Full Form – Staff Selection Commission है SSC UPSC के बाद विभिन्न सरकारी विभागों और मंत्रालयों में कर्मियों को चुनने और नियुक्त करने के लिए एक प्रमुख भर्ती निकाय है”दोस्तों जब हम सरकारी नौकरी की बात करते है तब SSC Staff Selection Commission का नाम सबसे पहले आता है अगर हम SSC के Full Form की बात



सरस्वती वंदना

हम मानुष जड़मति तू मां हमारी भारती आशीष से अपने प्रज्ञा संतति का संवारती तिमिर अज्ञान का दूर करो मां वागीश्वरी आत्मा संगीत की निहित तुझमें रागेश्वरी वाणी तू ही तू ही चक्षु मां वीणा-पुस्तक-धारिणी तू ही चित्त बुद्धि तू ही कृपा करो जगतारिणी विराजो जिह्वा पे धात्री हे देवी श्वेतपद्मासना क्षमा करो अपराधों



ग़ज़ल

बेबसी की आख़िरी रात कभी तो होगी रहमतों की बरसात कभी तो होगी जो खो गया था कभी राह-ए-सफ़र में उस राही से मुलाक़ात कभी तो होगी हो मुझ पर निगाह-ए-करम तेरी इबादत में ऐसी बात कभी तो होगी आऊंगा तेरी चौखट पे मेरे मालिक मेरे कदमों की बिसात कभी तो होगी लगेगा ना दिल तेरा कहीं मेरे बिना इन आंखों से करामात कभी तो ह



ग़ज़ल

मानव ही मानवता को शर्मसार करता है सांप डसने से क्या कभी इंकार करता है उसको भी सज़ा दो गुनहगार तो वह भी है जो ज़ुबां और आंखों से बलात्कार करता है तू ग़ैर है मत देख मेरी बर्बादी के सपने ऐसा काम सिर्फ़ मेरा रिश्तेदार करता है देखकर जो नज़रें चुराता था कल तलक वो भी छुपकर आज मेरा दीदार करता है दे जाता है दर्द



पौधों में मिट्टी चढ़ाना

पौधों के विकास की अवस्था में मिट्टी चढ़ाना काफी मायने रखता है। आज के लेख में जानें पौधों में मिट्टी चढ़ाने से क्या फायदा होता हैऔर इसे किस तरह से करते हैं। किसान भाइयों, पौधों को मिट्टीचढ़ाने से उनको हवा,



ग़ज़ल

यह दावा है मेरा मैं तुझे याद आता रहूंगा हवा बनकर सांसों में तेरी समाता रहूंगा तेरी रूह भी हो जाये बेचैन सुनकर जिसे लिखकर ग़ज़लें ऐसी मैं अब गाता रहूंगा सो भी ना सकोगे सुकूं से बिछड़कर मुझसे यादों से अपनी ऐसे मैं तुझे जगाता रहूंगा ख़ैरियत तक पूछेंगे लोग मेरी तुझसे ही एक सवाल बनकर तुझे सताता रहूंगा तुम बु



आलोक कौशिक की कुछ साहित्यिक कृतियां

👇 'आलोक कौशिक' की कुछ साहित्यिक कृतियों को इस लिंक पर Click करके पढ़ें:- 👇Some Literary Works Of Alok Kaushik



बचपन

साथ घूमते थे नंगे पांव दूर तक बाग में खेत मेंऔर सड़क परकभी नहर के किनारेपूरे एक-एक प्रहर तकनहाते थे डुबकियां लगातेधूल फेंकते दोस्तों परगम ना था फिक्र न थीमां से पिटने कीन था पिता से डांट खाने का डरमगर फिर भी एक भय व्याप्त थाबड़े भाई केहाँथ उठ जाने परगम न था फिक्र न थीसूखी रोटी भीभर पेट खाते थेकभी अपन



कविता

👇इस लिंक पर Click करके पढ़ें:- कवि हो तुम



कविता

👇इस लिंक पर Click करके पढ़ें:- कुछ ऐसा करो इस नूतन वर्ष



ग़ज़ल

ज़िंदगी ने इस क़दर रूलाया है सारे ख्वाबों को हमने जलाया है ऐसा था हमारी बेबसी का आलम पतझड़ में भी शाख़ों को हिलाया है देखो सुक़ून से सोया है वो बच्चा लगता है उसकी मां ने सुलाया है ना जाने क्यों रो रही है ये बुढ़िया मैंने जबसे इसे खाना खिलाया है मुसलमान महफूज़ नहीं यहां गद्दार ने यह भ्रम फैलाया है उसका ही स



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x