आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]
x
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस

मनोरंजन

मनोरंजन से सम्बंधित लेख निम्नलिखित है :-

इस लड़के ने उड़ा रखी है बड़े-बड़ों की नींद, बोला- मैं मिस्टर इंडिया तो हूं नहीं

साइकल पर चलने वाले इस लड़के ने एमपी में बड़े-बड़ों की नींद उड़ा दी है। दो साल में इनके 80 सिक्यूरिटी गार्ड बदल चुके हैं। कई गार्ड शिकायत करते हैं कि ये बिना बताए गायब हो जाते हैं। ये हैं व्यापमं घोटाले से जुडे हुए Whistleblower आशीष


कौन है यह लड़की, जिसके चक्कर में सेंकडों लड़को का फूटा सिर, गूगल में प्रियंका चोपड़ा से भी ज्यादा हुई सर्च

दिशा विराज खंड ओल्ड एमिटी में पढ़ती थीं और न्यू एमिटी मल्हौर (4 किलोमीटर दूर) से लड़के उन्हें देखने के लिए आते थे.2016 में गूगल सर्च इंजर पर टॉप ट्रेन्डिंग फीमेल की कैटेगरी में यूपी के बरेली की रहने वाली एक्‍ट्रेस दिशा पाटनी पहले 1st नंबर रही. कॅालेज के दिनों हर यूवा के जवान पर दिशा कि खूबसूरती को लेक


लोहड़ी --------- उल्लास का पर्व

पंजाब का लोकपर्व मकर सक्रांति से ठीक एक या कभी - कभी दो दिन पहले आता है | ये पर्व पंजाब की जिन्दादिली से भरे जनजीवन को दर्शाता है .| इस दिन लोगों का उत्साह देखते ही बनता है | . घरो और गलियों में रेवड़ी और मूंगफली की


नीली बत्ती से पहुंची 10 साल की सानिया ऑफिस और बैठी आईजी की कुर्सी पर तो पुलिसवालों ने ठोंकी सलामी

उम्र महज 10 साल। मगर ओहदा-पुलिस महानिरीक्षक(आइजी) का। जब सानिया आईजी की वर्दी पहनकर ऑफिस पहुंची तो दफ्तर के सभी खाकीवाले लाइन में लगकर सलामी देने लगे। सानिया का सपना आईजी ने किया पूरासानिया जन्म से ही दृष्टिहीन है। दोनों किडनियां जवाब दे च


दर्पण को दोष लगाने से

दर्पण को दोष लगाने से सूरत नहीं बदल जाती है !तुम मत पूजो घर की तुलसी !तुम मत मानों ,कोई देवता ! बहती नदिया को छलकर तुम ,भ्रम पाले ना ,कोई देखता !छुप-छुपकर ,चोरी करने सेसीरत नहीं बदल जाती है !चुगली करतीं हैं ख़ुद आँखें !कितना पाप लिए जागे हो !सीढ़ी पर हो झुकते लेकिन ,विश्वासों के तोड़े धागे !अर्चन को


ये 33 तस्वीरें साबित करती हैं कि एक बेवकूफ़ खोजने निकलो तो सैकड़ों मिल जाएंगे

भारत देश ‘अनेकता में एकता’ का सबसे बेहतरीन उदाहरण है. दुनियाभर में यही एक ऐसा देश है, जहां अगल धर्म, भाषा और खान-पान होने के बावजूद सब एक साथ रहते हैं. इतनी भिन्नता होने के बावजूद भी इन सब में एक समानता है और वो है जुगाड़. अब तक आप यही सोचते होंगे, लेकिन जुगाड़ के


धरती पर भगवान हैं, सिद्ध करके दिखाता हूँ

अगर इन प्रमाणों को आप नकार सको या कोई तर्क हो तो ज़रूर बताना . भगवान्, किसी भी रूप में मानो , मगर वो है ! १. "अमरनाथजी" में शिवलिंग अपने आप बनता है२. "माँ ज्वालामुखी" में हमेशा ज्वाला निकलती है३. "मैहर माता मंदिर" में रात को आल्हा अब भी आते हैं४. सीमा पर स्थित तनोट माता मंदिर में 3000 बम में से एक का


इस साल नोटबंदी बना मज़ाक, आप भी जानिए पर जूता मत मारीयेगा प्लीज

साहब, नोटबंदी को लेकर के सब परेशान हैं, मैं भी परेशान क्योंकि मैं ना मोदी, ना राहुल, ना रविश और ना ही खान हूँ. लेकिन पूरी नोटबंदी के मसले में कुछ लोगों ने मजाकिया मशाल भर दिया


*आज का प्रश्न*

नववर्ष के बारे में जो नहीं जानते वो अवश्य पढ़े नववर्ष हर धर्म का अलग होता है। ज्यादातर देश ईसाई धर्म के, मुस्लिम,बोद्ध, बहाई, हिन्दू धर्म, और अंत में पारसी को मानने वाले। ज्यादातर सभी देश में नव वर्ष का आगमन उनके धर्म के अनुसार ही मनाया जाता है।*2017 अंग्रेजी का नववर्ष हे और प्रायः सभी देशों में मनाय


और खा तंबाखू


नियम तोड़ने में हम भारतीयों का कोई जवाब नहीं! तस्वीरें गवाह हैं

प्रधानमंत्री ऐसे हो तो जनता के तो क्या कहनेआपने ये गाना तो सुना होगा 'सारे नियम तोड़ दो, नियम पे चलना छोड़ दो, अपने नित नए नियम बनाओ जिसमे अपना फायदा हो खुद ही मालिक बन जाओ,' बस दोस्तों अपने देश की जनता भी कुछ ऐसी ही है। चाहे देश में कितने ही कानून और नियम बना लो, लेकिन जनता सब जानती है बॉस


देश की टॉप यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली इस लड़की को शादी करनी है

फेसबुक पर दो तरह के लोग रहते हैं. एक प्रतिभा मिश्रा और बाकी सब. कानपुर से दिल्ली चली आईं एक दिन. फिर वापस ही नहीं गईं. पढ़ने आई थीं. एमफ़िल कर रही हैं. दिल्ली विश्वविद्यालय से. कानपूर यूनिवर्सिटी कई बार रात को स्कॉच का गिलास लेकर डबडबाई आंखों के साथ इनकी राह तकती है. लेकिन बिजली वाले मिश्रा जी की बिटि


मानवता की मिसाल, दिल्ली-एनसीआर में खोने से बच गई एक ज़िन्दगी

सोशल मीडिया के माध्यम से ढूंढ निकाला बिछड़ी हुई बूढ़ी-बीमार प्रभा देवी का घर, राज महाजन ने अपने बच्चो के साथ मिलकर किया मिशन पूरा और पेश की इंसानियत कि मिसालगढ़वाली लोक गायक नरेन्द्र सिंह नेगी ने अपने फेसबुक पेज पर राज महाजन को किया समस्त गढ़वाल समाज की तरफ से धन्यव


नोटबंदी के दौर में मिसाल बनी ये महिला कांस्टेबल, जीत लिया हर किसी का दिल

नोटबंदी और पुराने नोट बदलने के लिए आ रही दिक्कतों के बीच एक महिला कांस्टेबल ने मिसाल पेश की है. इस महिला कांस्टेबल को कैशियर ने गलती से ज्यादा दे दिए थे, जिसे लौटाने के लिए वह दोबारा बैंक पहुंची.महिला कांस्टेबल के ईमानदारी की मिसाल कायम करने का यह मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल का है. यहां कांस्


"अभी भी कुछ जगह पुरानी करन्सी अलाउड है"😂😂

ये सरकार का नया नियम है भाई लोग !!!!


कोठे में ज़िदगी का दर्द बयां करती हैं ये दिल छू लेने वाली तस्वीरें

बांग्लादेश, पड़ोस में बसा एक छोटा-सा मुल्क, उन मुस्लिम देशों में से एक है जहां वेश्यावृति लीगल है। बांग्लादेश के तंगैल ज़िले का कांडापारा वेश्यालय वहां का सबसे पुराना और दूसरा सबसे बड़ा वेश्यालय है। 200 साल पुराने इस कोठे को 2014 में हटाया गया, मगर लोकल एनजीओ की मद


सावधान! अपने बच्चे के हाथ में मोबाइल देने से पहले देखें ये वीडियो, शेयर करें

आजकल लोग अपने नन्हें- मुन्ने बच्चों को चुप करने के लिए उन्हें मोबाइल हाथ में थमा देते हैं. क्या आप नहीं जानते कि इससे निकलने वाली तरंग बहुत ही खतरनाक होती हैं. जिसके चलते बच्चों का दिमागी सन्तुलन बिगड़ सकता है. सोशल मीडिया पर एक ऐसा ह


14 किलो सोना लूटने वालों का व्हाट्सऐप चैट देखिए

अहमदाबाद में एक ऐसी घटना घटी है जो कि बहुत ही फिल्मी है. ये घटना घटी है मल्टीनेशनल कंपनी एसआईएस-प्रोसेगर के ऑफिस में. एसआईएस-प्रोसेगर बैकों के एटीएम में पैसे भरने और सोना-चांदी सहित कई और कीमती चीजों को सुरक्षित रखने की सर्विस देती है. एक सौतेले भाई-बहन ने इसके ऑफिस से 14 किलो सोना लूट लिया. बाद में


प्यासे सुअर को पानी पिलाने पर मिली 10 साल की कैद

अपने यहां सीडी में भजन बजते हैं. कभी प्यासे को पानी पिलाया नहीं बाद अमृत पिलाने से क्या फायदा. मने पानी पिलाना सबसे बड़ा पुण्य कहा जाता है. लेकिन कनाडा में इसका उल्टा केस हो गया. पिछली 29 नवंबर को एक अजीब केस और उससे भी अजीब सजा खबरों की मार्केट में आई. 48 साल की एक मोहतरमा, जिनका नाम है अनीता क्रैज


नहीं बन पा रहा था मंदिर, दान कर दी कब्रिस्तान की जमीन लेकिन !

एक गांव के ग्रामीणों ने साम्प्रदायिक सोहार्द की एक ऐसी मिसाल पेश की है जिसे देखकर सभी को शिक्षा लेनी चाहिए. उनके इस कार्य के लिए हर कोई तारीफ कर रहा है. दरअसल, हम बात सीकर जिले की सीमा पर बसे कोलिडा गांव की कर रहे हैं. इस गांव में मुस्लिम समाज के लोगों ने अपनी दरिया दिली दिखाते हुए हिंदू समाज द्वारा


आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]
x
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस