कर्ण का अंतिम संस्कार

कर्ण का अंतिम संस्कार महाभारत के युद्ध में जब कर्ण को अर्जुन ने मृत्युशय्या पर लिटा दिया तो श्री कृष्ण जी ने अर्जुन को महात्मा का भेस धारण करके आने को कहा और वह दोनो महात्मा के भेस में कर्ण के समीप पहुंचे श्री कृष्ण



91 साल पहले आई देश की पहली AC कोच वाली ट्रेन कैसे रहती थी ठंडी ?

आज के दौर में तकनीक ने हर क्षेत्र में अपनी जगह बना ली है और ट्रेन तो बस सुपरफास्ट होती ही जा रही है। ट्रेन में सफर करना बहुत आसान हो जाता है और हमें एक रिजर्व सीट मिल जाती है जिसपर हम सोकर बैठकर अपनी उस जगह पर पहुंच जाते हैं जहां पर भी हम जाना चाहते हैं। AC कोच में बैठकर हम ठंडी हवा लेकर हम अपनी मनप



हॉकी का जादूगर राष्ट्रप्रेम से राष्ट्रीयखेल तक ! भारत रत्न एक विश्लेषण एक खोज ?

कोई विशिष्ट स्थान अथवा व्यक्ति से संबंध नहीं आप कई प्रकार की लाभान्वित व्यक्तित्व की श्रेणियों से इसे प्रायोजित कर सकते हैं,उदाहरण के लिए कोई राजनीतिक संगठन के श्रीमान जो हर आयोजन को निज-स्वार्थ प्रयोजन में परिवर्तित कर कुछ जड़शब्दों को चेतन भाव के अभाव में प्राकृतिक पुष्पांजलि अर्पित कर जनता समूह क



कर्ण

महान कर्णमहाभारत के युद्ध में अर्जुन और कर्ण के बीच घमासान युद्ध चल रहा था अर्जुन का तीर लगने पे कर्ण का रथ 25-30 हाथ पीछे खिसक जाता और कर्ण के तीर से अर्जुन का रथ मात्र सिर्फ 2-3 हाथ हि खिसकता।इससे अर्जुन को अपने बाहुबल पर अभिमान होने लगा और वह कहने लगा देखा प्रभु मेरे प्रहारो



तु भारत की शान है

तु भारत की शान है तु भारत की मान हैतु ही भारतवासी के लिए भगवान् हैहमारा भारतीय सेना महान है।जब जब देश मे खतरा मंडरायातु उठ खड़ा हुआ क्योंकि भारत मे बस एक तु ही महान है।बस एक तु ही भारत का जान है।तु भारत की शान है।जब जब कश्मीर पर कोई अत्याचार हुआतू उसका मुँह तोड़ जबाव दिया।इन्सान के रूप मे तु



भारत दुनिया का सर्वाधिक बेरोजगार वाला देश बन गया, अब और कितने अच्छे दिन आने हैं ?

भारत के सबसे लोकप्रिय पीएम नरेंद्र मोदी का नाम भारत का बच्चा-बच्चा जानता है। साल 2014 के बाद से उन्होंने इतने सारे हैरान करने वाले काम किये हैं जो अपने आप में मिसाल कायम करते हैं। नरेंद्र मोदी पिछले कुछ दिनों से धारा 370 हटाने के लिए चर्चा में बने हुए हैं और फिर 15 अगस्त के मौके पर उन्होंने जो संदेश



शादीशुदा महिलाओं को किसी से नहीं बांटनी चाहिए ये चीजें, वरना पति भी.....

शादी हर इंसान के जीवन में जरूरी होती है और इसे लोग इस वजह से करते हैं कि एक जीवनसाथी इंसान के जीवन में होना ही चाहिए। जिनके साथ वे सारे सुख-दुख बांटते हुए जीवन को अच्छे से गुजार सकते हैं। महिलाएं अपने पति को लेकर काफी एलर्ट रहती हैं, जैसे उनके खाने का समय, सोने का समय, उठने का समय, घर आने का समय या



जन्मदिन विशेष : इन बड़े कामों के जरिए राजीव गांधी ने बदली थी भारत की तस्वीर

आजादी के बाद भारत में कई प्रधानमंत्री बने लेकिन कुछ ऐसे थे जिन्होंने देश की तरक्की के लिए बहुत से अच्छे काम करवाए। उन्हीं में से एक थे राजीव गांधी, जो देश के 7वें और सबसे कम उम्र में बनने वाले पहले प्रधानमंत्री थे। राजीव गांधी का व्यक्तित्व बेहद शानदार रहे और वे आम जन



अक्सर अरेंज मैरिज पर होती हैं ये 8 मजेदार बातें, पढ़कर आपकी भी हंसी नहीं रुकेगी

भारत में सबसे ज्याद अरेंज मैरिजी होती है जिसमें लड़के और लड़की के लिए उनके माता-पिता या कोई दूर का रिश्तादार शादी करवाता है। अरेंज मैरिज बहुत से लड़के और लड़कियों को बोझ लगती है लेकिन माता-पिता की खुशी के लिए और समाज की निगाहों से बचने के लिए उन्हें करनी पड़ती है। इस



इंटरनेशनल क्रिकेट में 11 साल पूरे करने में विराट कोहली हुए इमोशनल, देखिए तस्वीरें

भारत में क्रिकेट को सबसे ज्यादा तवज्जो दिया जाता है। वैसे तो हॉकी यहां का अस्थायी नेशनल गेम है लेकिन क्रिकेट की दीवानगी हर किसी के सिर चढ़ कर बोलती है। भारतीय क्रिकेट में कपिल देव, सुनील गावस्कर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविण, विरेंद्र सहवाग, सचिन तेंदुलकर, युवराज सिंह, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली



अखंडभारत

अखंडभारत की परिकल्पना हिंदुत्ववादी संघठन हर वक्त करते है तो सबसे पहले यह जानना ज़रूरी है कि अखंडभारत क्या है? अखंडभारत से मतलब है पाकिस्तान और बंगला देश ? नहीं इनकी सोच इससे भी आगे जाती है. अफगानिस्तान, पाकिस्तान, भारत, नेपाल, तिब्बत,



सत्यनारायण की कथा तो होती है पर चापेकर बंधुओं को क्यों भूल गए ? हरि कुमार को भी याद रखिए स्कन्द पुराण का हिंदी अनुवाद !

आज अगर कोई कहे कि घर में पूजा है, तो ये माना जा सकता है कि “सत्यनारायण कथा” होने वाली है। ऐसा हमेशा से नहीं था। दो सौ साल पहले के दौर में घरों में होने वाली पूजा में सत्यनारायण कथा सुनाया जाना उतना आम नहीं था। हरि विनायक ने कभी 1890 के आस-पास स्कन्द पुराण में मौजूद इस संस्कृत कहानी का जिस रूप में अन



ट्रेन में गाने वाली गरीब मां से जो बेटी 10 सालों से नहीं मिली, पॉपुलर होते ही भागी चली आई!

आज के समय में सोशल मीडिया एक ऐसी ताकत है जहां हर कोई फेमस हो सकता है और आप किसी का भी पर्दाफाश कर सकते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ स्टेशन पर गाने वाली एक गरीब महिला के साथ जो पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इनकी आवाज लता मंगेशकर से मिलाकर बताई जा रही है और इनके गाने के एक नहीं ना जाने कित



आज़ादी से पहले वाले भारत की ये 15 तस्वीरें, आपको महसूस कराएंगी वो दौर

15 अगस्त यानी भारत के आजाद होने का दिन, जब पूरा देश एक हो जाता है। हर किसी की देशभक्ति दिखती है और हर कोई आजादी के जश्न में डूब जाता है। इस साल आजादी और रक्षाबंधन का जश्न देश एक साथ ही मना रहा है। रक्षाबंधन का त्यौहार देश के लिए अहम है और इसे हर धर्म के लोग मनाने लगे हैं क्योकि धर्म चाहे जो भी हो ले



पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस से सचिन तेंदुलकर का है गहरा नाता, इस तरह बताया वो हैं 'क्रिकेट के भगवान'

इस साल भारत अपनी आजादी के 73वें साल में कदम रखेगा और इसके साथ ही पूरे देश में लोगों ने 15 अगस्त की तैयारियां भी अपने स्कूल, दफ्तर और घरों में शुरु कर दी है। इस साल 15 अगस्त को ही रक्षा बंधन का पर्व पड़ने वाला है और ये वजह भी है जब पूरा देश इस दिन को धूमधाम से मनाने वाला है। हर कोई आजादी के जश्न में



आजादी की लड़ाई में इन महिलाओं ने दिया था सहयोग, इन स्वतंत्रता सेनानियों को देश का सलाम

15 अगस्त, 1947 को भारत आजाद हुआ था जो पिछले 200 सालों से ब्रिटिश रूल का गुलाम बना बैठा था। ये लड़ाई साल 1857 से शुरु हुई और साल दर साल क्रांतिकारी पैदा होते चले गए। एक के बाद लोगों ने देश के नाम खुद को शहीद कर दिया लेकिन फिर भी आजादी हाथ नहीं आई। समय के साथ कई क्रांति



अक्षय कुमार के बाद अब इस 'पैडगर्ल' उठाया पीरियड्स का मुद्दा, फैला रही हैं जागरुकता

भारत में बहुत सारी ऐसी चीजें होती हैं जिनके बारे में आमतौर पर लोग समाज में बात करना पसंद नहीं करते हैं। जिसमें सेक्स, माहवारी और भी कुछ बातें होती हैं लेकिन असल में हम सबको इन्ही सबके बारे में बात करनी चाहिए, अगर इसमें कोई परेशानी है तो, खुलकर अपने दोस्तों ,पार्टनर और डॉक्टर्स से बात करें। इनमें सबस



15 August: भारत के अलावा ये 4 देश भी मनाते हैं आजादी का जश्न

आजादी कौन नहीं चाहता....एक पक्षी भी पिंजड़े में फड़फड़ाता है क्योंकि उसे आजादी चाहिए होती है। जब बकरे को काटने के लिए ले जाते हैं तब भी आजादी की चाहत लिए बकरा चिल्लाता रहता है क्योंकि हम सभी जानते हैं कि आजादी है तो जीवन है वरना इंसान घुटने लगता है। मगर आज से करीब 73 साल पहले भारत देश गुलाम था अंग्र



जहाँ हुए बलिदान मुखर्जी वो कश्मीर हमारा है...

जहाँ हुए बलिदान मुखर्जी वो कश्मीर हमारा है. श्यामा प्रसाद मुखर्जी, जनसंघ के संस्थापक, हिन्दू महासभा के के अध्यक्ष , कलकत्ता यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर, मुस्लिमलीग की सरकार में मंत्री, नेहरू सरकार में मंत्री.



" खुदीराम बोस - 18 वर्ष ८ महिने 8 दिन और फ़ासी " क्या देश भूल गया इस वलिदान को ?

वह केवल 18 वर्ष का था, जब उसे 1908 में बिहार के मुजफ्फरपुर में एक हमले और तीन अंग्रेजों की हत्या के लिए मौत की सजा सुनाई गई थी। एक सदी बीत चुकी है, फिर भी खुदीराम बोस का नाम परछाइयों में है।भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के सबसे युवा क्रांत



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x