बिहार के इस रिक्शा चालक को पांच बार खत लिख चुके हैं पीएम मोदी, जानिए क्या है वजह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी एक ऐसी छवि बनाई है जिसका देश में ही नहीं विदेशों में भी हर कोई दीवाना है। हर आम व्यक्ति की ये ख्वाहिश बन गए है कि उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलना है, हर कोई चाहता है कि उसकी मुलाकात पीएम मोदी से हो जाए और यही वजह है कि पीएम मोदी जहां जाते हैं, वहां भीड़ उमड़



महात्मा गांधी को मारने वाले शख्स की अस्थिया आज तक नहीं हुई विर्सजित

हिंदू धर्म में किसी की मौत के बाद उसका अंतिम संस्कार किया जाता है, शव को मुखाग्नि दी जाती है औऱ फिर उसकी अस्थियों को गंगा जी में प्रवाहित किया जाता हैं। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से मृतक की आत्मा को शांति मिलती है और मोक्ष की प्राप्ति होती है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताएंगे जिनक



सुमन पवन बोदानी बनी पाकिस्तान की पहली हिन्दू महिला जज, रचा इतिहास

पाकिस्तान में लड़कियों के लिए कई कड़े नियम होते हैं। वहां रहने वाले लोगों को इन नियमों को मानना भी होता है, लेकिन कहते हैं ना कि जहां चाह वहां राह। एक ऐसा ही वाक्या पाकिस्तान में घटा है जिसके चलते वहां पर पहली बार कोई हिंदू महिला जज बनी हैं। बता दें सुमन पवन बोदानी नाम की ये महिला पहली महिला सिविल ज



आज भी सड़कों पर भीख मांगता है सुभाष चंद्र बोस के साथ देश की आजादी के लिए लड़ना वाला ये सिपाही

आज हम आज़ादी का मजा लेते हुए अपने घरों में बड़े-बड़े मुद्दों को बड़ी आसानी से बहस में उड़ा देते है, लेकिन कभी सोचा है कि जिन्होंने अपनी जान की परवाह ना करते हुए देश को आज़ाद कराया, उनमें से जो जिंदा हैं, वो किस हाल में हैं ?ये हैं झाँसी के रहने वाले श्रीपत जी, 93 साल से भी ज्यादा की उम्र पार कर चुके श्रीप



यूपी के इस गांव में मां- बाप अपने बच्चों को डॉक्टर -इंजीनियर नहीं बल्कि भिखारी बनाना चाहते हैं

हर माँ-बाप अपने बच्चों के लिए कोई न कोई सपना ज़रूर देखते हैं कोई चाहता हैं उनका बच्चा डॉक्टर बने तो किसी का ख्वाब होता है कि उनका बच्चा इंजीनियर बने लेकिन आपको ये बात सुनकर थोड़ी हैरानी होगी कि उत्तर प्रदेश के मैनपुरी ज़िले में नगला दरबारी नाम का एक गांव है, जहां माता-पिता बच्चों को इंजीनियर या डॉक्टर



Basic Shiksha News: भारत में साक्षरता दर का पूर्ण विवरण

साक्षरता और शिक्षा को सामान्यतः सामाजिक विकास के संकेतकों के तौर पर देखा जाता है। साक्षरता का विस्तार औद्योगिकीकरण, शहरीकरण, बेहतर संचार, वाणिज्य विस्तार और आधुनिकीकरण के साथ भी सम्बद्ध किया जाता है। संशोधित साक्षरता स्तर जागरूकता और सामाजिक कौशल बढ़ाने तथा आर्थिक दशा सुधारने में सहायक होता है। साक्



हमारा गणतंत्र :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

!! भगवत्कृपा हि केवलम् !! *आज भारत अपना गणतंत्र दिवस मना रहा है | आज के ही दिन आजाद भारत में भारत के विद्वानों द्वारा निर्मित संविधान धरातल पर आया | भारत गुलामी की जंजीरों में जकड़ा हुआ था तब भारत के वीर सपूतों ने अपनी जान की बाजी लगाकर अपने प्राण निछावर करके देश को आजादी दिलाई | गणतंत्र का अर्



हमारा गणतंत्र :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

!! भगवत्कृपा हि केवलम् !! *आज भारत अपना गणतंत्र दिवस मना रहा है | आज के ही दिन आजाद भारत में भारत के विद्वानों द्वारा निर्मित संविधान धरातल पर आया | भारत गुलामी की जंजीरों में जकड़ा हुआ था तब भारत के वीर सपूतों ने अपनी जान की बाजी लगाकर अपने प्राण निछावर करके देश को आजादी दिलाई | गणतंत्र का अर्



गणतंत्र दिवस :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

!! भगवत्कृपा हि केवलम् !! *हमारे देश में समय समय पर जहाँ धार्मिक पर्व / त्यौहार मनाये जाते हैं वहीं राष्ट्रीय पर्व मनाने की परम्परा भी रही है | राष्ट्रीय पर्व हमारे स्वाभिमान का प्रतीक हैं | सैकड़ों वर्षों की गुलामी के बाद अनगिनत बलिदान देकर हमने आजादी प्राप्त की | हमें आजादी तो मिली परंतु हमार



बिहार में जन्मीं देश की ये बेटी बनीं अमेरिकी सीनेटर, कहा- मुझे अपने देश पर गर्व है

दुनियाभर में भारतीय प्रतिभा अपना लोहा मनवा रही है। बड़ी कंपनियों के महत्वपूर्ण पदों से लेकर कई देशों की सरकारों में भी यहां के लोग शामिल हैं। ज़ाहिर है किसी और देश में जाकर चुनौतियों का सामना करते हुए ख़ास मुकाम बनाना बेहद कठिन होता है। खासकर बात जब महिलाओं की हो तो उनके लिए रास्ते और भी मुश्किल भरे हो



संसद का तिहाई हिस्सा रहा दागी नेताओं के हवाले, आंकड़ा 34% के पार

हर 5 साल बाद भारत में एक चुनावी लहर आती है, जैसे ही लोकसभा चुनावों का बिगुल बजता है।चारों ओर बस चुनावी माहौल गरमाया हुआ होता है। चुनाव आते ही सभी नेता अपने-अपने पार्टियों के साथ जनता के पास पहुंच जाते हैं



मैं

इंसानियत की बस्ती जल रही थी, चारों तरफ आग लगी थी... जहा तक नजर जाती थी, सिर्फ खून में सनी लाशें दिख रही थी, लोग जो जिंदा थे वो खौफ मै यहा से वहां भाग रहे थे, काले रास्तों पर खून की धारे बह रही थी, हर तरफ आग से उठता धुंआ.. चारों और शोर, बच्चे, बूढ़े, औरत... किसी मै फर्क नही किया जा रहा, सबको काट रहे ह



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद अब आयुष्मान भारत योजना के फैंन हुए बिल गेट्स, ट्वीट कर कही ये बात

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब से सत्ता संभाली है तभी से उन्होंने देश को कई सारी योजनाओं से लाभांवित किया है। देश की महिलाओं से लेकर बेटियों तक सभी उनकी किसी ना किसी योजना से लाभांवित हुए हैं और इसके लिए लोगों का प्यार भी उनको भरपूर मिला है। लेकिन हाल ही में उनकी एक योजना की तारीफ दिग्गज टेक



जानिए कैसा है मुम्बई के सुप्रसिद्ध और सबसे लोकप्रिय "सिद्धिविनायक मंदिर" का वास्तु शिल्प पर सौन्दर्य !!!!!!!!

प्रिय मित्रों/पाठकों, विघ्नविनाशक सिद्घिविनायक भगवान गणेश जी का सबसे लोकप्रिय रूप है। गणेश जी जिन प्रतिमाओं की सूड़ दाईं तरह मुड़ी होती है, वे सिद्घपीठ से जुड़ी होती हैं और उनके मंदिर सिद्घिविनायक मंदिर कहलाते हैं। कहते हैं कि सिद्धि विनायक की महिमा अपरंपार है, वे भक



गोपाल खंडेलवाल : वो चल नहीं सकता लेकिन वो देश चला रहा है…

एक शख्स जो खुद दो कदम नहीं चल सकता है लेकिन जिसने देश को हज़ारों कदम आगे बढ़ा दिया है। अपनी शारीरिक विकलांगता से हज़ारों लोगों की मानसिक विकलांगता को कुचलता ये शख्स आज उन लोगों के लिए मिसाल पेश कर रहा है जिन्होनें ज़िंदगी के आगे घुटने टेक दिए हैं ... आइए सुनते हैं उसकी कहानी उसकी ज़ुबानी…मेरा नाम गो



"देशज गीत" सजरिया से रूठ पिया दूर काहें गइल नजरिया के नूर सैंया दूर काहें कइल

"देशज गीत" सजरिया से रूठ पिया दूर काहें गइलनजरिया के नूर सैंया दूर काहें कइलरचिको न सोचल झुराइ जाइ लौकीकोहड़ा करैला घघाइल छान चौकीबखरिया के हूर राजा दूर काहें गइल..... सजरिया से रूठ पिया दूर काहें गइलकहतानि आजा बिहान होइ कइसेझाँके ला देवरा निदान होइ कइसेनगरिया के झूठ सैंया फूर काहें कइल..... सजरिया स



सफर

आज मन की हलचलों ने कदमों को चलने न दिया।बहुत सोचा जाऊं या ना जाऊ । घर दूर, अपने आंखों से दूर, मौसम भी मगरूर ठंडी का है।सफर सहर में है। शाम की बातों ने मन को बोझिल कर दिया था।सब हलचलों और बोझिल शाम को समेट अपनी चारपाई पर तकिए के नीचे दबा लिया था। ठंडी की सिहरन



2019 लोकसभा चुनावी ऐलान से पहले ही मोदी ने फूंका चुनावी बिगुल, विपक्ष अभी भी नींदों में

2019 लोकसभा चुनावों को लेकर सारी पार्टियां अपने जीत की जद्दोज़हद में लग गए हैं। इस बार पूरा विपक्ष एक होता दिख रहा है वहीं मोदी सरकार की मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं। लेकिन एक कहावत है कि जंगल में एक ही शेर होता है और भाजपा इस वाक्य को सही साबित करने में लगी हुई है। इसी के चलते अभी बाकि पार्टियां



कांग्रेस के खोखले वादों की वजह से कश्मीर ही नहीं देश को चुकानी पड़ी भारी कीमत- अरुण जेटली

राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच जमकर बहस हुई। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने भाजपा के साढ़े चार साल के शासन के दौरान राज्य में हिंसा की घटनाएं बढ़ने का आरोप लगाया तो वहीं बीजेपी की ओर से अरुण जेटली ने कांग्रेस पर पलटवार किया। आजाद ने जम्मू कश्मीर विधानसभा भंग करने समेत



राफेल डील घोटाले पर हमेशा बोलने वाले राहुल गाँधी की हो गई बोलती बंद,जानिए ऐसा क्या हुआ आज संसद में

राफेल डील मामले पर लोकसभा में हुई चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कई सवाल खड़े किए और आरोप लगया कि इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झूठ बोला है। राहुल के सवालों को जवाब देने के लिए सत्ता पक्ष से वित्त मंत्री अरुण जेटली खड़े हुए और उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x