यालाच देशप्रेम म्हणतात का?

आज अभिव्यक्ती स्वातंत्र्याच्या नावावर धर्मनिरपेक्ष देशात आपण स्वतःची दयनीय अवस्था करून घेत आहोत व देशाचीही. उच्चशिक्षित तथाकथित भारतीय तरुण( तथाकथित यासाठी म्हणत आहे की त्याच्या कृतीतून विचारातून राष्ट्रभक्ती मुळीच दिसत नाही)कदाचित प्रसिद्धीसाठी काहीही विचार न करता सोशल मीडियावर ट्विट करतो. आपले मत



संदेसे आते हैं हमें तड़पाते हैं

संदेसे आते हैं हमें तड़पाते हैं Ke Ghar Kab Aaoge - Sandese Aate Hain LyricsSndese ate hain hamen tadpaate hainJo chitthhi ati hai wo puchhe jaati haiKe ghar kab aoge likho kab aogeKe tum bin ye ghar suna suna haiKisi dilawaali ne, kisi matawaali neHamen khat likha ha



सृजन.....!

सृजन.....! ज़िंदगी है ,बनती- बिगड़ती हसरतें , जो पूरी न होने पर भी नए सृजन की ओर इशारा करती हैं। सुबह की ओस की वे बूँदें , जो चंचलता से पत्तों पर थिरकती मिट्टी में समां जाती हैं , तो कहीं सूखे पत्तों- सी चरमराती ज़िंदगी, नया बीज पाकर फ़िर सेखिलखिलाती है। बचपन के किस्से ,कहानियों से निकल ,ज़िंदगी जैसे



अभिव्यक्ति की आजादी का अर्थ ये तो नहीं......

<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:SaveIfXMLInvalid>false</w:SaveIfXMLInvalid> <w:IgnoreMixedContent>false</w:IgnoreMixedC



काली बिल्ली रास्ता काट गयी ( सच्ची लघू कहानी)

काली बिल्ली रास्ता काट गई, (सच्ची लघु कथा)डॉ शोभा भारद्वाजमेरे डाक्टर पति भारत सरकार की तरफ से ईरान भेजे गये थे अत: हम बर्षो परिवार सहित ईरान के खुर्दिस्तान प्रांत में रहे थे उन दिनों ईरान एवं ईराक में युद्ध चल रहा था हम इराक ईरान की सीमा से अधिक दूर नहीं रहते थे लेकिन युद्ध असर यहाँ कम था बमवर्षक व



EK AWAJ (एक आवाज) | The voice of all rape victims

एक आवाजवो जान सी अनजान,वो रोती रही आज,वो मांगे कई माफ़ी,वो लड़ती रही आज,हर इक साँस,कस्ती हुयी,आँखे बंद,ढलती हुयी,पर न ख़तम हुयी आस,वो न शांत,हर इक जान की आवाज,वो भी कह रही आज,



सुलगता भारत :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

*परमात्मा ने सुंदर सृष्टि की रचना की तो मनुष्य ने इसे संवारने का कार्य किया | सृजन एवं विनाश मनुष्य के ही हाथों में है | हमारे पूर्वजों ने इस धरती को स्वर्ग बनाने के लिए अनेकों उपक्रम किए और हमको एक सुंदर वातावरण तैयार करके सुखद जीवन जीने की कला सिखाई थी | मनुष्य ने अपने बुद्धि विवेक से मानव जीवन मे



देश भक्ति गीत नीतेश शाक्य अजनबी

एमां मेरी यादों को, दिल में बसा लेना| अब जाता है लड़ने को, ये देश भक्त दीवाना| विजयपाकर के ही आए, बस इतनी दुआ देना| ऐ मां मेरी यादों को दिल में बसा लेना|<!--[if !supportLineBreakNewLine]--><!--[endif]-->हैदिल में मां मेरे, सरहद के बसे छाले| ये जख



लघुकथा ............वीरानगी

लघुकथावीरानगी " तो फिर तूने उनका पीछा किया ! "" हां किया , मेरे पास और कोई चारा नहीं है ।"" कितनी दूर तक गयी ? "" जब तक कि वे मुझसे औझल नहीं हो गये ।"" अगर उन्हें पता लग गया तो ?"" तो क्या ? मैं उन्हें एसा सबक सिखाऊँगी कि सारी ऊमर याद रखेंगें " वो बहुत आवेश में थी । " तुझे पूरा यकीन है कि वे किसी अ



26/11 आतंकी हमलाः जब दहल उठा था आर्थिक राजधानी मुंबई, जानिये इससे जुडी ख़ास बातें

26 नवम्बर 2008 को मुंबई में हुई आतंकी हमले(attack for 26 11) के 11 साल पूरे हो गए. इस बड़े आतंकी हमले(26/11 attack on mumbai) में पकिस्त्तान से आये आतंकवादियों ने 160 से ज्यादा बेक़सूर लोगों को मौत के घाट उतार दिया, जबकि लगभग 300 लोग घायल हुए



प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना : PM Kisan Samman Nidhi Yojna

प्रिय पाठक, यह पोस्ट प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ( pm kisan samman nidhi yojna ) से सम्बन्धित है. इस पोस्ट में हम इस योजना से सम्बन्धित सारी जानकारी आपसे साझा करेंगे जैसे कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना क्या है? योजना ( pm kisan yojana ) का लाभ उठाने के ल



नमन न्यायपालिका

नमन न्यायपालिका के -सम्पूर्ण अधिकार की शक्ति को,न्याय मिला , भले देर हुई , वन्दन इस द्वार शक्ति को !समय बढ़ गया आगे,लिख सौहार्द की नई परिभाषा; प्यार जीता नफरत हारी , बो हर दिल में नयी आशा ;हर कोई अपलक देख रहा -इस प्यार की शक्ति को !समभाव भरी ये पुण्यधरा .गीता भी



कौन थी वो लड़की जो गांधी जी की मौत के समय उनके साथ थी?

भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने देश की आजादी में जो योगदान दिया है उसे देश कभी भूल नहीं सकता है। हमेशा देश के बारे में सोचने के बाद भी उन्हें एक ऐसी मौत मिली थी जो शायद हम कभी दुश्मनों की भी नहीं चाहेंगे। देश में आज कुछ लोग गांधी जी के आदर्शों को गलत बताते हैं तो कोई उनके बहुत बड़े समर्थक हैं।



करवा चौथ के पावन पर्व की शुभकामनाएं

🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷 *जय श्रीमन्नारायण*🌹 *श्री राधे कृपा हि सर्वस्वम* 🌷 🌛🌛🌛🌛🌛🌛🌛🌛 *आद्या शक्ति पराम्बा माँ भगवती की अंशस्वरूपा मातृ शक्तियों को करवा चौथ व्रत की हार्दिक शुभकामनाएँ*🌳☘🦜🌳🌲☘🏵💐 सभी मात्र शक्तियों को आज पावन करवा चौथ व्रत की हार्दिक शुभकामनाओं सहित मंगल कामना हम



इस वजह से मच्छरदानी में जा रही बिहार की राजधानी, अब विधायक जी भी....

सितंबर के महीने में बिहार की राजधानी बारिश के कारण सराबोर हो गई थी, इसके बारे में तो हर किसी को पता ही होगा। बारिश आई और गई लेकिन इसके बाद बिहार की राजधानी पटना में इतनी परेशानियां लोगों को हुई इसके लिए आप पटना के किसी स्थानीय आदमी से ही बात कर सकते हैं। फिलहाल हम आपको बताते हैं कि पटना में इस बाढ़



किशोर अलंकरण प्रियदर्शन को ....

https://duniaabhiabhi.com/kishorekumar-award-to-film-director-priyadarshan/



ये 10 तस्वीरें गवाह हैं कि इतिहास में महिलाएं कितनी थी स्वतंत्र

आज के समय में महिलाओं की दशा काफी चिंताजनक है, क्योंकि जितना खुलापन आज के दौर में महिलाओं में देखने को मिल रहा है उतनी ही वारदातें उनमें हो रही हैं। सबसे ज्यादा पर्दा मुस्लिम धर्म में होता है और ये बहुत पुरानी प्रथा है जो आज तक चल रही है। मगर विदेशी लड़कियों में खुलापन आज से नहीं बल्कि उस समय से है



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x