Navratri 2019- दुर्गा सप्तशती पाठ करते समय रखें ये सावधानियां, नहीं तो होगा अनर्थ

आज नवरात्री का दूसरा दिन है। आज आपको माँ दुर्गा की उपासना के बारे में बतायेगे. नवरात्रि के दौरान बहुत से लोग दुर्गा सप्तशती का पाठ करते है लेकिन ये नहीं जानते है की अगर सही तरीके से नहीं किया जाये तो माँ क्रोधित हो जाती है। दुर्गा सप्तशती में १३ अध्याय है जिसमे माँ दुर्गा



क्या आप अपनी लाइफ से बोर हो गए हो , या परेशानी में हो ?

आजकल दौड़ भाग वाली जिंदगी में सभी लोग परेशान रहते है . किसी न किसी परेशानी से ग्रषित होते है. किसी को नौकरी नहीं मिल रही है , कोई अपने करियर को लेकर परेशान है , कोई पैसो की कमी से परेशान है , तो किसी को शरीर में होने वाली बीमारियों से परेशान है , अब आपको परेशान होने की जरुरत नहीं है आपको बस अपनी प



भारत में एक ऐसा भी मंदिर है जहां गजमुख नहीं इंसान रूप में विराज है भगवान गणेश

भारत का एकमात्र मंदिर जहां गजमुख की नहीं इंसान रूप की होती है पूजादेश में गणेश चतुर्थी बड़े धूम धाम से मनाते है. गणेश चतुर्थी का पर्व पुरे देश में मनाया जाता है यह पर्व १० दिन बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है. आपने हमेशा गणेश जी को गजराज मुख



त्यौहार के नाम पर मुस्लिम मासूम बच्चों पर क्यों चलाई जाती है तलवार?

दुनिया में बहुत सी ऐसी चीजें होती हैं जो हर किसी के लिए समझना मुश्किल होता है। हर धर्म की अपनी बातें और कहानियां हैं फिर वो हिंदू हो, मुस्लिम हों या फिर कोई भी लेकिन धर्म को लेकर उनकी कहानियां अलग-अलग हैं। इसी तरह इस्लाम धर्म के शिया लोगों द्वारा मनाया जाने वाला खास पर्व मुहर्रम क्या सच में कोई पर्



क्या पंचकों में अस्थि संचयन हो सकती है ???

अंत‌िम संस्कार का शास्‍त्रों में बहुत वर्णन द‌िया गया है क्योंक‌ि इसी से व्यक्त‌ि को परलोक में उत्तम स्थान और अगले जन्म में उत्तम कुल पर‌िवार में जन्म और सुख प्राप्त होता है। गरुड़ पुराण में बताया गया है क‌ि ज‌िस व्यक्त‌ि का अंत‌िम संस्कार नहीं होता है उनकी आत्मा मृत्‍यु के बाद प्रेत बनकर भटकती है औ



पितृ पक्ष में पूर्वज क्यों आते हैं धरती पर? जानिए इसके बारे में 15 अहम जानकारियां

13 सितंबर से पूरा देश पितृपक्ष मना रहा है और ये पूरे 15 दिनों तक चलेगा इसमें जो हमारे घर के पितर लोग मर जाते हैं तो उनके श्राद्ध का काम चलता है। इस दौरान लोग ब्राह्मण को भोजन कराकर दक्षणा देते हैं और उनसे आशीर्वाद लेते हैं कि उनके पितर लोग जहां भी हैं चैन और खुशी के साथ रहें। शास्त्रों के अनुसार पि



विशेष -- श्राद्ध पक्ष 2019 पर---

ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री जी ने बताया की शतभिषा नक्षत्र में शुरू हो रहे पितृ आराधना के पर्व में श्राद्ध करने से सौ प्रकार के तापों से मुक्ति मिलेगी।इस वर्ष भाद्रपद माह की पूर्णिमा पर 13 सितंबर 2019 ( शुक्रवार) को शततारका (शतभिषा) नक्षत्र,धृति योग,वणिज करण एवं कुंभ राशि के चंद्रमा की साक्



घर को स्वर्ग बना देती हैं इन 4 राशि की महिलाएं, कहीं आप भी तो नहीं है इसमें शामिल?

अक्सर आपने लोगों को यह कहते हुए ज़रूर सुना होगी कि ‘किसी भी आदमी की सफलता के पीछे एक औरत का हाथ होता हैं।’ जी हां, यह काफी हद तक सही भी है। महिलाएं घर परिवार का इस तरह से ध्यान रखती हैं कि पुरूष वर्ग को बच्चों और परिवार की टेंशन ही नहीं रहती हैं और वे अपने करियर पर ध्यान



राखी सावंत ने पहली बार कोई अच्छी खबर दी है

राखी सावंत. अपने बयानों के कारण हमेशा चर्चा में बनी रहती हैं. एक बार फिर उन्होंने कुछ इसी तरह का बयान दिया है. राखी अब हमेशा के लिए यूके जा रही हैं. अपने पति के पास. बाकायदा इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर कर उन्होंने ये बात बताई है. जाते-जाते अ



धर्म मंथन

हिन्दुस्तान ही दुनियां का एकमात्र देश है जहाँ हज़ारों सालो से देवी देवता रात में ख्वाबों में आते है और अपना मंदिर बनाने का आदेश दे देते है, सुबह उठाकर राजा, रानी या कोई साहूकारा जिन्हे देवी या देवता ने चुना होता है, अपने लोगो को आदेश दे देता है और एक



गणेश चतुर्थी विशेष: इन 15 बातों को जानते हैं तभी मनाइए गणपति बप्पा का ये पर्व

2 सिंतबर से देश में गणेश चतुर्थी का पर्व आ रहा है और इस दिन सभी गणेश जी की प्रतिमा स्थापित करते हुए उनकी पूजा करते हैं। ये प्रतिमा लोग अपने गली, मोहल्ले या घर में रखते हैं और 3 दिन, 5 दिन या फिर पूरे 10 दिनों तक इनकी पूजा करने के बाद गंगाजी में प्रवाहित करा दिया जाता है। गणपति बप्पा मोरिया के जयकार



जानिए इस वर्ष 2019 में कब करें "हरतालिका तीज व्रत" और क्यो ??

हरतालिका तीज व्रत 2 सितंबर 2019 को ही मनाया जाना शास्त्र सम्मत क्यों होगा??विद्वतजन कृपया ध्यान देंसम्पूर्ण भारतवर्ष में "हरतालिका तीज" सुहागिन महिलाओं द्वारा किए जाने वाले प्रमुख व्रतों में से एक है। यह व्रत पति की लंबी उम्र और मंगल कामना के लिए रखा जाता है। इस दौरान महिलाएं निर्जला व्रत रखकर माता



उपासना एवं साधना :---- आचार्य अर्जुन तिवारी

*सनातन धर्म में उपासना एवं साधना का विशेष महत्व है | जिस प्रकार यात्रा दो पैरों के सहारे करनी पड़ती है और गाड़ी दो पहियों के आधार पर लुढ़कती है उसी प्रकार आत्मिक प्रगति के लक्ष्य तक पहुंचने के लिए उपासना एवं साधना नामक दोनों पैरों के सहारे ही चलना पड़ता है | जिस प्रकार एक किसान अपने खेत में बीज बोन



जन्माष्टमी पूजा: श्रीकृष्ण को प्रिय हैं ये 8 चीजें, इन्हें पूजा में अवश्य करे शामिल

जन्माष्टमी के पावन अवसर पर हर कोई भगवान कृष्ण को मानाने में लग जाता हैं. इस बार देश के अलग अलग हिस्सों में 23 और 24 अगस्त को जन्माष्टमी मनाई जा रही है. इस त्यौहार पर श्रीकृष्ण की पूजा और श्रृंगार का बड़ा ही महत्त्व माना जाता हैं. इसके बिना कृष्णजी की पूजा अधूरी होती हैं. ऐ



सत्यनारायण की कथा तो होती है पर चापेकर बंधुओं को क्यों भूल गए ? हरि कुमार को भी याद रखिए स्कन्द पुराण का हिंदी अनुवाद !

आज अगर कोई कहे कि घर में पूजा है, तो ये माना जा सकता है कि “सत्यनारायण कथा” होने वाली है। ऐसा हमेशा से नहीं था। दो सौ साल पहले के दौर में घरों में होने वाली पूजा में सत्यनारायण कथा सुनाया जाना उतना आम नहीं था। हरि विनायक ने कभी 1890 के आस-पास स्कन्द पुराण में मौजूद इस संस्कृत कहानी का जिस रूप में अन



शनिदेव के प्रकोप से बचना है तो हर शनिवार करें इस विधि के साथ पूजा

हिंदू धर्म में पूजा पाठ का अलग ही स्थान होता है और हर देवता का अलग ही महत्व होता है। यहां सोमवार का दिन शंकर जी, मंगलवार का दिन बजरंगबली, बुधवार का दिन गणेश जी, गुरुवार का दिन विष्णु जी, शुक्रवार का दिन वैभव लक्ष्मी, शनिवार का दिन शनिदेव और रविवार का दिन सूर्यदेव को समर्पित होता है। भक्त के जीवन में



नेत्रहीन पिता ने की आत्महत्या -सरकार का धार्मिक मुखौटा !

राजस्थान के हरीश जाटव मॉब लिचिंग मामले में हरीश के पिता रत्तीराम जाटव ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली है. परिजनों का आरोप है कि मामले में न्याय नहीं मिलने के कारण रत्तीराम जाटव ने ये कदम उठाया. दरअसल राजस्थान के अलवर के भिवाड़ी के झिवाना गांव निवासी हरीश जाटव की मॉब लीचिंग में मौत हो गई थी. घटना 17 जुला



भगवान कृष्ण का ऐसा पत्थर जिसे 7 हाथी मिलकर भी नहीं हिला सके आज भी इस स्थान पर है मौजूद

hindiwebhindiwebपृथ्वी पर तमाम ऐसे आश्चर्य मौजूद है ठीक ऐसा ही एक आश्चर्य कृष्णा की बटर बाल नाम की एक चट्टान भी है | यह पत्थर चेन्नई के महाबलीपुरम में स्थित है | यह विशालकाय चट्टान 45 डिग्री कोण पर बड़ी मजबूती से टिकी हुई है | हैरानी की बात यह है कि ढलान पर होने के बाद यह



आतंकियों के सर्वनाश के लिए अद्भुत अवतार में प्रकट हो रहे हैं बाबा बर्फानी !

सावन के महीने में अगर बाबा अमरनाथ बर्फानी के दर्शन हो जाए तो शिव भक्तों को मानो सबकुछ मिल जाए। मगर भक्त और भगवान के बीच कुछ राक्षसों यानी आतंकियों का साया है जिसके डर से लोग वहां जाने से डरते हैं। बाबा अमरनाथ के दर्शन से बहुत कुछ सिद्ध



आरती के दौरान स्वतः ही बदल गए माता रानी के चेहरे के हाव-भाव, देखे अद्भुत Video...

भारत देश में आपको जितने मंदिर देखने को मिलेंगे उतने शायद ही किसी दूसरी जगह होंगे. यहाँ भगवान को लेकर लोगो की आस्था काफी बड़ी हैं. दिलचस्प बात ये हैं कि जितने भी मंदिर बने हैं उन सभी की अपनी एक खासियत होती हैं. उनके पीछे कोई ना कोई चमत्कार या कहानी होती हैं. समय के साथ साथ



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x