तुलना खुद से ही।

कोई भी व्यक्तिप्रतिभावान हो सकता है चाहे वो किसी भी परिवेश या समाज से संबंध रखता हो। ये बातअलग है कि कहीं कहीं लोग अपने जान- पहचान वालों को ही मौका देना पसंद करते हैलेकिन इसका अर्थ ये नहीं कि आपको दूसरे इंसान को अपने से कमतर आंकने का अधिकार मिलगया है। कुछ इंसानों की बहुत बुरी आदत होती है कि वो हमेशा



पीपल्स पार्टी आफ इंडिया डेमोक्रेटिक द्वारा,आज की गांव की चौपाल जिला प्रयागराज की बारा विधानसभा क्षेत्र के कौंधियारा ब्लॉक की पिपरहट्टा गांव में संपन्न

अब तक हिंदी न्यूज़ /प्रयागराज पीपल्स पार्टी आफ इंडिया डेमोक्रेटिक द्वारा,आज की गांव की चौपाल जिला प्रयागराज की बारा विधानसभा क्षेत्र के कौंधियारा ब्लॉक की पिपरहट्टा गांव में संपन्न हुई।गांव में मजदूरों की समस्या पर विचार रखते हुए "पीपल्स पार्टी आफ इंडिया डेमोक्रेटिक"! के प्रदेश अध्यक्ष माननीय आर के व



वृक्ष हमारे जीवन के आधार --आशीष सिंह पटेल (भारतीय जनता पार्टी मंडल महामंत्री)

अब तक हिंदी न्यूज़/प्रयागराज/मेजावृक्ष हमारे जीवन के आधार --आशीष सिंह पटेल (भारतीय जनता पार्टी मंडल महामंत्री) देश मे चल रहे वन महोत्सव सप्ताह में वृक्ष रोपण अभियान को मुहिम का रूप दिया गया है प्रति संरक्षण और पर्यावरण संतुलन के लिए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की साझा अपील का जादुई असर निजी संस्थानों



HindiBlogging - हिंदी में वर्डप्रेस ब्लॉग्गिंग के लिए अग्रिम मार्गदर्शक

HindiBlogging - हिंदी में वर्डप्रेस ब्लॉग्गिंग के लिए अग्रिम मार्गदर्शकHindiBlogging का हेतु, ब्लॉगिंग के लिए लोगों को प्रेरित करने, सीखने और कार्यरत होने के लिए प्रोत्साहित करना हे, चाहे वे पैसे या रुचि के लिए ब्लॉगिंग करते हों। यह वेबसाइट उन लोगों के लिए बनाई गई है जो ब्लॉगर हैं, जो वेबसाइट बनाना



ए. एस ऑप्टिकल सेंटर रामनगर में नि:शुक्ल नेत्र जांच शिविर

अब तक हिंदी न्यूज़ /रामनगर /मेजा/प्रयागराज ए. एस. ऑप्टिकल सेंटर रामनगर में नि:शुक्ल नेत्र जांच शिविर अब ग्रामीण अंचल में भी होगा लोग का बेहरत इलाज । ए .एस के संचालक asfaq ali ने बताया ।रामनगर बड़ौदा बैंक के सामने प्रयागराज ।



*माण्डा पॉवर हाउस की विजली व्यवस्था पर ग्रामीणों में आक्रोश

अब तक हिंदी न्यूज़ /मांडा /प्रयागराज माण्डा पॉवर हाउस की विजली व्यवस्था पर ग्रामीणों में आक्रोश* जहाँ एक तरफ़ योगी सरकार जनता को सुविधाएं देने को अग्रसर रहता है। तो वही दूसरी तरफ विजली विभाग द्वारा पूरे माण्डा में जमकर लापरवाही की जा रहा हैं । उक्त बातें भाजपा नेता नीरज द्विवेदी ने कहा। वही ग्रामीण



कार्यकर्ताओ से हुए रूबरू -डॉ मान सिंह यादव

अब तक हिंदी न्यूज़ /मेजा / सिरसा/प्रयागराज कल दिनांक 2 जुलाई को मेजा विधानसभा के ग्राम सभा के पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं तथा सम्मानित लोगो की एक छोटी बैठक सिरसा में विधानसभा अध्यक्ष पप्पू यादव के नेतृत्व में बुलाई गई थी जिसकी अध्यक्षता पूर्व विधानसभा अध्यक्ष पंचू राम निषाद जी ने की इस बैठक में



कानपुर में शहीद हुए पुलिस जवानो के आत्मा की शांति के लिए मेजा पुलिस ने दो मिनट का मौन

कानपुर में शहीद हुए पुलिस जवानो के आत्मा की शांति के लिए मेजा पुलिस ने दो मिनट का मौन परेड किया।



पीपल्स पार्टी आफ इंडिया डेमोक्रेटिक द्वारा "गांव की चौपाल -प्रदेशअध्यक्ष आर के विद्यार्थी

अबतक हिंदी न्यूज़ /प्रयागराज पीपल्स पार्टी आफ इंडिया डेमोक्रेटिक द्वारा "गांव की चौपाल में गांव की समस्या और उनका समाधान" कार्यक्रम को हनुमानगंज इलाहाबाद में शुभारंभ करते हुए उत्तर प्रदेश पीपीआईडी के प्रदेशअध्यक्ष आर के विद्यार्थी तथा राज्य कार्यकारिणी की सम्मानित पदाधिकारियों एग्जीक्यूटिव मेंबर्स।



दो सांपों की कहानी हिंदी और इंग्लिश में

आज का प्रेरक प्रसंगदो सांपों की कहानी*एक बार एक राजा था जिसका नाम था देवशक्ति वह अपने बेटे से बहुत निराश था, जो बहुत कमजोर था। वह दिन व दिन दुबला और कमजोर होता जा रहा था। दूर के स्थानों से प्रसिद्ध चिकित्सक भी उसे ठीक नहीं कर पा रहे थे। क्योंकि उसके पेट में साँप था। उन्होंने सभी तरह के उपचारों की को



कागज की

कागज की नाव⛵⛵⛵⛵⛵⛵बाल गीत लिखते लिखतेजागतिक् विचारों में बह चलाबाल सुलभ जीवन मेरासमयान्तर- छिटक दूर हो चला★★★★★★★★★★★★★★🍂🍂🍂🍂🍂🍂🍂🍂🍂जो सोचा था, वह पा न सकाजो खोया था, न वापस ला सकातुम्हारी यादों को समेटे खुद को बहला न सका🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷टच से काम चलता है,श्याही पोतना क्याअँगुली की पोर परउझलती ह



हिंदीतन्त्र का पहिला लेख

नमस्कार मित्रों , आज मैं आपको एक ऐसे वेबसाइट के बारे मैं बताने वाला हु जो आपको भरपूर ज्ञान के साथ आपका मनोरंजन भी करें .इस ब्लॉग अथवा वेबसाइट का नाम हैं - हिंदीतन्त्र . जी हाँ , हिंदीतन्त्र जो की आपको नयी दुनिया का तंत्र मंत्र समय के साथ बता दे ताकि आपकी लाइफ आसान हो जाए .इस ब्लॉग मैं आपको आगे लिखी



हिंदी में काम करने में तकनीकी सुविधाएं -

सबसे पहले हम एक भ्रांति का निवारण जरूरी समझते हैं, लोगों का यह कहना है देवनागरी भाषा को कंप्यूटर की भाषा के रूप में स्वीकार किया गया है। पहले तो हमयह जान ले किमानवीय भाषा और मशीन की भाषा में कोई तादात्म्य नहींहोता।दूसरे यहभी समझ लें कि कंप्यूटर की भाषा में क्या है, केवल देवनागरी के फार्मूला



100 रूपये में 100 पक्षी खरीदने हैं लेकिन शर्त यह है कि...

पक्षियों की एक बड़ी दुकान के बाहर लगे बोर्ड पे लिखा था- “100 रूपये में 100 देसी पक्षी खरीदने का सुनहरा अवसर।”लेकिन जब रोहन ने ऐसा सुनहरा अवसर देखा तब उसने पक्षियों को खरीदने का फैसला किया। जब उसने दुकानदार से बात की तब दुकानदार ने उसे बताया कि,1 रूपये में 40 गौ



सदा सुहागन

मनीषा औरविकास की ज़िंदगी यूं तो बहुत अच्छे से चल रही थी, घर में किसी सुविधा की कमी नहींथी। फिर भी मनीषा को एक अकेलापन हमेशा खाए जाता, विकास भी हाई सैलरी वाली जॉब कररहा था तो वहीं मनीषा एक प्राइमरी स्कूल में प



दो बादाम एक- एक अनोखी प्रेम कहानी

उसने उसके भिगोए हुएदो बादाम खा लिए, ये अब उसकी नियमित दिनचर्या का हिस्सा बन चुका था। वो हमेशाअस्वस्थ रहती थी, वो भी सिर्फ 23 साल की उम्र में जब उसका यौवन और सौंदर्य किसी कोभी प्रभावित कर सकता था लेकिन चांद में दाग की तरह कमजोरी के निशान उसके चेहरे परभी दिखाई देने लगे।उसके



औकात- एक प्रेरणादायी कथा

सुरेखा की शहर के बीचों-बीच कपड़े कीबहुत बड़ी दुकान थी। हर तरह की महंगी साड़ियां और सलवार कमीज के कपड़े वहां मिलतेथे। अच्छी ख़ासी आमदानी होती थी उसकी। क्योंकि अकेले दुकान संभालना मुश्किल था तोउसने कांता को अपनी दुकान पर काम करने के लिए रख लि



देवी का आभास

35 साल की वोऔरत माथे पर बड़ा सा तिलक, आंखों में गहरा काजल लगाकर अपने लंबे केश लहराने लगी।“ हां मुझेमहसूस हो रही है, हां मेरे शरीर में उसका प्रवेश हो चुका है....हां उसकी उपस्थितीमुझे महसूस हो रही है...जय मां...जय मां...” मनोरमा ऐसाकहने लगी।अपने मिट्टीसे बने कमरें में लकड़ी



Hindi poetry on childhood life - अजूबी  बचपन ; अर्चना की रचना

बचपन की यादों आधारित हिंदी कविता अजूबी बचपन आज दिल फिर बच्चा होना चाहता है बचपन की अजूबी कहानियों में खोना चाहता है जीनी जो अलादिन की हर ख्वाहिश मिनटों में पूरी कर देता था,उसे फिर क्या हुक्म मेरे आका कहते देखना चाहता है आज दिल फिर बच्चा होना चाहता हैमोगली जो जंगल में बघ



संगत का असर

आज मनोहर घरआया तो उसकी मां उसे देखकर हक्की बक्की रह गई, चेहरे की हवाईयां उड़ी हुई और कपड़ों पर मिट्टीऔर धूल के धब्बे ऐसे प्रतीत हो रहे थे किमानो मिट्टी में लोट कर आया हो।तब उसकी मांने पूछा बेटा “ये क्या हाल



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x