हीन

1


भगवती सीता की खोज ,लंका में संकट मोचन हनुमान का प्रवेश

भगवती सीता की खोज , लंका में संकट मोचक हनुमान का प्रवेश डॉ शोभा भारद्वाज विशाल सागर को पार कर श्री हनुमान लंका पहुंचे लेकिन नगर में प्रवेश कैसे करें ?वह एक ऊँचे घने वृक्ष की छाया में घुटनों के बल बैठे थे उन्होंने हाथ जोड़ कर कहा मेरा श्री राम पर अटूट विश्वास है वही मुझे मार्ग दिखलायेंगे .सामने चारो



बल बुद्धि विद्या निधान श्री हनुमान ( हनुमान जयंती के उपलक्ष में )

बल बुद्धि विद्या निधान श्री हनुमान (हनुमान जयंती के उपलक्ष में )डॉ शोभा भारद्वाज ब्रम्हा सृष्टि का निरंतरनिर्माण कर रहे थे सृष्टि निर्माण से लेकर अब तक जीवन कोचलाने वाली वायू प्राणियों के जीवन का आधार है इससे जीवधारी हवा में साँस लेते हैवृक्ष एवं पेड़ पौधे वायु को शुद्ध करते हैं .मंद पवन बह रही थीक



शाहीन बाग़ का धरना



शाहीन बाग़



भारतीय राजनीति की नई ‘गुगली’।

स्वतंत्र भारत के राजनैतिक इतिहास में बीता कल अभूतपूर्व कहलायेगा! यह घटना राजनैतिक भूचाल नहीं, बल्कि ‘भूकम्प’ है, जो स्वतंत्रता के बाद देश के राजनैतिक पटल पर प्रथम बार हुआ है। राजनीति में नैतिकता के निरंतर गिरते स्तर के बावजूद, इस तरह की यह पहली अलौकिक, अनोखी, अचम्भित करने वाली एक आश्चर्यजनक घटना है।



Sawan 2019 : भूलकर भी नहीं करें सावन महीने में ये काम, भोलेनाथ हो सकते हैं रुष्ट

श्रावण मास जिसे सावन भी कहते हैं इस साल इसकी शुरुआत 17 जुलाई से होने वाली है। इस बार पूरे 30 दिन का सावन का महीना होगा और 15 अगस्त को रक्षाबंधन के साथ ही ये खत्म हो जाएगा। श्रावण मास को शिव जी की अराधना करने का सबसे अच्छा महीना माना जाता है और इस महीने को पवित्र भी कहा जाता है। इस दौरान शिव की जी पू



8 महीने की प्रेग्नेंसी में बच्चे का विकास - 8 Month Pregnancy Baby Movement In Hindi

8 Month Pregnancy Baby Movement In Hindi- 9 महीने की प्रेग्नेंसी के बाद जब मां के हाथ में उसका बच्चा सही सलामत आता है तब उसका सारा दर्द और तकलीफ दूर हो जाती है. एक बच्चा मां की जान होता है क्योंकि वो गर्भ में उसे खून और पानी से सींचती है और फिर बहुत ज्यादा दर्द-तकलीफ के साथ उसे जन्म देती है. प्रेग्न



कसौटी ज़िन्दगी के के पार्थ समथान ने एक नया घर खरीदा

सटार प्लस के शो कसौटी ज़िन्दगी के में अनुराग के रूप में अपने अभिनय का जादू बिखेरते हुए दर्शकों के दिलों पर छा जाने वाले पार्थ समथान फिलहाल एक खुशहाल ज़ोन में हैं क्योंकि उन्होंने मुंबई में अपने लिए एक नया घर खरीदा है।अधिक जानकारी के लिए https://hindi.iwmbuzz.com/television/news/kasautii-zindagii-



अपनी दिशा से भटक रहा युवा

आज भारत देश में करोड़ो की सख्यां में युवा बेरोजगार है और दिशा विहीन हो कर भटक रहा है 1 इसके पीछे मै कई कारन मन रहा हूँ 1 अगर में उत्तर भारत की बात करूं जहां से मैं सम्बन्ध रखता हु तो मुझे ये ज्ञात होता है की दो और तीन कारन ही मुख्यत:



जातियां और आज का भारत

आज के भारत में जातियां अस्तित्वहीन हो चुकी है। परन्तु राजनीति बांटने और वोट बैंक बनाने के लिये आज भी इसका भरपूर प्रचार कर रही हैं। इसे रोका जाना चाहिये। भारत सरकार को अब सरकारी फार्मों आदी से जाति का कॉलम हटा देना चाहिये। इसके स्थान पर केवल वर्ग जैसे - साम



हीना सिद्धू ने 10 मीटर एयर पिस्तौल में कांस्य पदक जीता

भारत के स्टार शूटर हीना सिद्धू ने शुक्रवार को 10 मीटर एयर पिस्तौल में कांस्य पदक जीत लिया है। एशियाई खेलों में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल



तलाश

कतरन बनी जिन्दगी में भीड में अजनबियों के बीच अपने आप को खोजती टूटे सपनों को लडी को बिखरे रिश्तों को जोडने की जद्दोजहद आदर्शों, आस्थाओं को स्थापित करने का रास्ता खोजते मंजिलों पाने को घिसी पिटी, ढर्रे की रोजमर्रा की जिंदगी में विसंगतियों को संवेदनहीनता को उजागर कर एक नए उजाले को मिलना महज संयोग नहीं



सावन: शिव का महीना

हिंदू धर्म में सावन का महीना काफी पवित्र माना जाता है। इसे धर्म-कर्म का माह भी कहा जाता है। सावन महीने का धार्मिक महत्व काफी ज्यादा है। शास्त्रों के अनुसार बारह महीनों में से सावन का महीना विशेष पहचान रखता है। इस दौरान व्रत, दान व पूजा-पाठ



"शून्य" 'आत्म विचारों का दैनिक संग्रह' "क्रोध"

"क्रोध" "हमारे शरीर में उत्पन्न क्षणिक विकृति मात्र है, जो आवेग के रूप में प्रस्फुटित होती है, दिशाविहीन होना इसका विशिष्ट लक्षण है जो हमारे मस्तिष्क को क्षणभर के लिए शक्तिहीन बना देती है" "एकलव्य"



"शून्य" 'आत्म विचारों का दैनिक संग्रह' "दिवास्वप्न"

"दिवास्वप्न" मैं सदैव विचार करता, कि ये दिवास्वप्न है क्या बला ? किन्तु जीवन के आज तक के अनुभव मुझे ये बताने लगे हैं कि हमारा कर्महीन होकर,अत्यधिक पाने की कल्पना का दूसरा नाम 'दिवास्वप्न' है।''एकलव्य"



जब से मैंने गाँव क्या छोड़ा | मैं, लेखनी और जिंदगी

जब से मैंने गाँव क्या छोड़ा शहर में ठिकाना खोजा पता नहीं जब से मैंने गाँव क्या छोड़ा | मैं, लेखनी और जिंदगी





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x