का



जंक्शन प्लैनेट विशेषांक (6)

इस बार कॉमिक्स जंक्शन टीम ने अपनी पत्रिका जंक्शन प्लैनेट की थीम मेरे ऊपर रखी . उन्होंने मेरी कई पुरानी कहानियों को रोमन हिंदी /हिंगलिश से देवनागरी में लिखा . आभार ! Comics Junction team announced that this edition of Comics Planet magazine is a



जंक्शन प्लैनेट पत्रिका (अंक 5)

जंक्शन प्लैनेट मैगज़ीन के पांचवे अंक में मेरी 2 कहानियां शामिल हैं. टीम को आभार ! 2 stories in April issue of Junction Planet. All Thanks to Comics Junction - CFS TeamMagazine Link (Issue 5)



ऐरोगो एयर कॉस्टर

Bode sales and services provide air bearings, Aerogo air caster systems, load carriers, wheeled, got bids on similar items but Bode sales and services had the best setup, price, and customer service. Also, we provide A Superior Solution To Move Loads Of Any Size, Shape Or Weight. Call For A Quote. E



दोहा गीतिका

"दोहा गीतिका"री बसंत क्यों आ गया लेकर रंग गुलालकैसे खेलूँ फाग रस, बुरा शहर का हालचिता जले बाजार में, धुआँ उड़ा आकाशगाँव घरों की क्या कहें, राजनगर पैमाल।।सड़क घेर बैठा हुआ, लपट मदारी एकमजा ले रही भीड़ है, फुला फुला कर गाल।।कहती है अधिकार से, लड़कर लूँगी राजगलत सही कुछ भी कहो, मैं हूँ मालामाल।। सत्याग्रह



मुक्त काव्य

"मुक्त काव्य"पेड़ आम का शाहीन बाग में खड़ा हूँफलूँगा इसी उम्मीद में तो बढ़ा हूँजहाँ बौर आना चाहिएफल लटकना चाहिएवहाँ गिर रही हैं पत्तियाँबढ़ रही है विपत्तियांशायद पतझड़ आ गयाअचानक बसंत कुम्हिला गयाफिर से जलना होगा गर्मियों मेंऔर भीगना होगा बरसातियों मेंफलदार होकर भी जीवन से कुढ़ा हूँपेड़ आम का शाहीन बाग में



दोहा गीतिका

"दोहा गीतिका"मुट्ठी भर चावल सखी, कर दे जाकर दानगंगा घाट प्रयाग में, कर ले पावन स्नानसुमन भाव पुष्पित करो, माँ गंगा के तीरसंगम की डुबकी मिले, मिलते संत सुजान।।पंडित पंडा हर घड़ी, रहते हैं तैयारहरिकीर्तन हर पल श्रवण, हरि चर्चा चित ध्यान।।कष्ट अनेकों भूलकर, पहुँचें भक्त अपारबैसाखी की क्या कहें, बुढ़ऊ जस



जज़्बात

जज़्बात किसी के भी हो,रहते दिल की गहराई में,बहुत श्रम करना पड़ता है,उन्हें ज



"पीपल्स पार्टी ऑफ इंडिया डेमोक्रेटिक"(पीपीआई डी) के कार्यकर्ताओं की टीम,पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आर के विद्यार्थी के नेतृत्व में ग्राम सभा भीटा ब्लॉक

कल दिनांक 29 जून को "पीपल्स पार्टी ऑफ इंडिया डेमोक्रेटिक"(पीपीआई डी) के कार्यकर्ताओं की टीम,पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आर के विद्यार्थी के नेतृत्व में ग्राम सभा भीटा ब्लॉक जसरा जिला प्रयागराज मे जनसंपर्क किया! जनसंपर्क के दौरान यह बात निकल कर के आई कि गांव के मनरेगा के मजदूरों को उनकी मेहनत का आधा पै



ग्राम सभा में मनरेगा के मजदूरों को उनकी पूरा मजदूरी नहीं दी जा रही है।

अब तक हिंदी न्यूज़ /प्रजागराज कल दिनांक 29 जून 2020 को "पीपल्स पार्टी ऑफ इंडिया डेमोक्रेटिक"(पीपीआई डी) के कार्यकर्ताओं द्वारा ग्राम सभा रामपुर खौरिया ,ब्लॉक जसरा, तहसील बारा, जिला प्रयागराज में जनसंपर्क किया गया! जनसंपर्क के दौरान यह बात स्पष्ट हुई की इस ग्राम सभा में मनरेगा के मजदूरों को उनकी पूरा



गुरुपूर्णिमा पर विशेष

*जय श्रीमन्नारायण* *श्रीमते गोदाम्बाय नमः*🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 *गुरुपूर्णिमा विशेष* *भाग तृतीय*🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 वैष्णव के चिन्ह स्वयं व्यक्ति को देव तुल्य बना देते हैं वैष्णव दीक्षा लेने के बाद पंच संस्कार युक्त मनुष्य स्वयं एक दिव्य यंत्र अर्थात दिव्य पुरुष के रूप में इस धरा धाम को आलोकित करता है



भारतीय राजनीति में ‘सवालों’ के ‘जवाब’ के ‘उत्तर’ में क्या सिर्फ ‘सवाल’ ही रह गए हैं?

भारतीय राजनीति का एक स्वर्णिम युग रहा है। जब राजनीति के धूमकेतु डॉ राम मनोहर लोहिया, अटल बिहारी बाजपेई, बलराम मधोक, के. कामराज, भाई अशोक मेहता, आचार्य कृपलानी, जॉर्ज फर्नांडिस, हरकिशन सिंह सुरजीत, ई. नमबुरूदीपाद, मोरारजी भाई देसाई, ज्योति बसु, चंद्रशेखर, तारकेश्वरी सिन्हा जैसे अनेक हस्तियां रही है।



क़िस्सा गिलहरी और कोरोना का - दिनेश डाक्टर

फुदकती फुदकतीमेरी खिड़की परफिर आ बैठी गिलहरीछोटी सी लीची कोकुतर कुतर छीलाफिर मुझसे पूछाक्या हुआ सब खैरियत तो हैदेखती हूँ कई महीनों सेकैद हो महज घर में न बाहर जाते होन किसी को बुलाते होबस उलझे उलझे उदास नज़र आते हो ? मैंने देखा उसकीचौकन्नी आंखों कोसफेद भूरीचमकती धारियों कोछोटे छोटे सुंदर पंजो कोपल पल ल



28 जून 2020 को नये कपड़े खरीदने के फायदे

🌹आज नए कपड़े खरीदकर पहनना धन देने वाला होगा! जी हाँ आज दिनांक 28 जून 2020 दिन रविवार आषाढ़ मास शुक्ल पक्ष अष्टमी तिथि को नये कपड़े खरीदकर पहनने से आमदनी में बढ़ोत्तरी होगी, यदि रोग ग्रसित हैं तो रोगों से छुटकारा मिलेगा शिक्षा, नौकरी, व्यापार आदि में लाभ की स्थिति बनेगी, कुल मिलाकर देखा जाए तो सफल



हिन्दुस्तानी सैनिक

पंद्रह जून की वह अंधेरी रात, सुकून से सो रहा था हर हिन्दुस्तानी।क्योंकि सीमा पे चीनियों को, सबक सिखा रहे थेजांबाज़ हिन्दुस्तानी।वो थे चीनी हजारों में,केवल पैंतीस सैनिकों के साथ थासंतोष हिन्दुस्तानी ।संयम और धैर्य के साथ, गया समझाने चीनियों को थावह वीर हिन्दुस्तानी।धोख



अपना घर

वो आई थी मेरे घर, अपना घर बनाने को.. तांक झांक कर देख गई, उठ बैठ कर देख गई, अपना घर बसाने को, वो आई थी मेरे घर, अपना घर बनाने को.. तिनका तिनका बीनने को, दिन पूरा जोड़ दिया, कुछ कम पड़ा तो कुछ और जोड़ लिया। वो आई थी मेरे घर, अपना घर बनाने को.. मेरे घर की आंखें, उसको देखें, उसकी आंखें उनको देखें, थोड़



भारत ने दुनिया को क्या दिया ।

भारत दुनिया की सबसे पुरानी जीवित सभ्यता है। भारतीय भूमि आरंभ से ही अविष्कारों की भूमि रही है और गर्व करने के लिए हम भारतीयों के पास बहुत सी खोज हैं। आइये जानते है की भारत ने दुनिया को क्या दिया |तक्षशिला - पहला विश्वविद्यालय ( Takshashila - World's First University) लगभग



भारत में प्रकाशित सबसे पहला अख़बार |

आज हम संचार क्रांति के युग में जी रहे हैं । संचार साधनों ने इतनी प्रगति कर ली है कि संसार का कोई भी कोना हमारी पहुंच से दूर नहीं रहा । चाहे वह दुनिया के दूसरे छोर पर बैठे किसी व्यक्ति से बात करनी हो या फिर दुनिया के किसी हिस्से की खबर लेनी हो, केवल कुछ सेकंड्स में ही आप यह काम अपने मोबाइल या लैपटॉप



Education Minister के बारे में जाने काम की बात

Education Minister (शिक्षा मंत्रियों) के बारे में जाने। ये जानकारी आपके एग्जाम में जरूर काम आएगी। Education minister ke bare me jane kaam ki baatदेश में पढ़ाई को सुचारू रूप से चलाने के लिए एक education minister की जरूरत पड़ती है। तभी हमारे देश मे शिक्षा का विकास होता है और



अलस का मौसम - दिनेश डाक्टर

अलस का मौसम हवा थी गीलीसीली सीली कुछ नशीलीमौसम की खुमारीबदन में थी भारीसोता ही रहाफिर जिस्म को बड़ी मुश्किल सेउठाया, समेटाशाल खींच करबदन से लपेटाउठूं या वापस लेट जाऊंइसी में जीती सुबह की खुमारीफिर लुढका तकिये पेलिए अलसाया जिस्म भारीस्लो मोशन में भोर का शोर हुआधीरे धीरे आँख खुलीकमरे में थी फैलीरोशनी ध



गांधार राज शकुनी की नीति

गांधार राज शकुनी की नीतिडॉ शोभा भारद्वाजयह उन दिनों की कहानी है जब राजधर्म में राजनीति को मान्यता दी गयी थी लेकिन कूटनीति का स्थान नहीं था शकुनी पहला कुटिल कूटनीतिकार था छलनीति उसका हथियार था माना हुआ षड्यंत्र कारी था |समय का प्रचलित खेल चौसर राजा महाराजों के प्रिय खे



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x