जान प्यारी या पैसे ….?

https://duniaabhiabhi.com/life-or-money/



चलती गाड़ी से चाबी नहीं निकाल सकती पुलिस, सिर्फ इन्हें है चालान करने का अधिकार

देश में 1 सितंबर 2019 से संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट लागू कर दिया गया है और ऐसे में ट्रैफिक पुलिस धड़ल्ले से चालान भी काटे जा रही है। ऐसा सही भी है, अगर आप भी ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करेंगे तो आपके साथ भी ऐसा ही होगा। इसलिए हमेशा ट्रैफिक नियमों का पालन करें और गाड़ी के पेपर अपने पास पूरे रखें तो पुलि



दबी जुबान

दबी जुबानपास होगा सबकुछ पास होगा चाहत जो इतनी है।दबीजुबा से कुछ कह न सके अपनो से।लिखने की वर्तनी का कुछ असर नही कलम जो इतना डरती है।राहुल बजाज की अभिब्यक्ति से पता चला, इलेक्ट्रिक कार तो अभी सपना है।सरकार की चाहत को रख पास में अपनी ब्यथा को कहते है।तीन तलाक भी कानून बन गया इज्जत और आबरू का।शिक्षा लट



सुमन पवन बोदानी बनी पाकिस्तान की पहली हिन्दू महिला जज, रचा इतिहास

पाकिस्तान में लड़कियों के लिए कई कड़े नियम होते हैं। वहां रहने वाले लोगों को इन नियमों को मानना भी होता है, लेकिन कहते हैं ना कि जहां चाह वहां राह। एक ऐसा ही वाक्या पाकिस्तान में घटा है जिसके चलते वहां पर पहली बार कोई हिंदू महिला जज बनी हैं। बता दें सुमन पवन बोदानी नाम की ये महिला पहली महिला सिविल ज



क्या यूनिफार्म सिविल कोड की जरुरत है

हाल के माननीय सुप्रीम कोर्ट का तीन तलाक कोअसैम्बधानिक करार देने से ,फिर से यूनिफार्म सिविल कोड की मांग समाज मे उठाने लगी है | यूनिफार्म सिविल कोडक्या है ?यहनियमो का वह सेट है जो भारत मे विभिन्न पर्सनल लॉ को समाप्त कर एक ही पर्सनल लॉबनाएगा जो सभी धर्मो पर लागु होगा | हलाकि इस सम्बन्ध मे अभी तक सरकार



क्या कानून व्यवस्था ‘कांग्रेस’ व ‘भाजपा’ के लिये अलग-अलग है?

विगत दिवस मंदसौर में भाजपा नेता व प्रथम नागरिक नगर पालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की सरे आम गोली मारकर हत्या कर दी गई। निश्चित रूप से यह एक बेहद दुखद घटना थी और पुलिस ने त्वरित कार्यवाही कर 24 घंटे के भीतर ही एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया। लेकिन मुख्यमंत्री कमलनाथ का उक्त घटना पर यह बयान कि यह भाजप



कसैले पन का कसाव

(कसैलेपन का कसाव) मेड़मफोटो खीचेंगी यह लाईन अभद्रता भरी लाईन या अभद्रता की प्रतीक थी। एक चाटा भरी आवाजके साथ प्रतीक वर्दियों से घिर गया। किसी के कमर मे काली बेल्ट पैरो मे काले जूतेजिसमे चेरी की पोलिस ही चमक रही थी। किसी के कमर मे बंधी लाल बेल्ट पैरो मे लालजूता वह दरोगा या कह लो सब इंस्पेक्टर यह ला



बाल यौन शोषण: अपनों की दरिंदगी का शिकार होता बचपन - Child Abuse in Hindi

बाल यौन शोषण हमारे समाज की सबसे जटिल समस्याओं में से एक है।भारत में दिन पर दिन बाल यौन शोषण की समस्याएं तेज़ी से बढ़ती जा रहीं है। जिसके चलते न जाने कितने मासूम आज एक सुरक्षित समाज में साँस नहीं ले पा रहे।उनके मन में असुरक्षा का डर भर गया



पति या पत्नी का दूसरों से जिस्मानी रिश्ता अपराध नहीं: SC का फैसला

150 साल पुराने एडल्टरी कानून पर फैसला सुनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि महिला और पुरुष को हमारे संविधान ने बराबर का अधिकार दिया है. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने अपनी और जस्टिस ए एम खानविल्कर की ओर से फैसला पढ़ा. चीफ जस्टिस ने कहा कि हर किसी को बराबरी का अधिकार है और पति पत्नी का मास्टर नहीं है. कोर्ट



'कानून अंधा है, जज नहीं', हिमाचल के चीफ जस्टिस ने जो किया, उसे जान आप भी यही कहेंगे

आजकल एक नजारा बड़ा कॉमन है. कोई एक्सीडेंट हो जाए या कोई आदमी सड़क किनारे तड़प रहा हो. तो उसे घेरकर एक भीड़ खड़ी हो जाती है. और एक नया चसका लगा है लोगों को. वीडियो बनाने का. तो वो भी जारी रहता है. बजाए उसकी मदद करने को. कुछ ऐसा ही नजारा 13 सितंबर को था हिमाचल प्रदेश के शिम



रट रट हसना सीखो - अँधा कानून

रोट रोटे हसन सेखो एंड्र कानून के गीत (1 9 83): यह रजनीकांत, रीना रॉय, हेमा मालिनी और प्राण अभिनीत अंधे कानून का एक प्यारा गीत है। इसे किशोर कुमार द्वारा गाया जाता है और लक्ष्मीकांत और प्यारेलाल द्वारा रचित किया जाता है।अँधा कानून (Andha Kanoon )रट रट हसना सीखोहम दो एक हमारी प्यारी-प्यारी मुनिया हैबस



यह अंधा कानून है - अँधा कानून

ये अंधाना कानून है अंडे कानून (1 9 83) के गीत: यह रजनीकांत, रीना रॉय, हेमा मालिनी और प्राण अभिनीत अंधा कानून का एक प्यारा गीत है। इसे किशोर कुमार द्वारा गाया जाता है और लक्ष्मीकांत और प्यारेलाल द्वारा रचित किया जाता है।अँधा कानून (Andha Kanoon )यह अंधा कानून है क्ष (४)जाने कहां दगा दे-देजाने किसे सज



कभी न कभी तो कहीं न कहीं - अँधा कानून

कही ना कही टू काहिन ना कहिन फिल्म एंडा कानून के गीत आशा भोसले द्वारा गाए जाते हैं, इसका संगीत लक्ष्मीकांत और प्यारेलाल द्वारा रचित है और गीत आनंद बक्षी द्वारा लिखे गए हैं।अँधा कानून (Andha Kanoon )ए कभी न कभी तो कहीं न कहीं तोकिसी न किसी से मुलाक़ात होगीदिल की बात होगीहे कभी न कभी तो कहीं न कहीं तोकि



मौसम का तकाज़ा है - अँधा कानून

Mausam Ka Takaza Hai Lyrics of Andha Kanoon (1983): This is a lovely song from Andha Kanoon starring Rajinikanth, Reena Roy, Hema Malini and Pran. Mausam Ka Taqaza hai is sung by S P Balasubramaniam and Asha Bhosle while its music is composed by Laxmikant and Pyarelal.अँधा कानून (Andha Kanoon )मौसम



अँधा कानून (Andha Kanoon )

"Andha Kanoon" is a 1983 hindi film which has Rajinikanth, Reena Roy, Hema Malini, Pran, Madhavi, Prem Chopra, Danny Denzongpa, Amitabh Bachchan, Amrish Puri, Om Shiv Puri, Gautami, Dharmendra, Asrani and Madan Puri in lead roles. We have 4 songs lyrics and 4 video songs of Andha Kanoon. Laxmikant



क्या देश के नागरिको के रहवासी भवन के प्रति सुरक्षा की गांरटी हेतु कानूनी प्रावधान बनाने का समय नहीं आ गया है?

विगत एक हफ्ते के भीतर देश की राजधानी दिल्ली के पास एनसीआर में नवनिर्मित या निर्माणाधीन या पुरानी बिंल्डिग अचानक ढ़ह जाने की लगातार चार घटनाएँ हो गई जिस कारणं सम्पत्ति के अलावा जानमाल का भी बड़ा नुकसान हो गया। ये घटनाएं 17, 21, 22 जुलाई 2018 के बीच गाजियाबाद, शाहबेरी, मसूरी, साहिबाबाद में हुई हैं। शाहब



मिथ्या वाद भी दंडनीय

आजकल जहाँ एक तरफ न्यायालयों की धीमी प्रक्रिया को देखते हुए लोगों द्वारा अपना अधिकार छोड़कर न्यायालयीन वादों को समझौतों द्वारा निपटने के प्रयास जारी हैं वहीँ कितने ही मामलों में न्यायालयों में अपनी अनुचित मांगें मनवाने को झूठे वाद दायर करने की भी एक परंपरा स



धारा 154 cr .p .c .-पुलिस करे कड़ा अनुपालन

विशाल अग्रवाल बनाम छत्तीसगढ़ स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड [2014 ]3 .एस.सी.सी.696 में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि प्रथम सूचना रिपोर्ट को पंजीकृत करना पुलिस प्राधिकारियों का कर्तव्य तथा उत्तरदायित्व है .पुलिस प्राधिकारी उसका अन्वेषण करने और इसके पश्चात् मजिस्ट्रेट के समक्ष इसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करन



अपहरण का दंड नहीं

आमतौर पर आये दिन हम अपहरण -व्यपहरण सुनते रहते हैं .कानून में अपहरण के लिए Abduction व् व्यपहरण के लिए Kidnapping शब्द है .हम अपहरण व् Kidnapping शब्द का ही इस्तेमाल करते हैं जबकि दोनों अलग-अलग शब्द हैं हमारे कानून भारतीय दंड संहिता में . भारतीय दं



देख के जाना जेवर लेने

आपने अक्सर देखा होगा कि आपके आस-पास के किसी सर्राफ को बाहर प्रदेश से आयी हुई पुलिस पकड़कर ले जा रही है .सर्राफों के बारे में यूँ तो सभी जानते हैं कि ये जबान के बहुत मीठे होते हैं और जब भी बोलते हैं शहद से भरे शब्द ही बोलते हैं किन्तु ये मिठास अपने में अपरध का जहर भी



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x