इस्लामिक गणराज्य ईरान अपने में एक पहेली है

इस्लामिक गणराज्य ईरान अपने में एक पहेली हैडॉ शोभा भारद्वाज इस्लामिक गणराज्य ईरान अपने में एक पहेली है इस मुल्क को वही समझ सकते हैं जो लम्बे समय तक वहाँ रहें हैं जिनका जनता से सम्पर्क रहा है ईरान अपने में ही पहेली है सत्ता पर पूरी ईरान को समझना आसान नहीं



वाद को पनपने मत दो।

वाद को पनपने मत दो।गाँव मे जातिवाद, जिले में गैंगेस्टर, प्रदेश में माववादी, प्रदेश बॉर्डर में नक्सलवादी, देश बॉर्डर में आतंकवादी। इन सब से हारे तो वायरस वाद, इन सब का बाप राजनीतिवाद। यह आम जनता को न जीने देते है न मारने देते है। इन सब का झूठ का पुलिंदा बांधने वाला मीडियावाद, आजकल समाजवाद पर हॉबी है।



क्या परिपक्व होते लोकतंत्र में ‘‘सरकारे’’ ‘‘गिराई’’ जाती है? अथवा ‘‘बनाई’’ जाती है?

राजस्थान में राज्य सभा के हो रहे चुनाव के संदर्भ में कांग्रेस का यह बयान आया है कि, राजस्थान में भी भाजपा ने मध्य प्रदेश के समान ही‘ ऑपरेशन कमल‘ पर अमल करना शुरू कर दिया है। भाजपा खरीद फरोख्त के द्वारा लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार को गिराने का प्रयास कर रही है। विधायक दल के सचेतक द्वारा इसकी भ्



बेबसी सरकार की...

बेबसी सरकार की...हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई, आपस में सब भाई-भाई।कोरोना ने इनमे दूरियाँ बढ़ाई, नेताओ ने मौज मनाई।जहाँ हो वही रहो यह बात, जनता को समाझ न आई।कोटा के विद्यार्थियों ने,सत्ता में खूब उठापटक मचवाई।जाग परेशान सत्ता ने, एक मई से श्रमिक ट्रेन चलवाई।चढ़ भेड़ बकरियों की तरह, ट्रकों में अपनी जान गवाई।स



#कोरोना त्रासदी । #मजदूरों का #पलायन #मोदी_सरकार_की_विफलता

#कोरोना त्रासदी । #मजदूरों का #पलायन#मोदी_सरकार_की_विफलता#निष्पक्ष व सटीक #विश्लेषणसंविधान की शक्तियों का उपयोग करें।नागरिकों की जान माल स्वास्थ्य व कोरोना की राष्ट्रीय त्रासदी में सुप्रीम कोर्ट व जनता कि नाराजगी कोई मोल लेने का दुस्साहस नहीं करेगा किंतु इच्छाशक्ति तो मोदी साहिब को ही दिखानी होगी।वि



सरकारी लूट से मंदिरों को मुक्त करो

हिन्दू इकोनॉमी, मन्दिर साध्वी ऋतम्भरा आचार्य धर्मेंद्र जी को सन्त व साधुओं को अखाड़ों को साथ लेकर प्रवीण तोगड़िया, विनय कटियार विश्व हिंदू परिषद सनातन व हिन्दुहितैषी संगठनों हिन्दू महासभा व हिन्दू चेतना विद्वानों को प्रेरित होकर सरकारी नियंत्रण से मन्दिरो की मुक्ति व एक स्वायत्त स्वतंत्र देवस्थान बोर



निर्धनता नहीं सरकार की यह खामोशी मार देती है

घायल मेरे मन की आशा मन में व्याप्त भरी निराशा क्यों चुप है सत्ता में बैठी सरकारेंनहीं सुनाई देती क्या निर्धनों के चीख पुकारे। हर बार बात तो करते हैं ये अर्थव्यवस्था ठीक हो जाएगी लेकिन के यह क्या जाने इनकी बातों से नहीं होगा कुछ निर्धनों



भारत है ये इसके चर्चे...

सुविधा की कमी नही, आलस की भरमार हैभारत है ये इसके चर्चे सात समंदर पार हैसरकारी दफ्तर में घूमो पता तुम्हें चल जाएगाआता नही अगर रिश्वत देना तो वो भी आ जायेगाएक करे काम अगर तो, दूजा निकले गद्दार हैभारत है ये, इसके चर्चे सात समंदर पार हैअफवाहों का जोर बहुत है, नही कोई भी



जनता कर्फ़्यू

अब अपने को अपने ही घर मे कैद कर,अपने और अपने देश की कर लो हिफ़ाजत आज।अब जो आयीं ये संकट की घड़ी तो मिलकर काट लो आजबस ये मानों , आज ख़ुद से खुद के लिये एक जंग हैं,,पर ये देश हमारा ही एक अभिन्न अंग हैं।हा माना,, हमनें कभी इतनी बंदिशों में जीना नहीं सीखा,, पर यह तो समझो ये बंदिशे ही,, हमारा आने वाला कल है



विचारणीय प्रश्न (*जागो और जगाओ *)

<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:SaveIfXMLInvalid>false</w:SaveIfXMLInvalid> <w:IgnoreMixedContent>false</w:IgnoreMixedC



चुनावी दंगल जीतने की साईंस समय के साथ विकसित

"चुनावी दंगल जीतने की साईंस समय के साथविकसित होती है डॉ शोभाभारद्वाजदिल्ली में चुनाव प्रचार का दौर थम गया अब मत पत्र पेटियों में पड़ने बाकी है इस चुनाव के मुख्यतया तीनदिग्गज हैं आप पार्टीं के मुख्यमंत्री पद का चेहरा केजरीवाल पांच वर्ष का सत्तासुख ले चुके हैं |बीस वर्ष



जरूरी खबर: बैंक ग्राहकों को अब बैंक खुलने का नहीं करना होगा 10 बजने का इंतजार ! बदल गए नियम..

आज के समय में युवाओं को किसी भी सरकारी विभाग में कोई भी पद पर नौकरी मिल जाए तो ये उनके लिए सौभाग्य की बात हो जाती है। अगर ये नौकरी बैंक की हो जाए तो पांचों उंगलियां घी में और सिर कढ़ाई में वाली कहावत लागू हो जाती है। बैंक की नौकरी का समय सबसे सूटेबल और आरामदायक होता है तभी लोग दिन रात पढ़कर बैंक की



शिक्षा का अधिकार या मजाक

शिक्षा का अधिकार या मजाक रौनक रोज की तरह स्कूल ना जाने की जिद्द पर अड़ा था और उसकी माँ बिमला उसे पीट पीट कर स्कूल छोड़ने की जिद्द पर अड़ी थी दोनों का चीख चीहाड़ा अब पड़ोसियों के लिए भी रोज सुबह का सिरदर्द बनता जा रहा था।पड़ोसी शर्मा जी रौनक



मुजफ्फरनगर दंगा: अखिलेश सरकार ने करवाया था हिंदुओं पर 40 और मुस्लिमों पर सिर्फ 1 केस, आज सारे हिन्दू बरी और मुस्लिम दोषी....

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के कवाल में दो भाईयों की हत्या मामले में अखिलेश सरकार की जबरदस्ती और लापरवाही को निशाना बनाने का अब जाकर खुलासा हुआ है। मुजफ्फरनगर दंगों को लेकर जो रिपोर्ट सामने आई है उससे अब अखिलेश सरकार सवालों के घेरे में आ



दिल्ली में ऊंचाई के आधार पर बिजली कनेक्शन

देश में जहां हर गावं, हर घर में बिजली मिलने की धूम मची है,वहीं दिल्ली में बिजली का नया कनेक्शन के लिए उपभोगताको प्राइवेट बिजली कम्पनी ( जैसे BSES यमुना पॉवर लिमिटेड, जिसमें 49%हिस्सेदारी दिल्ली सरकार व् 51% हिस्सेदारी BSES की है)के सामने गिड़गिड़ाना पड़ रहा है।इसका कारण यह है कि DERC अधिनियम 2017 के



SSC MTS में नौकरी पाने का सुनहरा अवसर जल्दी apply कीजिये

इस विभाग में बम्पर भर्ती निकली है. इस post के द्वारा आप ऑनलाइन फॉर्म व सिलेबस के बारे में जानेंगे. हाल ही में सरकार ने ssc mts की वेकैंसी निकली है। यहां अप्लाई करके आप सरकारी नौकरी के दावेदार बन सकते है। ssc mts recruitment 2019 की 10000 वैकेंसी का नोटि



Govt Jobs website के बारे में जानकारी हिंदी में

यहाँ आपको सरकारी नौकरी सर्च करने के लिए वेबसाइट की पूरी और सही जानकारी मिलेगी. दोस्तो govt jobs website के बारे में जानकारी लेना कौन नही चाहता ? सभी चाहते हैं क्योंकि सभी को सरकारी नौकरी चाहिए। इसलिए सभी को इसके बारे में मालूम भी होना चाहिए। आज हम आपको best



मतदातों से एक निवेदन-अगली सरकार मज़बूत सरकार-२

लेख के पहले भाग में मैंने यह तर्क दिया था कि देश कोसिर्फ एक मज़बूत सरकार ही सुरक्षित रख सकती है. देश को तोड़ने के प्रयास में कई शक्तियाँसक्रिय हैं, इसलिए चौकस रहना हमारे लिए एक मजबूरी ही है.आम आदमी को यह बात समझनी होगी कि शक्तिशाली लोग, धनी लोगकहीं भी, कभी भी जाकर बस सकते हैं. पर ऐसा विकल्प आम आदमी के



प्रधानमंत्री विद्यालक्ष्मी योजना के बारे में जाने

आज कल हम देखते हैं की कुछ योग्यतापूर्ण छात्रों के बड़े बड़े सपने होते हैं| वे अपने और अपने परिवार के हर सपने को पूरा करना चाहते हैं| उनके अंदर योग्यता भी भरपूर रहती है लेकिन उनकी कमजोर आर्थिक स्थिति उन्हें उनकी जिंदगी से काफी पीछे छोड़ देती है| आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण वे अपनी शिक्षा पूरी नहीं



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x