से



ब्रह्म ज्ञान

लिखा ओंकार ने कभीबैठकर इक दिन सच में मानव तूँ इक दिन हैरान होगारुकेंगी बसें विमान ट्राम और रेलें बंद पलों मेंसारा सामान होगालिखा ओंकार ने कभी बैठकर इक दिन सच में मानव तूँइक दिन हैरान होगापक्षी चहकेंगे सुखी साँस होगा प्रदूषण रहित तबसारा संसार होगापाताल धरती पानी आकाश पर काबज कैद घर में इक दिनइंसान हो



करोना तूफान है तो सोशल मीडिया सुनामी!

करोना तूफान है तो सोशल मीडिया सुनामी!बात का बतंगढ़ बनाना तो कोई इनसे सीखें..दुनिया के साढ़े छै: हजार से ज्यादा लोगों को खाकर भी करोना का दिल नहीं भरा! भारत ने कई मुसीबतों का सामना किया..... लेकिन अब भी दम है!एम.ए.जोसेफहम भारतवासी जिस मिटठी के बने हैं वह अद्भुत है. हममें प्रतिरोधक शक्ति है. हममें सब



वरिष्ठजनों के जीने की स्थितियाँ बदलने को समर्पित एक सामाजिक उपक्रम

भारत के दो टीयर और तीन टियर शहरों में वरिष्ठ नागरिकों को मेडिकल एवं केयर सेवाओं के लिए एक विश्वसनीय सेवा डीएलएस एल्डर सपोर्ट सर्विसेज के नाम से उपलब्ध है। यह एक सामाजिक उपक्रम है, जो सेवा भाव और जनकल्याण पर आधारित है। यह एक अभियान है, जो प्रत्येक वरिष्ठ नागरिक को चाहे वह



जो कोरोना से डर गया वो मर गया : दिनेश डॉक्टर

दुनिया में जितने लोग हर 30 मिनट में अलग अलग वजहों से मर ही जाते है, कोरोना से उतने लोग पिछले 100 दिनों में मरे हैं । पैनिक न हों और न ही फैलाएं । वैसे भी दुनिया की आबादी में हर मिनट 250 बच्चे जुड़ जाते है । इंसानों की प्रजाति का इस ग्रह से सफाया सिर्फ इंसान ही कर सकते है - कोई वायरस नही । गुड़ मॉर्नि



नमस्ते ,नमश्कार ,आदाब

नमस्ते , नमश्कार डॉ शोभा भारद्वाज करोना वायरस केप्रकोप से विश्व त्रस्त है चीन से निकल कर अनेक देशों में फैल रहा है इटली के बाद ईरानमें वायरस का असर अधिक है इजरायल में सात हजार लोगों में बिमारी के लक्षण दिखाईदिये | कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए डाक्टरों ने सलाह दी ह



हार्ट अटैक से बचाव के गुर सिखाये गये वरिष्ठ नागरिकों को

रविवार, 1 मार्च को डीएलएस एल्डर सपोर्ट सर्विसेज़, प्रयागराज द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के लिये एक वर्कशाप का आयोजन प्रात: 9.30 पर स्थानीय नवचेतना साहित्य विस्तार पटल, बाघम्बरी रोड में किया गया। इस वर्कशाप में विषय प्रवर्तन मुख्य कार्यकारी श्री दिनेश कुमार ने किया। कार्यशाला में वरिष्ठ नागरिकों को हार्ट



अन इनोवेटिव दिल्ली एस्कॉर्ट्स गर्ल

Hi guys, I am Preet Kaur, and if you’re looking toenjoy a strikingly beautiful Delhi Escorts Girl, then hire me. My ageis 22 years and in the prime of my youthfulness, I am one of the tops. Thereare various reasons, why I am rated as one of the top Delhi call girls. So, ifyou’re looking to unwind an



सेक्स पावर बढ़ाने के कुछ प्राकृतिक तरीके

सेक्स पावर बढ़ाने के कुछ प्राकृतिक तरीकेअधिकांश लोगों को अपनी सेक्स क्रिया के दौरान पूर्ण आनंद नहीं मिलता है, इसका एक कारण सेक्स पावर या कामेच्छा की कमी है।लेकिन इस स्थिति में चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि इस समस्या के लिए डॉक्टर की सलाह के साथ कई प्राकृतिक तरीके भी उपलब्ध हैं जिनका उपयोग य



दुनिया के सबसे खूबसूरत राष्ट्रीय उद्यानों में : दिनेश डाक्टर

क्रोएशिया में लैंड होने के बाद बहुत जगह एक बात बहुत सारे क्रोएशयन ने कई बार जो बड़े गर्व से दोहराई वो है यहां के पानी के बारे में उनका विश्वास । ' आप बोतल के पानी में पैसा खराब न करे ! हमारे हर नल का पानी किसी भी बोतल के पानी से ज्यादा अच्छा और शुद्ध है । क्योंकि मेरे अपने देश में बहुत सारी बीमारियों



CAA__NRC_ NPR से आज़ादी



सेक्स के समय दर्द क्यों होता है?

स्त्री और पुरुष के द्वारा शारीरिक संबंध बनाते समय दर्द होने के कारणको चिकित्सकीय और गैर चिकित्सकीय कारणों की श्रेणी में रखा गया है ।चिकित्सकीय कारण वह है,जो चिकित्सक पद्धति के द्वारा ठीक हो सकता है, जैसे महिला की योनि का सूखापन, महिला की योनि के आस-पास खुजली या जलन या किसी प्रकार का इन्फेक्शन होना च



मैं जब भी

कविताजब भी मैंमैं चुप बैठकर जब भी खुद से बात करता हूँ,मैं हर उस पल उसके साथ टहलता और विचरता हूँ।साथ मेरे दूर तक जाती है वीरान तन्हाईयां,फिर भी मैं उसकी बाहों में गर्म राहत महसूस करता हूँ।होता है सफर मेरा अधूरा दूर छीतिज तक, मैं फिर भी हर सफर में उसके साथ रहता हूँ।होती नहीं वो पास मेरे किसी भी पड़ा



भारत में टेस्ट ट्यूब बेबी का खर्च कितना है?

चिकित्सीय विज्ञान में इन विट्रो फ़र्टिलाइज़ेशन यानी आईवीएफ तकनीक उन महिलाओं के लिए वरदान है जो माँ बनने की चाह रखते हुए भी गर्भावस्था का सुख नहीं ले पाती है। आईवीएफ तकनीक यानि टेस्ट ट्यूब बेबी प्रक्रिया, बांझपन के उपचार में काफी कारगर



सिक्वेनशियल एम्ब्रयो ट्रान्सफर (सेट) – प्रक्रिया और फ़ायदे

सिक्वेनशियल एम्ब्रयो ट्रान्सफर एक एक ऐसी प्रक्रिया है जो महिलाओं के गर्भाशय में एम्ब्रयो ट्रांसप्लांट करने के लिए प्रयोग किया जाता है।इस प्रक्रिया में मुख्यता इन-विट्रो फर्टिलाइजेशनट्रीटमेंट में प्रयोग किया जाता है।इस परीक्षण में महिला के गर्भाशय में स्वस्थ और अच्छी तरह से तैयार किया हुआ एम्ब्रयो क



आईयूआई उपचार के प्रकार और उपचार से पहले किए जाने वाले टेस्ट!

आईयूआई ट्रीटमेंट एक सामान्य प्रजनन उपचार है। कई जोड़े जिन्हें गर्भधारण करने में परेशानी हो रही है, वे आईवीएफ से पहले आईयूआई से गर्भधारण का विकल्प आज़माते हैं। आईयूआई के उपचार के प्रकार निम्न हैं : इंट्रासर्विकल इनसेमिनेशनसबसे पुरानी और सबसे सामान्य कृत्रिम गर्भाधान प्रक्रिया में से एक है। जिसमें गर्भ



पुरुष बांझपन के कारण क्या हैं?

पुरुष बांझपन के क्या कारण है मुख्य रूप से पुरुष बांझपन के कारण को दो आधार जैसे स्वास्थ्य और जीवनशैली से सम्बंधित कारणों के आधार पर बाँटा जा सकता है।पुरुषों को कुछ ऐसी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होती हैं जिसका समय पर उपचार नहीं कराया जाये तो यह बांझपन का कारण बन जाता है।पुरुष बांझपन के कारण निम्न हैं



मुहांसे या पिंपल्स के कारण

कील-मुहांसे के कारण :-कील-मुहांसे पोर्स क्लॉग (जिसे हेयर फॉलिकल कहते हैं) के कारण होता है ।हर फॉलिकल के अंदर एक डीप हेयर शाफ़्ट (Hair shaft)पाया जाता है, जिसे "सिबेशियस ग्लैंड्स" ”(वसामय ग्रंथि) भी कहा जाता है।यह ग्लैंड्स आपके बालों और स्किन को नम करने के लिए सीबम नामक एक ऑयली सब्सटांस बनाता है।जब बह



आईयूआई उपचार की जरूरत किन परिस्थितियों में पड़ती है?

आईयूआई, गर्भधारण के लिए की जाने वाली एक प्रक्रिया है जिसमें एक पतली और फ़्लेक्सिबल कैथेटर ट्यूब की मदद से स्पर्म को गर्भाशय के अंदर फर्टिलाइज़ेशन के लिए डाला जाता है। इसमें एक से दो मिनट का समय लगता है।वैसे मेल आईयूआई उपचार के लिए आईयूआई उपचार किया जाता है। मगर पुरुष बा



आईवीएफ व टेस्ट ट्यूब बेबी क्या है ? आईवीएफ की जरूरत किसे होती है ?

आईवीएफ़ जिसे बहुत से लोग टेस्ट ट्यूब बेबी के नाम से भी जानते हैं। आईवीएफ उन दम्पत्तियों के लिए वरदान है जो कई कारणों से बच्चे का सुख प्राप्त नहीं कर पाते हैं। आईवीएफ़ एक प्रकार की सहायक प्रजनन तकनीक है। इस तकनीक में सबसे पहले अधिक अंडों के उत्पादन के लिए महिला के गर्भा



भारत में आईयूआई की लागत

विदेशों की तुलना में भारत में आईयूआई की लागत काफी कम है। भारत में एक चक्र के लिए iui लागत की शुरुआत अनुमानित रूप से करीब 3000 रुपये से होती है। आईयूआई उपचार के एक चक्र का ख़र्च 5000 से 10000 रूपए तक होता है जिसमें आईयूआई प्रक्रिया से पहले होने वाले अल्ट्रासाउंड, दवाईयाँ, इंजेक्शन आदि भी शामिल हैं। ले



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x