story



राजा पोरस कौन थे और क्या था सिकंदर व पोरस के बीच के युद्ध का इतिहास

HISTORY OF PORUS AND SIKANDER IN HINDI- हमारे भारत देश में अनेकों प्रकार के आक्रमण व युद्ध हुए, जिनके बारे में जानकारी आपको किताबों से मिलती है। अगर हम भारत के इतिहास के संदर्भ में युद्धों के बारे में बात करें तो हम देखते हैं कि सिकंदर और पोरस जैसे ताकतवर राजाओं के युद्ध के बारे में सुनने को मिलता



सुलासा और सत्तुका- कहानी

यह उस समय की बात है जब ब्रह्मदत्त बनारस राज्य पर शाषण करते थे. उस राज्य में सुलासा नामक एक सुंदर वेश्या रहती थी. इसके अलावे उस क्षेत्र में सत्तुका नामक एक बलशाली डाकू भी रहता था, जो रात में अमीर लोगों के घरों में घुसकर लूटपाट करता था. एक दिन उस डाकू को पकड़ लिया गया. सुला



कहि न जनावहि आपु .......

यह लेख , अपने गुरू प्रोफेसर मसूद साहब , जिनका हाल में स्वर्गवास हो गया , के लिए , एक सादर श्रद्धांजलि के तौर पर मैं उनकी याद मेंलिख रह



अभिमान से अपमान : एक बाल कथा

सलोना भालू फुलवारी वन का एक प्रतिभावान खिलाड़ी सलोना भालू किशोरावस्था में ही वह अपनी उम्र से बड़े और अनुभवी खिलाडियों को नाकों चने चबवा देता था। जल्द ही उसका नाम फुलवारी वन और उसके आस-पास के इलाकों में भी फ़ैल गया। केवल एक खेल नहीं बल्कि भाला फेंक, शॉट पुट, 400/800 मीटर



बताओ ना मां क्या मैं सुंदर नहीं हूं ?

मैं सुन्दर नहीं हूँ 'आज घंटों से आइने में खुद को निहार रही थी अंशिका, कभी अपनी आँखों को देखती, कभी अपने गालों को, कभी होंठो को तो कभी नाक को। 'अरे! क्या घंटों से आइने में निहार रही हो अंशी', माँ ने जोर से आवाज लगायी। अंशिका माँ के



यह कहानी ला सकती है आपके जीवन में बदलाव, जरूर पढ़ें

इस लेख में हमआपको देंगे दुनिया की 300 hindi story books में से सबसे अच्छी प्रेरणादायक कहानियों का सबसे अच्छासंग्रह। हमारे पास कुछ ऐसी कहानियां हैं जो मनोरंजन के साथ-साथ आपको बड़ी प्रेरणादेने का भी काम करती हैं। मैं उम्मीद करता हुं कि ये कहानियां आपके जीवन मेंसकारात्मक



भगवान के साथ संवाद - वाद विवाद

भगवान के साथ संवाद एक दिन रास्ते में मुझे एक वृद्ध महिला ने सहायता के लिए पुकारा। मैंने उनकी सड़क पार करने में सहायता की और साथ ही उन्हें खाने के लिए कुछ पैसे दिए। उन वृद्ध महिला के ढेरो आशीर्वाद लेकर मैं मुड़ा ही था कि मेरे इष्टदेव मेर



इतिहास के कुछ बिखरे हुए पन्ने ...शायद आप नहीं जानते हो

यूनानीयों तथा ट्रॉय वासी -जब एगमेम्नन और प्रियम के नैतृत्व में यौद्धिक गतिविधियों में संलग्न थे ।तब उनकी संस्कृतियों में वैदिक परम्पराओं के सादृश्य कुछ संस्कार थे ।जैसे मृतक का दाह-संस्कार आँखों पर दो स्वर्ण-सिक्का रखकर किया जाने तथा बारह दिनों तक शोक होना....यह समय ई०पू० बारहवीं सदी है होमर ई०पू० अ



कुसंगति का प्रभाव :-- आचार्य श्री अर्जुन तिवारी जी

*मनुष्य अपने जीवनकाल में सदैव उन्नति ही करना चाहता है परंतु सभी इसमें सफल नहीं हो पाते हैं | मनुष्य के किसी भी क्षेत्र में सफल या असफल होने में उसकी संगति महत्त्वपूर्ण स्थान रखती है | इस संसार में भिन्न - भिन्न प्रकार के लोग रहते हैं इसमें से कुछ सद्प्रवृत्ति के होते हैं तो कुछ दुष्प्रवृत्ति के | जह



जीवन के अध्याय पढ़कर देखें अच्छा लगेगा

जीवन के अध्याय जिन्दगी में हर पल एक नई चुनौतियों को लेकर आता हैं,जो असमान संघर्षो से भरा होता हैं.इस पल को सामने पाकर कोई सोचने लगता हैं कि शायद मेरे जीवन में नया चमत्कार होने वाला हैं.अर्थात् सभी के मन में चमत्कार की आशा पैदा होने लगती हैं.चुनौतियां जो इंसानी जीवन क



नश्वर और अनश्वर :--- आचार्य श्री अर्जुन तिवारी जी

नश्वर और अनश्वर *सृष्टि के आदिकाल से लेकर आज तक अनेकानेक जीव इस पृथ्वी पर अपने कर्मानुसार आये विकास किये और एक निश्चित अवधि के बाद इस धराधाम से चले भी गये | श्री राम , श्रीकृष्ण , हों या बुद्ध एवं महावीर जैसे महापुरुष इस विकास एवं विनाश (मृत्यु) से कोई भी नहीं बच पाया है | इसका मूल कारण यह है कि



हूणों की उत्पत्ति के विषय में विभिन्न मत प्राच्य और पाश्चात्य इतिहासकारों के हवाले से...

हूणों की उत्पत्ति के विषय में विभिन्न मत- शकृत,शबर,पोड्र,किरात,सिंहल,खस,द्रविड,पह्लव,चिंबुक, पुलिन्द, चीन , हूण,तथा केरल आदि जन-जातियों की काल्पनिक व्युत्पत्तियाँ- महाभारत ,वाल्मीकि रामायण तथा पुराणों के सन्दर्भों से उद्धृत करते हुए चीन के इतिहास से भी कुछ प्रकाशन किया है।यद्यपि ब्राह्मणों द्वारा



Sketches from Life: एक सुंदर जोड़ी

चंद्रा और मिसेज़ चंद्रा की जोड़ी चंद्रा साब ने गौर से अपना चौखटा शीशे में देखा. ओफ्फो मूंछ सही तरीके से काली नहीं हुई. एक बार फिर काली स्याही का ब्रश लगाया तो तसल्ली हुई. अब ठीक है. सर पर गिनती के बाल बचे हुए थे जिन्हें चंद्रा साब पहले ही का



पुरी: "श्री जगन्नाथ धाम"के बारे में कुछ दिलचस्प बातें

पुरी एक समुद्र तट का शहर है जहां जगन्नाथ मंदिर इसका सबसे प्रसिद्ध आकर्षण है। भगवान शिव के विश्राम स्थान के र



समोसे बेचने के लिए छोड़ी गूगल की नौकरी

मुनाफ ने फेसबुक प्रोफाईल पर लिखा है कि मैं वो व्यक्ति हूं । जिसने समोसे बेचने के लिए नौकरी छोड़दी । मुनाफ ने एमबिए किया उसके बाद । वे विदेस चले गए । कई जगहों पर इंटरव्यू दिया । उसके बाद उनको गूगल के अंदर नौकरी भी मिल गई। ‌‌‌लेकिन कुछ समय नौकरी करने के बाद मुनाफ को लगा कि वह इससे बेहतर कर सकता है। बस



सपना चौधरी कैसे बनी एक मसहूर डांस और सिंगर

सपना का जन्म और प्रारम्भिक लाईफ सपना का जन्म सन 1990 के अंदर हरियाणा के रोहत के अंदर हुआ था ।उनकी प्रारम्भिक शिक्षा भी वहीं पर हुई थी । सपना चौधरी एक मध्यमवर्ग परिवार से संबंधित है। और उनके पिता एक प्राईवेट कम्पनी के अंदर काम करते थे । सन 2002 के अंदर उनके पिता की मौत के बाद सारे घर ‌‌‌का भार उनके क



सागर की मच्छलियां

‌‌‌ एक बार सागर के अंदर काफी तेज तूफान आया और सागर की बहुत सारी मछलियां बाहर रेत पर निकल कर तड़प रही थी ।एक बच्चा यह देख तेजी सें दौड़ा और एक एक मछली को अंदर वापस फेंकने लगा । उसकी मां यह करते देख उसे बोली .... बेटा ऐसा करने से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है क्योंकि ‌‌‌इससे



गांव की यात्रा पर कुछ लम्हें ||

मैंने साईकिल उठाई और चल दिया रोज़ रोज़ की ज़िंदगी की वही पुनर्वित्तीयो से तंग आकर आज मन कुछ नया करने को कहा सो मैंने अपना कैमरा , साइकिल व अपनी डायरी उठाई और चल दिया अनजान राहो पर | अपने यूनिवर्सिटी से मै यही कोई 1.5 किमी दूर आया था की सामन



वैदिक समाधान गुरुकुलम vadik samadhan gurukulam

उन्मुक्त विकसित सहृदय था प्राचीन भारत-जो लोग भारत को पिछड़ा हुआ कहता हैं उन्हें प्राचीन भारत का अध्ययन करना चाहिए विशेषतः विदेशी यात्रियों के वृतांत का। ऐसा ही एक यात्री था चीनी यात्री ह्वेन त्सांग । उसने अपनी यात्रा 29 वर्ष की अवस्था में



एक चतुर बिज़नसमैन के सूझ-बूझ की कहानी

केरल में एक बड़ी फैक्ट्री का निर्माण हो रहा था और उस प्लांट को बनाने के दौरान एक बड़ी समस्या थी. वो समस्या ये थी कि एक भारी भरकम मशीन को प्लांट में बने एक गहरे गढ्ढे के तल में बैठाना था लेकिन मशीन का भारी वजन एक चुनौती बन कर उभरा. मशीन साईट पर आ तो गयी पर उसे 30 फीट गहर



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x