1


बरसाती वरदान नहीं अभिशाप बन गई हैं

बरसाती पानी से बचने के लिए वरदान थी बरसाती|घर की छतो, छप्परो में चिपकाना शान थी बरसाती|गल्ला मंडी, सब्जी मंडी में बनी रावटी में बरसाती|आटा चावल दाल मसाले कुरकुरे बंद हैं बरसाती में|नाम बदल बरसाती का पोलिबैग पोलिथीन कहने लगे|बना कर बरसाती की बोतल को रेल नीर कहने लगे|बन गई वरदान समाज के लिए खाली हाथ ब



वरदान हैं, माँ का दुध शिशु के लिए-Wardaan Hai Maa Ka Dudh Shishu Ke Liye

वरदान समान हैं, माँ का दुध नवजात शिशु के लिएशिशु के जन्मम के पश्चात स्तननपान एक स्वारभाविक क्रिया है। स्तननपान के बारे में सही ज्ञान के अभाव के कारण बच्चों में कुपोषण एवं संक्रमण जैसे रोग हो जाते है। स्तनपान की प्रक्रिया शिशु के लिए संरक्षण और संवर्धन का काम करता है।



"चरखा" 'कविता'

हे ! वरदानीतुम आनबसो !मेरे अंदर वो प्राण भरो ! कायर होता,मैंमन ही मनवीर सा तुमउत्कर्ष भरो ! हे ! मानव रक्षकअभिमानीविश्वास भरो !आभास भरो ! चित्त को पावन अब कर दो ! तुम अमृत वाणी ! कुछ कहके तुमजीवन का मार्गप्रशस्त्र करो !हे ! वरदानीतुम आनबसो !मेरे अ





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x