women



बंदिशें

"इस तन पर सजती दो आँखेंबोलो किस से ज्यादा प्रेम करोगे,काटना चाहो अपना एक हाथतो बोलो किस हाथ को चुनोगे "कुछ ऐसा ही होता है बेटी का जीवनसब कहते उसे पराया धनबचपन से ही सीखा दिए जाते हैंबंदिश में रहने के सारे फ़नएक कोख एक कुटुंब में जन्मेंफिर भी क्यों ये बेगानापन ?कुछ ऐसी थी उसकी कहानीजो थी महलों की रानी



महिलाओं में UTI की समस्या तथा उसका आयुर्वेदिक उपचार

वर्तमान समय की भागदौड़ भरे जीवन में यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (यूटीआई) महिलाओं की आम समस्या बन चुकी है। अस्वच्छ शैचालयों का उपयोग करना इस समस्या का सबसे बड़ा कारण माना जाता है। आज के समय में हर दूसरी नौकरी पेशा महिला इस समस्या से ग्रस्त है। हालांकि यह रोग ज्यादा गंभीर नहीं है लेकिन यदि समय पर ध्यान न द



Hindi poetry on women empowerment - आज की नारी ; अर्चना की रचना

महिला सशक्तिकरण पर हिंदी कविता आज की नारी मैं आज की नारी हूँ न अबला न बेचारी हूँ कोई विशिष्ठ स्थानन मिले चलता है फिर भी आत्म सम्मान बना रहा ये कामना दिल रखता है न ही खेला कभी women कार्ड मुश्किलें आयी हो चाहे हज़ार फिर भी कोई मेरी आवाज़ में आवाज़ मिलाये तो अच्छा लगता है



महिलाओ की शारीरिक समस्याएं तथा उनका समाधान

वर्तमान समय में महिलाएं भी काफी समस्याओं से ग्रसित हैं। हालांकि उनकी समस्याएं पुरुषों की अपेक्षा कुछ अलग होती हैं। महिलाओं की समस्याओं में उनके अनेक रोग तथा बीमारियां आती हैं। यहां हम महिलाओं के यौन रोगों के बारे में जानकारी प्रदान कर रहें हैं। आइये जानते हैं महिलाओं में होने वाली यौन समस्याओं के का



छोटे स्तनों की समस्या, कारण तथा उपचार

महिलाओं के स्तन उनके सौंदर्य तथा आकर्षक को बढ़ाते हैं। जिन महिलाओं के स्तन सुडौल होते हैं, उनकी खूबसूरती अलग ही दिखाई पड़ती है। प्रत्येक महिला सुंदर तथा सुडौल स्तन चाहती है लेकिन बहुत से कारणों के चलते कई महिलाओं के स्तनों को सही तथा पर्याप्त आकार नहीं मिल पाता है। इस कारण वे कई बार हीन भावना से भी ग्



महिला बांझपन की समस्या के लक्षण, कारण तथा उनका आयुर्वेदिक निदान

महिलाओं के जीवन में मां बनना सबसे बड़ा सुख माना जाता है लेकिन आजकल की आधुनिक जीवनशैली और अन्‍य कारणों की वजह से अब महिलाओं में बांझपन यानि इनफर्टिलिटी की समस्‍या बढ़ रही है। नपुंसकता की समस्या सिर्फ पुरुषों में ही नहीं होती बल्कि महिलाओं में भी होती है। महिला नपुंसकता की इस समस्या को समान्यतः बांझपन



महिलाओं में ल्यूकोरिया की समस्या तथा इसका आयुर्वेदिक समाधान

महिलाओं में होने वालील्यूकोरिया की समस्या एक आम समस्या है। यह अधिकतर महिलाओं या युवतियों को प्रभावितकरती है। ल्यूकोरिया को श्वेत प्रदर या सफ़ेद पानी की समस्या भी कहा जाता है। यहसमस्या अलग अलग कारणों से उत्पन्न होती है। अनियमित खानपान, बदलती जीवन शैली इस समस्याके प्रमुख कारण हैं। ल्यूकोरिया की समस्या



गर्भावस्था की समस्याएं तथा उनका आयुर्वेदिक समाधान

महिलाओं के लिए मां बनना किसी वरदान जैसाहोता है। लेकिन सामान्य महिला से मां बनने का यह सफ़र काफी मुश्किल होता है।गर्भावस्था में महिलाओं को कई प्रकार की शारीरिक तथा मानसिक समस्याओं का सामनाकरना होता है। यदि इस अवस्था में आयुर्वेदिक उपचार लिया जाए तो GynecologicalDisorders में अत्यंत लाभ प्राप्त होता है



Business Ideas for women in detail

Business Ideas for women -अगर आप एक महिला हैं और एक बिज़नेस शुरू करना चाहती हैं तो ये लेख जरूर पढ़ें best Business Ideas for women in hindi आज भी दुनिया में लोगों का मानना है कि किसी भी बिज़नेस को सिर्फ पुरुष ही शुरू कर सकते है या फिर बेहतर तरीके से सम्हाल सकते हैं | आज के बढ़ते समय में भी बिज़नेस या बाह



महिलाओं में कमजोरी के कारण तथा उनका सरल समाधान

महिलाओं में कमजोरी एक आम समस्या है।महिलाओं की शारीरिक संरचना पुरुषों से भिन्न होती है इसलिए महिलाओं में कमजोरी भीअलग कारणों से होती है। महिलाओं को प्रति माह मासिक धर्म का सामना करना होता हैतथा बच्चे को भी जन्म देना पड़ता है अत: यह माना जाता है की ये चीजें भी WomenWellness को काफी प्रभावित करती हैं। म



स्तनों को बढ़ाने का सरल तथा प्रभावी आयुर्वेदिक उपाय

किसी भी महिला के आकर्षक व्यक्तित्व मेंउसके स्तन भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। सुडौल स्तनों को महिलाओं की सुंदरताके लिए परिभाषित किया जाता है। देखा जाए तो प्रत्येक महिला सुंदर तथा सुडौल स्तनचाहती है लेकिन बहुत सी महिलाओं के स्तनों का आकार पर्याप्त नहीं होता है। इस कारणवे हीन भावना से भी ग्रसित हो



A Hindi poetry on International women day - क्यों ; अर्चना की रचना

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर हिंदी कविता क्यों क्यों एक बेटी की विदाई तक ही एक पिता उसका जवाबदार है ?क्यों किस्मत के सहारे छोड़ कर उसको कोई न ज़िम्मेदार है?क्यों घर बैठे एक निकम्मे लड़के पर वंश का दामोदर है ?क्यों भीड़ चीरती अपना आप खुद लिखती ए



स्तनों की प्राकृतिक वृद्धि का आयुर्वेदिक समाधान

प्रत्येक महिला सुंदर दिखना चाहती है और सुंदर दिखाई पड़ने के लिए हर महिला खुद के शरीर को सुडौल बनाए रखती है। हर महिलायें अपनी काया का विशेष ध्यान रखती है पर प्रकृतिक देन से वो तब हार मान जाती है जब उनकी बेडोल काया को लेकर शर्मिंदगी महसूस करती है या फिर वे औरतें जिनके स्‍तन देखने में छोटे लगते हैं। इन्



Hindi poetry on life of river and women - शिवांशी ; अर्चना की रचना

नदी और स्त्री जीवन को दर्शाती हिंदी कविता शिवांशी मैं शिवांशी , जल की धार बन शांत , निश्चल और धवल सी शिव जटाओं से बह चली हूँ अपने मार्ग खुद ढूँढती और बनातीआत्मबल से भरपूर खुद अपना ही साथ लिए बह चली हूँ कभी किसी कमंडल में पूजन को ठहर गई हूँ कभी नदिया बन किसी सागर में विलय



Hindi poetry on woman - मेरे जैसी मैं ; अर्चना की रचना

नारी पर आधारित एक विचारणीय हिंदी कविता मेरे जैसी मैं मैं कहाँ मेरे जैसी रह गयी हूँ वख्त ने बदल दिया बहुत कुछमैं कोमलांगना से काठ जैसी हो गई हूँमैं कहाँ मेरे जैसी रह गयी हूँ समय के साथ बदलती विचारधारा ने मेरे कोमल स्वरुप कोएक किवाड़ के पीछे बंद तो कर दिया है पर मन से आज



Archana Ki Rachna: Preview " मेरी ज़िन्दगी का रावण "

अपनी ज़िन्दगी के रावणअब मुझे जलाने हैंमान मर्यादा लोक लाजके बंधन अब मुझेभुलाने हैंमैं प्यारी और दुलारी थीजब तक अपनीउपेक्षा सेहती रहीतुम्हारे बेटा बेटी के दुर्भाव मेंमैं अपने अधिकार छोड़ती रहीतुम्हारी इस मानसिक सोचसे मुखौटे अब हटाने हैंअपनी ज़िन्दगी के रावणअब मुझे जलाने हैंतु



स्त्रियों के लिए आज भी सुरक्षित नहीं माहौल

आज के दौर में भले ही स्त्रियों ने अपनी काबिलियत से हर क्षेत्र में परचम लहराया हो, लेकिन फिर भी देश का माहौल उनके लिए आज भी सुरक्षित नहीं है। आज के समय में भी जब एक लड़की घर से निकलती है तो उसके वापिस लौट आने तक उसके माता-पिता को चिंता ही लगी रहती है। इतना ही नहीं, बहुत से क्षेत्र में माता-पिता अपनी ल



महिला दिवस पर विशेषः कभी खुद के लिए भी जीने दो

स्त्री, कहने को भले ही एक छोटा सा नाम लेकिन मानो उसमें पूरा संसार समाया है। वह एक बेटी है, एक पत्नी, एक बहू और एक मां और न जाने कितने ही रूपों में वह अपने कत्र्तव्यों का निर्वहन चुपचाप करती है। फिर चाहे स्त्री गृहिणी हो या कामकाजी, वह दुनिया की एक ऐसी इंसान है, जिसके नसीब में कभी छुट्टी नहीं लिखी हो



बेटियां अच्छी, लेकिन चाह फिर भी एक बेटे की ही

आज अंतरराष्टीय महिला दिवस के दिन जब पूरे विश्व में महिलाओं की कामयाबी, उनके गुणों व क्षमताओं का बखान किया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर फिर भी लोग मन ही मन एक बेटे की ही आस करते हैं। यह सच है कि आज के समय में स्त्रियों ने अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन हर मोर्चे पर किया है। मैरी काॅम से लेकर मानुषी छिल्लर, हि



अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (Happy Women's Day)

आज पूरा विश्व अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस(Happy Women's Day) मना रहा है, इसी को ध्यान में रखते हुए गूगल ने भी अपना आज का डूडल (Google’s Doodles) महिलाओं के नाम समर्पित किया है और नारी के प्रति अपने सम्मान को बताया है। गूगल में बेहतरीन तरीके से लगभग 14 भाषाओं में महिलाओं



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x